Adv Rakesh kumar soni

Adv Rakesh kumar soni

इक बंधन अहसास का...

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

"#NojotoVideoUpload"

#NojotoVideoUpload

 

41 Love
1.0K Views

""

"जय जय राम ©Adv Rakesh kumar soni"

जय जय राम

©Adv Rakesh kumar soni

 

29 Love

""

"सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदाबहार रहे.. ख़ुदा करे तेरे दामन में,अम्भसार रहे.. गमों की काली घटा,तुझको छू ना पाये कभी तेरे नयन से कोई अश्क़,बह ना पाये कभी तेरे चिराग़ हों रोशन सदा उजियार रहे.. सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदा बहार रहे.. तुम्हारी राह के काटें भी,फूल बन के खिलें जो तेरे ख्वाबों में आ जाये, वो हर चीज मिले अमर सुहाग हो तेरा,सुखी संसार रहे.. सुन ओ सुधा तेरी बगिया,सदा बहार रहे.. तेरा बेटा तेरी बेटी, तेरी पहचान बने तेरा हमदम तेरा साजन,तेरा सम्मान बने तेरा पिया भी सदा तुझपे जां निसार रहे.. सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदाबहार रहे.. कभी ना एक भी पल बहना,तू उदास रहे लबों पे मेरे तेरी खुशियों की सदा अरदास रहे.. तू मुस्कुराये हमेशा दिलों में प्यार रहे.. सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदाबहार रहे.. ©Adv Rakesh kumar soni"

सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदाबहार रहे.. 
ख़ुदा करे तेरे दामन में,अम्भसार रहे..

गमों की काली घटा,तुझको छू ना पाये कभी 
तेरे नयन से कोई अश्क़,बह ना पाये कभी 
तेरे चिराग़ हों रोशन सदा उजियार रहे.. 
सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदा बहार रहे.. 

तुम्हारी राह के काटें भी,फूल बन के खिलें 
जो तेरे ख्वाबों में आ जाये, वो हर चीज मिले 
अमर सुहाग हो तेरा,सुखी संसार रहे.. 
सुन ओ सुधा तेरी बगिया,सदा बहार रहे.. 

तेरा बेटा तेरी बेटी, तेरी पहचान बने 
तेरा हमदम तेरा साजन,तेरा सम्मान बने 
तेरा पिया भी सदा तुझपे जां निसार रहे.. 
सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदाबहार रहे..

कभी ना एक भी पल बहना,तू उदास रहे 
लबों पे मेरे तेरी खुशियों की सदा अरदास रहे.. 
तू मुस्कुराये हमेशा दिलों में प्यार रहे.. 
सुन ओ सुधा तेरी बगिया सदाबहार रहे..

©Adv Rakesh kumar soni

#Bhaidooj

29 Love
3 Share

रामायण

28 Love
774 Views

""

"जिंदगी को समझने को लाखों गुजर गईं जिंदगियाँ.. अफ़सोस जिंदगी कल भी पहेली थी जिंदगी आज भी एक पहेली है.. ये कब किसी की सुनती है मन का घोड़ा दौड़ता है ये उस पर सवार चलती है बड़ी चुलबुली बड़ी अलबेली है. कौन समझा है जिन्दगी का फ़लसफ़ा क्या है सुखों में कुछ औऱ दुखों में कुछ औऱ ही लगती है मग़र सुख दुख की सहेली है.. वक़्त बदले करवटें तब इसके रंग बदलते हैं कभी मिज़ाज रंगीन कभी रंगहीन लगती है मानो जिन्दगी अकेली है.. वक़्त औऱ हालात के दो पाटों में दिन रात घूमती है कभी पिसती है कभी निकलती है जैसे कोई अटखेली है. अफ़सोस ये जिन्दगी कल भी पहेली थी जिन्दगी आज भी पहेली है.. ©Adv Rakesh kumar soni"

जिंदगी को समझने को लाखों गुजर गईं जिंदगियाँ..
अफ़सोस जिंदगी कल भी पहेली थी
 जिंदगी आज भी एक पहेली है.. 

ये कब किसी की सुनती है मन का घोड़ा दौड़ता है
 ये उस पर सवार चलती है 
बड़ी चुलबुली बड़ी अलबेली है. 

कौन समझा है जिन्दगी का फ़लसफ़ा क्या है
 सुखों में कुछ औऱ दुखों में कुछ औऱ ही लगती है
 मग़र सुख दुख की सहेली है.. 

वक़्त बदले करवटें तब इसके रंग बदलते हैं 
कभी मिज़ाज रंगीन कभी रंगहीन लगती है 
मानो जिन्दगी अकेली है.. 

वक़्त औऱ हालात के दो पाटों में 
दिन रात घूमती है कभी पिसती है कभी निकलती है 
जैसे कोई अटखेली है. 

अफ़सोस ये जिन्दगी कल भी पहेली थी
 जिन्दगी आज भी पहेली है..

©Adv Rakesh kumar soni

#InternationalMensDay2020

27 Love