tags

zayn malik 2013 Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Best zayn malik 2013 Shayari, Status, Quotes, Stories & Poem.

  • Latest Stories

zayn malik sketch
zayn malik sketch by me
#Sketch
#Sketching
#Zayn
#icarusfalls #nojotophoto

6 Love
Hm jindgi ke ush ghadi ke Malik hai 
Jab jindgi ke do kinare 
Chahta to hai ek dusare se milna 
Hm ush pal ke aandhe mushafir han 
Jhan nadiyo ke do kinare chal padte han milne 
Ye jante huwe ki 
Din rat kabhi ek nahi ho sakta 
Chand or suraj kabhi mil nahi sakta 
Sare badlo ka rang ek sa nahi ho sakta 
Hm jindgi ke ush ghadi ke Malik han 
Jhan rahte han sang - sang 
Samajhte han aalag-aalag 
Jhan sapna kabhi apna nahi hota 
Apna kabhi praya nahi hota 
Jiwan ke sukh - dukh ka kabhi sangam nahi hota 
Kabhi hansh kr rona 
To kabhi rokar hanshana 
Ham jindgi ke ush ghadi ke Malik han 
Hm paida hote nahi ladne lagte han 
Jindgi ki jung bhari Mahphil se 
Bus aahi samajh aata hai 
Jeet lenge hm jeet lenge hm 
Jindgi ki jung se jindgi ki mod se jindgi ki pankh se 
Hm jindgi ke ush ghadi ke Malik han..! 
Chanda chale, chale re tara 
Nadiya chale, chale re dhara 
Tumko Chalna hoga 
Tumko Chalna hoga.... 
Ye song gun gunane ka man krta hai 😀
_MAHESH SAW (Jharkhand)

Jindgi ke rang se jeet lenge gam se _ poetry by Mahesh Saw _ jharkhand

3 Love
2 Share
In Just 5 Min, She Sings Top Romantic Bollywood Songs From 1964 To 2013 And It’s Perfect 
 OldSchoolTieIndia‘s recent video shows the talented singer Anumeha Bhasker singing the top Bollywood romantic songs from 1964 to 2013. She sings it effortlessly and the result is superb

In Just 5 Min, She Sings Top Romantic Bollywood Songs From 1964 To 2013 And It’s Perfect
OldSchoolTieIndia‘s recent video shows the talented singer Anumeha Bhasker singing the top Bollywood romantic songs from 1964 to 2013. She sings it effortlessly and the result is superb

10 Love

कविता- चलते रहो, चलते रहो.. चलते रहो।

हमारे वेदों का मूल सन्देश इन दो शब्दों में समाहित है....ऐसा मुझे लगता है। ये दो शब्द है चरैवेति चरैवेति। अर्थात चलते रहो चलते रहो।
यह जो कविता मैंने लिखी है, मेरी पहली कविता है। वर्ष 2013 में गहन निराशा के क्षणों में पहुंचने के बाद जब मैंने परिस्थितियों से हार मान ली थी तब किताबें पढ़ना और लिखना मेरे लिए उम्मीद की किरण बनकर आया। तो यह कविता जिसका शीर्षक है "चलते रहो चलते रहो" एक प्रेणादायक कविता है जबकि इसकी रचना निराशाजनक परिस्थितियों में हुई है। हरिवंश राय बच्चन जी की कविता "अग्निपथ,अग्निपथ, अग्निपथ" की शैली से यह प्रभावित है और साथ ही इसमें रबिन्द्रनाथ टैगोर जी के गीत एकला चलो रे की प्रतिध्वनि इसमें सुनाई देती है। पढिये।


तूफानों में तुम पलते रहो,
मुश्किलों में आगे बढ़ते रहो,
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

अतीत को तुम भूल जाओ,
वक़्त गुजरा जा रहा है।
वर्तमान में ही जीवन है,
हाँ, वही गुजरा जा रहा है।
जहाँ हो वही से तुम,
तुम आगे बढ़ते रहो,
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

जन्म तुम्हारा क्यों हुआ है?
क्या सिर्फ मरने को हुआ है??
अगर जीवन में लक्ष्य ना हो,
फिर तो जीवन व्यर्थ रहा है।
उस लक्ष्य को पाने को तुम
संघर्ष,कठिन-संघर्ष करते रहो।
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

कोशिशें तुम्हारी बेकार नही होगी,
जीत लो पहले तुम खुद को, फिर
दुनिया से कोई हार नही होगी।
अपनी सीमाओं से आगे बढ़ जाओ,
पंख नही तो क्या हुआ, तुम
अपने हौसलों से उड़ जाओ।
खुद पर अगर विश्वास हो,
फिर भले न कोई साथ हो, तुम
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।।

तूफानों में तुम पलते रहो,
मुश्किलों में आगे बढ़ते रहो,
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

-विकास रावल, 22 मार्च 2013.

4 Love
Trophies won by MS Dhoni as captain:

World T20 (2007)
CB Series (2008)
Compaq Cup (2009)
IPL (2010)
Asia Cup (2010)
CLT20 (2010)
World Cup (2011)
IPL (2011)
Champions Trophy (2013)
Celkon Cup (2013)
CLT20 (2014)
Asia Cup T20 (2016)
IPL (2018)

#CSKvSRH #SRHvCSK #IPL2018 #IPL

 

3 Love

zayn malik sketch
zayn malik sketch by me
#Sketch
#Sketching
#Zayn
#icarusfalls #nojotophoto

6 Love
Hm jindgi ke ush ghadi ke Malik hai 
Jab jindgi ke do kinare 
Chahta to hai ek dusare se milna 
Hm ush pal ke aandhe mushafir han 
Jhan nadiyo ke do kinare chal padte han milne 
Ye jante huwe ki 
Din rat kabhi ek nahi ho sakta 
Chand or suraj kabhi mil nahi sakta 
Sare badlo ka rang ek sa nahi ho sakta 
Hm jindgi ke ush ghadi ke Malik han 
Jhan rahte han sang - sang 
Samajhte han aalag-aalag 
Jhan sapna kabhi apna nahi hota 
Apna kabhi praya nahi hota 
Jiwan ke sukh - dukh ka kabhi sangam nahi hota 
Kabhi hansh kr rona 
To kabhi rokar hanshana 
Ham jindgi ke ush ghadi ke Malik han 
Hm paida hote nahi ladne lagte han 
Jindgi ki jung bhari Mahphil se 
Bus aahi samajh aata hai 
Jeet lenge hm jeet lenge hm 
Jindgi ki jung se jindgi ki mod se jindgi ki pankh se 
Hm jindgi ke ush ghadi ke Malik han..! 
Chanda chale, chale re tara 
Nadiya chale, chale re dhara 
Tumko Chalna hoga 
Tumko Chalna hoga.... 
Ye song gun gunane ka man krta hai 😀
_MAHESH SAW (Jharkhand)

Jindgi ke rang se jeet lenge gam se _ poetry by Mahesh Saw _ jharkhand

3 Love
2 Share
In Just 5 Min, She Sings Top Romantic Bollywood Songs From 1964 To 2013 And It’s Perfect 
 OldSchoolTieIndia‘s recent video shows the talented singer Anumeha Bhasker singing the top Bollywood romantic songs from 1964 to 2013. She sings it effortlessly and the result is superb

In Just 5 Min, She Sings Top Romantic Bollywood Songs From 1964 To 2013 And It’s Perfect
OldSchoolTieIndia‘s recent video shows the talented singer Anumeha Bhasker singing the top Bollywood romantic songs from 1964 to 2013. She sings it effortlessly and the result is superb

10 Love

कविता- चलते रहो, चलते रहो.. चलते रहो।

हमारे वेदों का मूल सन्देश इन दो शब्दों में समाहित है....ऐसा मुझे लगता है। ये दो शब्द है चरैवेति चरैवेति। अर्थात चलते रहो चलते रहो।
यह जो कविता मैंने लिखी है, मेरी पहली कविता है। वर्ष 2013 में गहन निराशा के क्षणों में पहुंचने के बाद जब मैंने परिस्थितियों से हार मान ली थी तब किताबें पढ़ना और लिखना मेरे लिए उम्मीद की किरण बनकर आया। तो यह कविता जिसका शीर्षक है "चलते रहो चलते रहो" एक प्रेणादायक कविता है जबकि इसकी रचना निराशाजनक परिस्थितियों में हुई है। हरिवंश राय बच्चन जी की कविता "अग्निपथ,अग्निपथ, अग्निपथ" की शैली से यह प्रभावित है और साथ ही इसमें रबिन्द्रनाथ टैगोर जी के गीत एकला चलो रे की प्रतिध्वनि इसमें सुनाई देती है। पढिये।


तूफानों में तुम पलते रहो,
मुश्किलों में आगे बढ़ते रहो,
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

अतीत को तुम भूल जाओ,
वक़्त गुजरा जा रहा है।
वर्तमान में ही जीवन है,
हाँ, वही गुजरा जा रहा है।
जहाँ हो वही से तुम,
तुम आगे बढ़ते रहो,
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

जन्म तुम्हारा क्यों हुआ है?
क्या सिर्फ मरने को हुआ है??
अगर जीवन में लक्ष्य ना हो,
फिर तो जीवन व्यर्थ रहा है।
उस लक्ष्य को पाने को तुम
संघर्ष,कठिन-संघर्ष करते रहो।
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

कोशिशें तुम्हारी बेकार नही होगी,
जीत लो पहले तुम खुद को, फिर
दुनिया से कोई हार नही होगी।
अपनी सीमाओं से आगे बढ़ जाओ,
पंख नही तो क्या हुआ, तुम
अपने हौसलों से उड़ जाओ।
खुद पर अगर विश्वास हो,
फिर भले न कोई साथ हो, तुम
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।।

तूफानों में तुम पलते रहो,
मुश्किलों में आगे बढ़ते रहो,
जीवन का सिद्धान्त यही है,
चलते रहो,चलते रहो,चलते रहो।

-विकास रावल, 22 मार्च 2013.

4 Love
Trophies won by MS Dhoni as captain:

World T20 (2007)
CB Series (2008)
Compaq Cup (2009)
IPL (2010)
Asia Cup (2010)
CLT20 (2010)
World Cup (2011)
IPL (2011)
Champions Trophy (2013)
Celkon Cup (2013)
CLT20 (2014)
Asia Cup T20 (2016)
IPL (2018)

#CSKvSRH #SRHvCSK #IPL2018 #IPL

 

3 Love