Roopanjali singh Parmar (रूप की बातें)

Roopanjali singh Parmar (रूप की बातें)

journalist

www.instagram.com/roop_ki_baatein

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"सुनो, अब सब ठीक है, बस मैं मुस्कुराना भूल गयी हूँ।"

सुनो,

अब सब ठीक है, बस मैं मुस्कुराना भूल गयी हूँ।

#रूपकीबातें

25 Love

"उसने जी भर कर देखा मुझको, फिर यूँ हुआ कि उसको मुझसे मोहब्बत हो गयी।"

उसने जी भर कर देखा मुझको,
फिर यूँ हुआ कि उसको मुझसे मोहब्बत हो गयी।

#रूपकीबातें

21 Love

"मैं गुलमोहर हूँ (कृप्या अनुशीर्षक में पढ़ें)"

मैं गुलमोहर हूँ

(कृप्या अनुशीर्षक में पढ़ें)

हमेशा की तरह आज फिर एक बार तुमने मुझसे अपने प्यार का इज़हार किया और हमेशा की तरह मैंने मुस्कुराकर केवल तुम्हारा शुक्रिया अदा किया।
सिर्फ इसलिए कि मुझे तुमसे प्यार नहीं है मैं कोई वादा नहीं करती, ऐसा कोई वादा जो में निभा ना सकूँ.. या यह कहूँ की कोई फरेब नहीं चाहती मैं।

लेकिन यह भी सच है कि मुझे परवाह है उस प्यार की जो तुम्हें है मुझसे।
तुम इस बात से तो हमेशा ही निष्फिक्र रहना की मैं किसी और को ना चाहने लगूँ।
कहीं किसी और के प्रेम में ना बंध जाऊं।
नहीं, ऐसा कभी नहीं होगा।
तुम्हारी एकतरफा मोहब्बत में कुछ वफ़ा मैं भी निभाऊंगी। अगर प्यार करना ही होगा तो तुम्हें ही चाहूंगी।
लेकिन इस सब से परे एक सच यह भी है कि मेरी नज़र में तुम सर्वोपरि हो, तुम खास हो, और हमेशा रहोगे। तुम्हारी परवाह मुझे भी उतनी ही है, जितनी तुम्हें मेरी है। मुझे भी तुम्हारा ख़्याल हर वक़्त होता है।
तुम क्या पहनते हो, तुम क्या खाते हो, तुम ठीक हो या नहीं, तुम्हारी हर ज़रूरत.. इस सब का पूरा हिसाब रखती हूँ और हमेशा रखूँगी।
अगर ये मोहब्बत है तो.. हाँ शायद मुझे भी तुमसे मोहब्बत है।
लेकिन मेरी ये मोहब्बत तुमसे किसी बंधन की उम्मीद नहीं करती है। तुम पर हक़ जताने के लिए मुझे किसी वज़ह की ज़रूरत नहीं है।
सच बताऊं तो तुम्हें चाहने के लिए मुझे तुम्हारी ज़रूरत नहीं है।
तुम खुश रहो, फिर चाहे किसी के भी साथ रहो।
तुम जब भी लड़खड़ाओ, कोई हाथ तुम्हें थाम ले.. फिर चाहे वो मेरा हाथ हो या किसी और का।
मैं तुम्हारी ज़िन्दगी का गुलाब नहीं.. गुलमोहर हूँ..
जितनी तेज धूप उतना गहरा रंग..

#रूपकीबातें

19 Love

"जब हम शायद 7 या 8 साल के थे तब की एक तस्वीर है हमारी...... जिसमें हम लहंगे के ऊपर स्कूल का स्वेटर पहन के खड़े हैं। फुल मेकअप है चहरे पर, यह तस्वीर स्वेटर की वजह से फनी लगती है, वो भी स्कूल यूनिफार्म का स्वेटर। यह तस्वीर किसी एनुअल फंक्शन की है जिसमें हमने डांस किया था। दरअसल जब सब हमारे डांस को देख रहे थे, तब केवल एक शख्स हमारे डांस के ख़त्म होने का इन्तजार कर रहे थे, क्योंकि तब मौसम सर्दियों का था। वो हैं पापाजी.... जब हम डांस करने के बाद स्टेज से उतरे तो पापाजी ने सबसे पहले स्वेटर पहनाया। तस्वीर भी खिंचने नहीं दी। स्वेटर भी स्कूल यूनिफार्म का था, क्योंकि स्कूल यूनिफार्म में ही स्कूल जाना था और फिर वहाँ तैयार होने के वक़्त लहंगा पहनना था। उनको कुछ ना मिला तो यूनिफार्म का स्वेटर ही पहना दिया। पिता के प्यार को शब्दों की ज़रूरत नहीं होती, आप गौर करिए तो हर चीज में प्यार है। हर काम हर बात में प्यार है।"

जब हम शायद 7 या 8 साल के थे तब की एक तस्वीर है हमारी...... जिसमें हम लहंगे के ऊपर स्कूल का स्वेटर पहन के खड़े हैं। फुल मेकअप है चहरे पर, यह तस्वीर स्वेटर की वजह से फनी लगती है, वो भी स्कूल यूनिफार्म का स्वेटर।

यह तस्वीर किसी एनुअल फंक्शन की है जिसमें हमने डांस किया था।
दरअसल जब सब हमारे डांस को देख रहे थे, तब केवल एक शख्स हमारे डांस के ख़त्म होने का इन्तजार कर रहे थे, क्योंकि तब मौसम सर्दियों का था।
वो हैं पापाजी....

जब हम डांस करने के बाद स्टेज से उतरे तो पापाजी ने सबसे पहले स्वेटर पहनाया। तस्वीर भी खिंचने नहीं दी।
स्वेटर भी स्कूल यूनिफार्म का था, क्योंकि स्कूल यूनिफार्म में ही स्कूल जाना था और फिर वहाँ तैयार होने के वक़्त लहंगा पहनना था। उनको कुछ ना मिला तो यूनिफार्म का स्वेटर ही पहना दिया।
पिता के प्यार को शब्दों की ज़रूरत नहीं होती, आप गौर करिए तो हर चीज में प्यार है। हर काम हर बात में प्यार है।

#रूपकीबातें

14 Love

"मुझे पढ़ने के बाद तुम्हें या तो उससे मोहब्बत हो जाएगी, या मुझसे.... लेकिन मोहब्बत तो होगी।"

मुझे पढ़ने के बाद तुम्हें या तो उससे मोहब्बत हो जाएगी, या मुझसे....
लेकिन मोहब्बत तो होगी।

#रूपकीबातें

12 Love