tags

New ambedkar jayanti wishes in english Status, Photo, Video

Find the latest Status about ambedkar jayanti wishes in english from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • Latest
  • Video

"Dr B R Ambedkar Jayanti 2020 B.R. Ambedkar, popularly known as Babasaheb Ambedkar, was an economist, politician, and social reformer who fought for the rights of the Dalit community who were considered as untouchables back in the day (they are still considered untouchables in certain parts of the country). A principal architect of the Constitution of India, Ambedkar also advocated for women’s rights and labours’ rights. Recognised as the first Law and Justice Minister of Independent India, Ambedkar’s contribution to construct the entire concept of Republic of India is immense. To honour his contribution and service to the country, his birthday is celebrated every year on the 14th of April. official manoj Nautiyal"

Dr B R Ambedkar Jayanti 2020

B.R. Ambedkar, popularly known as Babasaheb Ambedkar, was an economist, politician, and social reformer who fought for the rights of the Dalit community who were considered as untouchables back in the day (they are still considered untouchables in certain parts of the country). A principal architect of the Constitution of India, Ambedkar also advocated for women’s rights and labours’ rights.

Recognised as the first Law and Justice Minister of Independent India, Ambedkar’s contribution to construct the entire concept of Republic of India is immense. To honour his contribution and service to the country, his birthday is celebrated every year on the 14th of April.



official manoj Nautiyal

#leaf Dr B R Ambedkar Jayanti 2020

B.R. Ambedkar, popularly known as Babasaheb Ambedkar, was an economist, politician, and social reformer who fought for the rights of the Dalit community who were considered as untouchables back in the day (they are still considered untouchables in certain parts of the country). A principal architect of the Constitution of India, Ambedkar also advocated for women’s rights and labours’ rights.

Recognised as the first Law and Justice Minister of Independent Indi

17 Love

"english हमेशा attitude में रही आजाद भारत पर रौब दिखा रही थी अंग्रेजो से तो आजादी ले ली भारत ने पर अंग्रेजी अपना ली ये कैसी आजादी थी भावनायें तो भारतीय पर शब्द english हो चले थे । भारत आजादी का जश्न मना रहा था english जोरों से smlile कर रही थी और हिंदी की तरफ देख कर इतरा रही थी उस वक्त english के तेवर कुछ अच्छे नहीं थे अब भारत पूरी तरह से India बन चुका था और अब आजादी का जश्न भारत और India दोनों ही मनारहे थे। पर हिन्दी उदास थी उसे आजादी की कम खुशी न थी पर भारत भारत रह कर आजादी मनाता तो आजादी 1000 गुना और बढ़ जाती । हिन्दी ने आजादी की जंग सुरू की पर उसकी सुनवाई नहीं हुई। लोगों के english के मद ने उसकी आवाज दबा दी और आज भी परिस्थिती जस की तस है हिन्दी आज भी आजाद भारत में आजादी की जंग लड़ रही हैं है न कितने बिडब्ना की बात कि हिंन्दी को अपने ही देश में अपने लिये अपने लोगों से लड़ना पड़ रहा है। आप हिन्दी के लिये किसी हिन्दी दिवस का इंतजार न करें और हक से कहें कि हम भारतीय है और हिंदी है हिन्दी हमारे दिल की भाषा है इसे सम्मान से अपनायें और सम्मान दें। अगर आप दो चार या 10 या और अधिक भाषायें जानते त कोई गलत बात नहीं है पर दोगला व्वहार न करे हिन्दी से किनारा या हिन्दी का अपमान या फिर हिन्दी को कम आँकना जैसे दुर्वव्यहार से बचे हिन्दी ही हमारी भाषा है और english विदेशी इस बात को हमेशा याद रखें गैरो के लिये अपनों को तकलीफ न पहुँचायें। पारुल शर्मा जय हिन्द जय हिन्दी वंदे मातरम्"

english हमेशा attitude में रही आजाद भारत पर रौब दिखा रही थी अंग्रेजो से तो आजादी ले ली भारत ने पर अंग्रेजी अपना ली ये कैसी आजादी थी भावनायें तो भारतीय पर शब्द english हो चले थे । भारत आजादी का जश्न मना रहा था english जोरों से smlile कर रही थी और हिंदी की तरफ देख कर इतरा रही थी उस वक्त english के तेवर कुछ अच्छे नहीं थे अब भारत पूरी तरह से India बन चुका था और अब आजादी का जश्न भारत और India दोनों ही मनारहे थे। पर हिन्दी उदास थी उसे आजादी की कम खुशी न थी पर भारत भारत रह कर आजादी मनाता तो आजादी 1000 गुना और बढ़ जाती । हिन्दी ने आजादी की जंग सुरू की पर उसकी सुनवाई नहीं हुई। लोगों के english के मद ने उसकी आवाज दबा दी और आज भी परिस्थिती जस की तस है हिन्दी आज भी आजाद भारत में आजादी की जंग लड़ रही हैं है न कितने बिडब्ना की बात कि हिंन्दी को अपने ही देश में अपने लिये अपने लोगों से लड़ना पड़ रहा है। 
आप हिन्दी के लिये किसी हिन्दी दिवस का इंतजार न करें और हक से कहें कि हम भारतीय है और हिंदी है हिन्दी हमारे दिल की भाषा है इसे सम्मान से अपनायें और सम्मान दें। अगर आप दो चार या 10 या और अधिक भाषायें जानते त कोई गलत बात नहीं है पर दोगला व्वहार न करे हिन्दी से किनारा या हिन्दी का अपमान या फिर हिन्दी को कम आँकना जैसे दुर्वव्यहार से बचे हिन्दी ही हमारी भाषा है और english विदेशी इस बात को हमेशा याद रखें गैरो के लिये अपनों को तकलीफ न पहुँचायें।
पारुल शर्मा
               जय हिन्द जय हिन्दी 
वंदे मातरम्

english बनाम हिन्दी @Poonam bagadia "punit" g @imrohii negi g
english हमेशा attitude में रही आजाद भारत पर रौब दिखा रही थी अंग्रेजो से तो आजादी ले ली भारत ने पर अंग्रेजी अपना ली ये कैसी आजादी थी भावनायें तो भारतीय पर शब्द english हो चले थे । भारत आजादी का जश्न मना रहा था english जोरों से smlile कर रही थी और हिंदी की तरफ देख कर इतरा रही थी उस वक्त english के तेवर कुछ अच्छे नहीं थे अब भारत पूरी तरह से India बन चुका था और अब आजादी का जश्न भारत और India दोनों ही मनारहे थे। पर हिन्दी उदास थी उसे आजादी

47 Love

"अमेरिका को English में America ही बोलते. जापान को भी English में Japan बोलते भूटान को भी English में Bhutan ही बोलते श्रीलंका को भी English में Sri Lanka ही बोलते. बांग्लादेश को भी English में Bangladesh ही बोलते नेपाल को भी English में Nepal ही बोलते. इतना ही नहीं अपने पडोसी मुल्क पाकिस्तान को भी English में Pakistan ही बोलते. फिर सिर्फ भारत को ही English में India क्यों बोलते ? तो Oxford Dictionary के अनुसार India यह शब्द कैसे आया यह ९९% लोगो को भी पता तक नहीं होगा... I - Independent N- Nation D- Declared I - In A- August इसीलिए इंडिया (India) दोस्तों इस पोस्ट को कृपया इतना शेयर करो की,इस 15 अगस्त तक ज्यादा से ज्यादा भारतीयों को यह पता चल सके...```"

अमेरिका को English में America ही बोलते.
जापान को भी English में Japan बोलते
भूटान को भी English में Bhutan ही बोलते
श्रीलंका को भी English में Sri Lanka ही बोलते.
बांग्लादेश को भी English में Bangladesh ही बोलते
नेपाल को भी English में Nepal ही बोलते.
इतना ही नहीं अपने पडोसी मुल्क पाकिस्तान को भी English में Pakistan ही बोलते.
फिर सिर्फ भारत को ही English में India क्यों बोलते ?
तो Oxford Dictionary के अनुसार
India यह शब्द कैसे आया यह ९९% लोगो को भी पता तक नहीं होगा...
I - Independent
N- Nation
D- Declared
I - In
A- August
इसीलिए इंडिया (India)
दोस्तों 
इस पोस्ट को कृपया इतना शेयर करो की,इस 15 अगस्त तक ज्यादा से ज्यादा भारतीयों को यह पता चल सके...```

#Thrilled @नयनसी परमार @Dev Faizabadi @@_mâńńïsh @Anu Alewar @Vandna Sood Topa

18 Love
1 Share

English Poetry | Poetry In English | english poetry video | english poetry status | english poetry video download | best english poetry. #Genesis19 #Englishpoetry #nojoto

english poetry | Nojoto open mic GENESIS' 19

42 Love
1.7K Views
2 Share

"I asked myself, “Why do I want to teach people about the Fearless English™ system? Why do I want to connect with more people? What do I want to contribute? What do I want to accomplish?” Better goals instantly came to my mind, including:🔥🔥 • I want to inspire people and change their lives! • I want to awaken people’s passion and love of learning. • I want to awaken their imaginations! • I want to heal their English trauma! • I want to totally change the way people learn English. • I want to help people achieve their dreams using English as a tool! • I want to build an internationalfamily of super enthusiastic learners! • I want to give people incredibly positive & powerful emotional experiences! • I want to give them happiness, laughter, passion, and powerful confidence. • I want to free people from doubt, from insecurity, from boredom, from hesitancy. • I want to help them achieve their dreams! Now these were exciting goals! These goals immediately gave me energy and power. They made me want to jump out of bed and get to work! They made me want to do a fantastic job as a teacher. They inspired me to learn and grow better and better. They made me want to create an amazing demonstration – not just some boring lecture. Such is the power of big and meaningful goals. Why do you want to learn English? What is the most exciting outcome you canimagine speaking English will bring you? What truly inspires you about learning English? Think bigger. Dream bigger! Do yourself a favor: Choose big, audacious, powerful goals for learning English. Ignite your passion!"

I asked myself, “Why do I want to teach people about the Fearless English™ system? Why do I want to connect with more people? What do I want to contribute? What do I want to accomplish?” 
Better goals instantly came to my mind, including:🔥🔥
 • I want to inspire people and change their lives!
• I want to awaken people’s passion and love of learning.  
• I want to awaken their imaginations!  
• I want to heal their English trauma! 
• I want to totally change the way people learn English. 
• I want to help people achieve their dreams using English as a tool!  
• I want to build an internationalfamily of super enthusiastic learners!  
• I want to give people incredibly positive & powerful emotional experiences!  
• I want to give them happiness, laughter, passion, and powerful confidence. 
• I want to free people from doubt, from insecurity, from boredom, from hesitancy.  
• I want to help them achieve their dreams!  
Now these were exciting goals! These goals immediately gave me energy and power. They made me want to jump out of bed and get to work! They made me want to do a fantastic job as a teacher. They inspired me to learn and grow better and better. They made me want to create an amazing demonstration – not just some boring lecture. 
Such is the power of big and meaningful goals. Why do you want to learn English? What is the most exciting outcome you canimagine speaking English will bring you? What truly inspires you about learning English? Think bigger. Dream bigger! 
Do yourself a favor: Choose big, audacious, powerful goals for learning English. Ignite your passion!

 

8 Love

"Dr B R Ambedkar Jayanti 2020 B.R. Ambedkar, popularly known as Babasaheb Ambedkar, was an economist, politician, and social reformer who fought for the rights of the Dalit community who were considered as untouchables back in the day (they are still considered untouchables in certain parts of the country). A principal architect of the Constitution of India, Ambedkar also advocated for women’s rights and labours’ rights. Recognised as the first Law and Justice Minister of Independent India, Ambedkar’s contribution to construct the entire concept of Republic of India is immense. To honour his contribution and service to the country, his birthday is celebrated every year on the 14th of April. official manoj Nautiyal"

Dr B R Ambedkar Jayanti 2020

B.R. Ambedkar, popularly known as Babasaheb Ambedkar, was an economist, politician, and social reformer who fought for the rights of the Dalit community who were considered as untouchables back in the day (they are still considered untouchables in certain parts of the country). A principal architect of the Constitution of India, Ambedkar also advocated for women’s rights and labours’ rights.

Recognised as the first Law and Justice Minister of Independent India, Ambedkar’s contribution to construct the entire concept of Republic of India is immense. To honour his contribution and service to the country, his birthday is celebrated every year on the 14th of April.



official manoj Nautiyal

#leaf Dr B R Ambedkar Jayanti 2020

B.R. Ambedkar, popularly known as Babasaheb Ambedkar, was an economist, politician, and social reformer who fought for the rights of the Dalit community who were considered as untouchables back in the day (they are still considered untouchables in certain parts of the country). A principal architect of the Constitution of India, Ambedkar also advocated for women’s rights and labours’ rights.

Recognised as the first Law and Justice Minister of Independent Indi

17 Love

"english हमेशा attitude में रही आजाद भारत पर रौब दिखा रही थी अंग्रेजो से तो आजादी ले ली भारत ने पर अंग्रेजी अपना ली ये कैसी आजादी थी भावनायें तो भारतीय पर शब्द english हो चले थे । भारत आजादी का जश्न मना रहा था english जोरों से smlile कर रही थी और हिंदी की तरफ देख कर इतरा रही थी उस वक्त english के तेवर कुछ अच्छे नहीं थे अब भारत पूरी तरह से India बन चुका था और अब आजादी का जश्न भारत और India दोनों ही मनारहे थे। पर हिन्दी उदास थी उसे आजादी की कम खुशी न थी पर भारत भारत रह कर आजादी मनाता तो आजादी 1000 गुना और बढ़ जाती । हिन्दी ने आजादी की जंग सुरू की पर उसकी सुनवाई नहीं हुई। लोगों के english के मद ने उसकी आवाज दबा दी और आज भी परिस्थिती जस की तस है हिन्दी आज भी आजाद भारत में आजादी की जंग लड़ रही हैं है न कितने बिडब्ना की बात कि हिंन्दी को अपने ही देश में अपने लिये अपने लोगों से लड़ना पड़ रहा है। आप हिन्दी के लिये किसी हिन्दी दिवस का इंतजार न करें और हक से कहें कि हम भारतीय है और हिंदी है हिन्दी हमारे दिल की भाषा है इसे सम्मान से अपनायें और सम्मान दें। अगर आप दो चार या 10 या और अधिक भाषायें जानते त कोई गलत बात नहीं है पर दोगला व्वहार न करे हिन्दी से किनारा या हिन्दी का अपमान या फिर हिन्दी को कम आँकना जैसे दुर्वव्यहार से बचे हिन्दी ही हमारी भाषा है और english विदेशी इस बात को हमेशा याद रखें गैरो के लिये अपनों को तकलीफ न पहुँचायें। पारुल शर्मा जय हिन्द जय हिन्दी वंदे मातरम्"

english हमेशा attitude में रही आजाद भारत पर रौब दिखा रही थी अंग्रेजो से तो आजादी ले ली भारत ने पर अंग्रेजी अपना ली ये कैसी आजादी थी भावनायें तो भारतीय पर शब्द english हो चले थे । भारत आजादी का जश्न मना रहा था english जोरों से smlile कर रही थी और हिंदी की तरफ देख कर इतरा रही थी उस वक्त english के तेवर कुछ अच्छे नहीं थे अब भारत पूरी तरह से India बन चुका था और अब आजादी का जश्न भारत और India दोनों ही मनारहे थे। पर हिन्दी उदास थी उसे आजादी की कम खुशी न थी पर भारत भारत रह कर आजादी मनाता तो आजादी 1000 गुना और बढ़ जाती । हिन्दी ने आजादी की जंग सुरू की पर उसकी सुनवाई नहीं हुई। लोगों के english के मद ने उसकी आवाज दबा दी और आज भी परिस्थिती जस की तस है हिन्दी आज भी आजाद भारत में आजादी की जंग लड़ रही हैं है न कितने बिडब्ना की बात कि हिंन्दी को अपने ही देश में अपने लिये अपने लोगों से लड़ना पड़ रहा है। 
आप हिन्दी के लिये किसी हिन्दी दिवस का इंतजार न करें और हक से कहें कि हम भारतीय है और हिंदी है हिन्दी हमारे दिल की भाषा है इसे सम्मान से अपनायें और सम्मान दें। अगर आप दो चार या 10 या और अधिक भाषायें जानते त कोई गलत बात नहीं है पर दोगला व्वहार न करे हिन्दी से किनारा या हिन्दी का अपमान या फिर हिन्दी को कम आँकना जैसे दुर्वव्यहार से बचे हिन्दी ही हमारी भाषा है और english विदेशी इस बात को हमेशा याद रखें गैरो के लिये अपनों को तकलीफ न पहुँचायें।
पारुल शर्मा
               जय हिन्द जय हिन्दी 
वंदे मातरम्

english बनाम हिन्दी @Poonam bagadia "punit" g @imrohii negi g
english हमेशा attitude में रही आजाद भारत पर रौब दिखा रही थी अंग्रेजो से तो आजादी ले ली भारत ने पर अंग्रेजी अपना ली ये कैसी आजादी थी भावनायें तो भारतीय पर शब्द english हो चले थे । भारत आजादी का जश्न मना रहा था english जोरों से smlile कर रही थी और हिंदी की तरफ देख कर इतरा रही थी उस वक्त english के तेवर कुछ अच्छे नहीं थे अब भारत पूरी तरह से India बन चुका था और अब आजादी का जश्न भारत और India दोनों ही मनारहे थे। पर हिन्दी उदास थी उसे आजादी

47 Love

"अमेरिका को English में America ही बोलते. जापान को भी English में Japan बोलते भूटान को भी English में Bhutan ही बोलते श्रीलंका को भी English में Sri Lanka ही बोलते. बांग्लादेश को भी English में Bangladesh ही बोलते नेपाल को भी English में Nepal ही बोलते. इतना ही नहीं अपने पडोसी मुल्क पाकिस्तान को भी English में Pakistan ही बोलते. फिर सिर्फ भारत को ही English में India क्यों बोलते ? तो Oxford Dictionary के अनुसार India यह शब्द कैसे आया यह ९९% लोगो को भी पता तक नहीं होगा... I - Independent N- Nation D- Declared I - In A- August इसीलिए इंडिया (India) दोस्तों इस पोस्ट को कृपया इतना शेयर करो की,इस 15 अगस्त तक ज्यादा से ज्यादा भारतीयों को यह पता चल सके...```"

अमेरिका को English में America ही बोलते.
जापान को भी English में Japan बोलते
भूटान को भी English में Bhutan ही बोलते
श्रीलंका को भी English में Sri Lanka ही बोलते.
बांग्लादेश को भी English में Bangladesh ही बोलते
नेपाल को भी English में Nepal ही बोलते.
इतना ही नहीं अपने पडोसी मुल्क पाकिस्तान को भी English में Pakistan ही बोलते.
फिर सिर्फ भारत को ही English में India क्यों बोलते ?
तो Oxford Dictionary के अनुसार
India यह शब्द कैसे आया यह ९९% लोगो को भी पता तक नहीं होगा...
I - Independent
N- Nation
D- Declared
I - In
A- August
इसीलिए इंडिया (India)
दोस्तों 
इस पोस्ट को कृपया इतना शेयर करो की,इस 15 अगस्त तक ज्यादा से ज्यादा भारतीयों को यह पता चल सके...```

#Thrilled @नयनसी परमार @Dev Faizabadi @@_mâńńïsh @Anu Alewar @Vandna Sood Topa

18 Love
1 Share

English Poetry | Poetry In English | english poetry video | english poetry status | english poetry video download | best english poetry. #Genesis19 #Englishpoetry #nojoto

english poetry | Nojoto open mic GENESIS' 19

42 Love
1.7K Views
2 Share

"I asked myself, “Why do I want to teach people about the Fearless English™ system? Why do I want to connect with more people? What do I want to contribute? What do I want to accomplish?” Better goals instantly came to my mind, including:🔥🔥 • I want to inspire people and change their lives! • I want to awaken people’s passion and love of learning. • I want to awaken their imaginations! • I want to heal their English trauma! • I want to totally change the way people learn English. • I want to help people achieve their dreams using English as a tool! • I want to build an internationalfamily of super enthusiastic learners! • I want to give people incredibly positive & powerful emotional experiences! • I want to give them happiness, laughter, passion, and powerful confidence. • I want to free people from doubt, from insecurity, from boredom, from hesitancy. • I want to help them achieve their dreams! Now these were exciting goals! These goals immediately gave me energy and power. They made me want to jump out of bed and get to work! They made me want to do a fantastic job as a teacher. They inspired me to learn and grow better and better. They made me want to create an amazing demonstration – not just some boring lecture. Such is the power of big and meaningful goals. Why do you want to learn English? What is the most exciting outcome you canimagine speaking English will bring you? What truly inspires you about learning English? Think bigger. Dream bigger! Do yourself a favor: Choose big, audacious, powerful goals for learning English. Ignite your passion!"

I asked myself, “Why do I want to teach people about the Fearless English™ system? Why do I want to connect with more people? What do I want to contribute? What do I want to accomplish?” 
Better goals instantly came to my mind, including:🔥🔥
 • I want to inspire people and change their lives!
• I want to awaken people’s passion and love of learning.  
• I want to awaken their imaginations!  
• I want to heal their English trauma! 
• I want to totally change the way people learn English. 
• I want to help people achieve their dreams using English as a tool!  
• I want to build an internationalfamily of super enthusiastic learners!  
• I want to give people incredibly positive & powerful emotional experiences!  
• I want to give them happiness, laughter, passion, and powerful confidence. 
• I want to free people from doubt, from insecurity, from boredom, from hesitancy.  
• I want to help them achieve their dreams!  
Now these were exciting goals! These goals immediately gave me energy and power. They made me want to jump out of bed and get to work! They made me want to do a fantastic job as a teacher. They inspired me to learn and grow better and better. They made me want to create an amazing demonstration – not just some boring lecture. 
Such is the power of big and meaningful goals. Why do you want to learn English? What is the most exciting outcome you canimagine speaking English will bring you? What truly inspires you about learning English? Think bigger. Dream bigger! 
Do yourself a favor: Choose big, audacious, powerful goals for learning English. Ignite your passion!

 

8 Love