tags

New gicmart net Status, Photo, Video

Find the latest Status about gicmart net from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • Latest
  • Video

Bangalore Escorts | Escorts in Bangalore
Bangalore escort girls, our escort agency in Bangalore providing with Top Models, High Class Bangalore Escorts, The most of the best service escort in Bangalore.
https://bit.ly/3dxEWLG
http://www.bangaloreescorts.net.in/banaswadi-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/banaswadi-escorts.html
http://www.bangaloreescorts.net.in/bannerghatta-road-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/bannerghatta-road-escorts.html
http://www.bangaloreescorts.net.in/basaveshwaranagar-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/basaveshwaranagar-escorts.html
http://www.bangaloreescorts.net.in/benson-town-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/benson-town-escorts.html
http://www.bangaloreesco

3 Love

"घुँघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं कभी इस पग में कभी उस पग में बँधता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... कभी टूट गया कभी तोड़ा गया सौ बार मुझे फिर जोड़ा गया यूँ ही टूट-टूट के, फिर जुट-जुट के बजता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... मैं करता रहा औरों की कही मेरे मन की ये बात मन ही में रही है ये कैसा गिला जिसने जो कहा करता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... अपनों में रहे या ग़ैरों में घुँघरू की जगह तो है पैरों में कभी मन्दिर में कभी महफ़िल में सजता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... Lyrics in Unicode - Devanagari Lyrics: ghu.Ngharuu kii tarah bajataa hii rahaa huu.N mai.n kabhii is pag me.n kabhii us pag me.n ba.Ndhataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... kabhii TuuT gayaa kabhii to.Daa gayaa sau baar mujhe phir jo.Daa gayaa yuu.N hii TuuT-TuuT ke, phir juT-juT ke bajataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... mai.n karataa rahaa auro.n kii kahii mere man kii ye baat man hii me.n rahii hai ye kaisaa gilaa jisane jo kahaa karataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... apano.n me.n rahe yaa Gairo.n me.n ghu.Ngharuu kii jagah to hai pairo.n me.n kabhii mandir me.n kabhii mahafil me.n sajataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... कुछ और सुझाव / Related content: कुछ और सुझाव / Recommended for you दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आये क्यूँ - dil hii to hai na sa.ng-o-Kiisht dard se bhar na aaye kyuu.N / At Her Best Begum Akhtar (Non-Film) दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आ... www.lyricsindia.net ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa / ये दिल आशिक़ाना-(Yeh Dil Aashiqana) ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa... www.lyricsindia.net तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर होगा - tujhe dekh kar jag vaale par yakiin nahii.n kyo.n kar hogaa / Saavan Ko Aane Do तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर हो... www.lyricsindia.net गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh ghazal) - gulashan kii faqat phuulo.n se nahii.n ##(Jagjit Singh ghazal)## / गैर फिल्म-(Non-Film) गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh g... www.lyricsindia.net जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(Badlapur) जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(B... www.lyricsindia.net मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती - mere desh kii dharatii, sonaa ugale ugale hiire motii / उपकार-(Upkaar) मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती... www.lyricsindia.net ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde ham / दो आँखें बारह हाथ-(Do Ankhen Baarah Hath) ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde... www.lyricsindia.net AddThis Login Add a comment ADD COMMENT M ↓ MARKDOWN Commento Lyricsindia.net by Amit Chakradeo Creative Commons License Except where otherwise noted, content on this site is licensed under a Creative Commons Attribution 3.0 License 5 SHARES"

घुँघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं
कभी इस पग में कभी उस पग में बँधता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

कभी टूट गया कभी तोड़ा गया
सौ बार मुझे फिर जोड़ा गया
यूँ ही टूट-टूट के, फिर जुट-जुट के
बजता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

मैं करता रहा औरों की कही
मेरे मन की ये बात मन ही में रही
है ये कैसा गिला जिसने जो कहा
करता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

अपनों में रहे या ग़ैरों में
घुँघरू की जगह तो है पैरों में
कभी मन्दिर में कभी महफ़िल में
सजता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

 
Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
ghu.Ngharuu kii tarah bajataa hii rahaa huu.N mai.n
kabhii is pag me.n kabhii us pag me.n ba.Ndhataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

kabhii TuuT gayaa kabhii to.Daa gayaa
sau baar mujhe phir jo.Daa gayaa
yuu.N hii TuuT-TuuT ke, phir juT-juT ke
bajataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

mai.n karataa rahaa auro.n kii kahii
mere man kii ye baat man hii me.n rahii
hai ye kaisaa gilaa jisane jo kahaa
karataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

apano.n me.n rahe yaa Gairo.n me.n
ghu.Ngharuu kii jagah to hai pairo.n me.n
kabhii mandir me.n kabhii mahafil me.n
sajataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

 
 कुछ और सुझाव / Related content:

 
कुछ और सुझाव / Recommended for you
दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आये क्यूँ - dil hii to hai na sa.ng-o-Kiisht dard se bhar na aaye kyuu.N / At Her Best Begum Akhtar (Non-Film)
दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आ...
www.lyricsindia.net
ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa / ये दिल आशिक़ाना-(Yeh Dil Aashiqana)
ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa...
www.lyricsindia.net
तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर होगा - tujhe dekh kar jag vaale par yakiin nahii.n kyo.n kar hogaa / Saavan Ko Aane Do
तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर हो...
www.lyricsindia.net
गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh ghazal) - gulashan kii faqat phuulo.n se nahii.n ##(Jagjit Singh ghazal)## / गैर फिल्म-(Non-Film)
गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh g...
www.lyricsindia.net
जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(Badlapur)
जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(B...
www.lyricsindia.net
मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती - mere desh kii dharatii, sonaa ugale ugale hiire motii / उपकार-(Upkaar)
मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती...
www.lyricsindia.net
ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde ham / दो आँखें बारह हाथ-(Do Ankhen Baarah Hath)
ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde...
www.lyricsindia.net
AddThis
Login
Add a comment
ADD COMMENT
M ↓   MARKDOWN
Commento
Lyricsindia.net by Amit Chakradeo
 Creative Commons License Except where otherwise noted, content on this site is licensed under a Creative Commons Attribution 3.0 License
5
SHARES

 

6 Love
1 Share

"Trust me special thought Esa hona chahie ki agr kisi bhut dur k insan ko net chahie to vo kisi ese insan ko msg ya phone kr de📲 jiske pas net ho ki thoda sa net bhej de....... Fir samne vala usko 200,300,400ya jitni bhi mb vo bhejna chahe utne ka ek pouch✉️ bhej de....... Fir us pouch ka jb bhi istmal krna ho us pouch ko open krke net chala le.... 🎉 Isse bichare kisi dur k insan ko bhi kisi k wifi chalane ki jrurt nhi ho🙂or koi bhi apna bacha hua net bhej k bad me use vapas mang le to uska net bhi waist nhi hoga or jrurtmndo tk net bhi phuch jaega😎"

Trust me special thought                           
Esa hona chahie ki agr kisi bhut dur k insan ko net chahie to vo kisi ese insan ko msg ya phone kr de📲 jiske pas net ho ki thoda sa net bhej de.......

Fir samne vala usko 200,300,400ya jitni bhi mb vo bhejna chahe utne ka ek pouch✉️ bhej de.......
Fir us pouch ka  jb bhi istmal krna ho us pouch ko open krke net chala le.... 🎉

Isse bichare kisi dur k insan ko bhi kisi k wifi chalane ki jrurt nhi ho🙂or koi bhi apna bacha hua net bhej k bad me use vapas mang le to uska net bhi waist nhi hoga or jrurtmndo tk net bhi phuch jaega😎

#special thought

5 Love
1 Share

"😂😈😜इत्तु सी मस्ती breaking news के साथ।😜😈😂 गौर से देखये इस खतरनाक virus को,जी हाँ ये virus सब से खतरनाक हैं। जहाँ भी जाता हैं, सभी को रुलाता हैं। नाजाने क्या क्या बात लाता हैं,whatsapp, facebook hang तभी हो जाता हैं। ग़लत बात पर गुस्सा इतना आता हैं, जैसे 3 साल के बच्चे से चीजी छीन लो हो। घूमने का शोक भी रखता हैं friendzzzzz को कंगाल करके भी मन नहीं भरता हैं।ख़ौफ़ इसका इतना हैं व्हाट्सएप्प पर आते हैं, डरके सब भाग जाते हैं। Phone सब को प्यार हैं, virus को हराना हैं। और हाँ ये virus भी अनोखा हैं net पर खिल जाता हैं, मिलने पर शर्माता हैं। खिलते बोल net पर,मिलने पर लगा दिया हो ताला। शर्म भी इतनी की शर्म को भी शर्म आ जाये जितनी। सावधान हो जाये कही ये बिमारी आप को ना हो जाये। सावधान रहये सतर्क रहये virus कभी भी आ सकता हैं। फ़ोन को hang कर सकता हैं, आप को शर्म से मार सकता हैं।"

😂😈😜इत्तु सी मस्ती breaking news के साथ।😜😈😂
गौर से देखये इस खतरनाक virus को,जी हाँ ये virus सब से खतरनाक हैं। जहाँ भी जाता हैं, सभी को रुलाता हैं। नाजाने क्या क्या बात लाता हैं,whatsapp, facebook hang तभी हो जाता हैं।
ग़लत बात पर गुस्सा इतना आता हैं, जैसे 3 साल के बच्चे से चीजी छीन लो हो। घूमने का शोक भी रखता हैं friendzzzzz को कंगाल करके भी मन नहीं भरता हैं।ख़ौफ़ इसका इतना हैं व्हाट्सएप्प पर आते हैं, डरके सब भाग जाते हैं।
Phone सब को प्यार हैं, virus को हराना हैं।
और हाँ ये virus भी अनोखा हैं net पर खिल जाता हैं, मिलने पर शर्माता हैं।
खिलते बोल net पर,मिलने पर लगा दिया हो ताला।
शर्म भी इतनी की शर्म को भी शर्म आ जाये जितनी।

सावधान हो जाये कही ये बिमारी आप को ना हो जाये।
सावधान रहये सतर्क रहये virus कभी भी आ सकता हैं।
फ़ोन को hang कर सकता हैं, आप को शर्म से मार सकता हैं।

इत्तु सा पैग़ाम Harsh Vardhan के नाम।
@Nojoto">#@Nojoto #breakingNews #masti #Quotes
😂😈😜इत्तु सी मस्ती breaking news के साथ।😜😈😂

गौर से देखये इस खतरनाक virus को,जी हाँ ये virus सब से खतरनाक हैं। जहाँ भी जाता हैं, सभी को रुलाता हैं। नाजाने क्या क्या बात लाता हैं,whatsapp, facebook hang तभी हो जाता हैं।
ग़लत बात पर गुस्सा इतना आता हैं, जैसे 3 साल के बच्चे से चीजी छीन लो हो। घूमने का शोक भी रखता हैं friendzzzzz को कंगाल करके भी मन नहीं भरता हैं।ख़ौफ़ इसका इतना हैं व्हाट्सएप्प पर आते हैं, डरके सब भाग जाते हैं।
P

38 Love

"A FISHERMAN His weary face but undefeated eyes Rotten net but experienced hand Hovering over the life of liquid, His ray of vision Plunge into the atoms of water As an arrow plunges into ones hand Shattering his memories throughout invisible gas. The glittering sun and the wandering breeze Turn by turn kidding with his face His white old hair and toiled skin Reflects him more like a SELFISH GIANT And beneath the liquid Celebrated fishes and their beloved ones Observing the net to escape from it. The touch of 70's upon his face But the spirit of 20's inside his heart Makes him a true warrior And pulling the net towards his stomach To count the rupees, sticked on the net: He becomes an almighty's warrior! His grin challenging the rays of amber flame His old body and young shadow Performing "Struggle for Existence" Beneath a star and upon a planet And looking at his evolving body One might think that It is changing and growing older But the fact, changing it is not, but evolving! Glitters of water that is salty Shining on his face and throughout body As the eyes of an infant shine On being welcomed to this alien world And the dreams Of his small universe Evolving on his small hut Will be fulfilled SOMEDAY. - the_curiouspoet"

A FISHERMAN



His weary face but undefeated eyes
Rotten net but experienced hand 
Hovering over the life of liquid,
His ray of vision
Plunge into the atoms of water
As an arrow plunges into ones hand
Shattering his memories throughout invisible gas.

The glittering sun and the wandering breeze
Turn by turn kidding with his face
His white old hair and toiled skin
Reflects him more like a SELFISH GIANT
And beneath the liquid
Celebrated fishes and their beloved ones
Observing the net to escape from it.

The touch of 70's  upon his face
But the spirit of 20's inside his heart
Makes him a true warrior
And pulling the net towards his stomach
To count the rupees, sticked on the net:
He becomes an almighty's warrior!

His grin challenging the rays of amber flame
His old body and young shadow
Performing "Struggle for Existence"
Beneath a star and upon a planet
And looking at his evolving body 
One might think that
It is changing and growing older
But the fact, changing it is not, but evolving!

Glitters of water that is salty
Shining on his face and throughout body
As the eyes of an infant shine
On being welcomed to this alien world
And the dreams
Of his small universe
Evolving on his small hut
Will be fulfilled SOMEDAY.

- the_curiouspoet

#poem #fisherman #fish #poetry

4 Love
1 Share

Bangalore Escorts | Escorts in Bangalore
Bangalore escort girls, our escort agency in Bangalore providing with Top Models, High Class Bangalore Escorts, The most of the best service escort in Bangalore.
https://bit.ly/3dxEWLG
http://www.bangaloreescorts.net.in/banaswadi-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/banaswadi-escorts.html
http://www.bangaloreescorts.net.in/bannerghatta-road-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/bannerghatta-road-escorts.html
http://www.bangaloreescorts.net.in/basaveshwaranagar-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/basaveshwaranagar-escorts.html
http://www.bangaloreescorts.net.in/benson-town-escorts.html" class="tagAnchor" target="_blank" rel="noopener nofollow">http://www.bangaloreescorts.net.in/benson-town-escorts.html
http://www.bangaloreesco

3 Love

"घुँघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं कभी इस पग में कभी उस पग में बँधता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... कभी टूट गया कभी तोड़ा गया सौ बार मुझे फिर जोड़ा गया यूँ ही टूट-टूट के, फिर जुट-जुट के बजता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... मैं करता रहा औरों की कही मेरे मन की ये बात मन ही में रही है ये कैसा गिला जिसने जो कहा करता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... अपनों में रहे या ग़ैरों में घुँघरू की जगह तो है पैरों में कभी मन्दिर में कभी महफ़िल में सजता ही रहा हूँ मैं घुँघरू की तरह ... Lyrics in Unicode - Devanagari Lyrics: ghu.Ngharuu kii tarah bajataa hii rahaa huu.N mai.n kabhii is pag me.n kabhii us pag me.n ba.Ndhataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... kabhii TuuT gayaa kabhii to.Daa gayaa sau baar mujhe phir jo.Daa gayaa yuu.N hii TuuT-TuuT ke, phir juT-juT ke bajataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... mai.n karataa rahaa auro.n kii kahii mere man kii ye baat man hii me.n rahii hai ye kaisaa gilaa jisane jo kahaa karataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... apano.n me.n rahe yaa Gairo.n me.n ghu.Ngharuu kii jagah to hai pairo.n me.n kabhii mandir me.n kabhii mahafil me.n sajataa hii rahaa huu.N mai.n ghu.Ngharuu kii tarah ... कुछ और सुझाव / Related content: कुछ और सुझाव / Recommended for you दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आये क्यूँ - dil hii to hai na sa.ng-o-Kiisht dard se bhar na aaye kyuu.N / At Her Best Begum Akhtar (Non-Film) दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आ... www.lyricsindia.net ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa / ये दिल आशिक़ाना-(Yeh Dil Aashiqana) ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa... www.lyricsindia.net तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर होगा - tujhe dekh kar jag vaale par yakiin nahii.n kyo.n kar hogaa / Saavan Ko Aane Do तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर हो... www.lyricsindia.net गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh ghazal) - gulashan kii faqat phuulo.n se nahii.n ##(Jagjit Singh ghazal)## / गैर फिल्म-(Non-Film) गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh g... www.lyricsindia.net जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(Badlapur) जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(B... www.lyricsindia.net मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती - mere desh kii dharatii, sonaa ugale ugale hiire motii / उपकार-(Upkaar) मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती... www.lyricsindia.net ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde ham / दो आँखें बारह हाथ-(Do Ankhen Baarah Hath) ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde... www.lyricsindia.net AddThis Login Add a comment ADD COMMENT M ↓ MARKDOWN Commento Lyricsindia.net by Amit Chakradeo Creative Commons License Except where otherwise noted, content on this site is licensed under a Creative Commons Attribution 3.0 License 5 SHARES"

घुँघरू की तरह बजता ही रहा हूँ मैं
कभी इस पग में कभी उस पग में बँधता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

कभी टूट गया कभी तोड़ा गया
सौ बार मुझे फिर जोड़ा गया
यूँ ही टूट-टूट के, फिर जुट-जुट के
बजता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

मैं करता रहा औरों की कही
मेरे मन की ये बात मन ही में रही
है ये कैसा गिला जिसने जो कहा
करता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

अपनों में रहे या ग़ैरों में
घुँघरू की जगह तो है पैरों में
कभी मन्दिर में कभी महफ़िल में
सजता ही रहा हूँ मैं
घुँघरू की तरह ...

 
Lyrics in Unicode - Devanagari
Lyrics:
ghu.Ngharuu kii tarah bajataa hii rahaa huu.N mai.n
kabhii is pag me.n kabhii us pag me.n ba.Ndhataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

kabhii TuuT gayaa kabhii to.Daa gayaa
sau baar mujhe phir jo.Daa gayaa
yuu.N hii TuuT-TuuT ke, phir juT-juT ke
bajataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

mai.n karataa rahaa auro.n kii kahii
mere man kii ye baat man hii me.n rahii
hai ye kaisaa gilaa jisane jo kahaa
karataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

apano.n me.n rahe yaa Gairo.n me.n
ghu.Ngharuu kii jagah to hai pairo.n me.n
kabhii mandir me.n kabhii mahafil me.n
sajataa hii rahaa huu.N mai.n
ghu.Ngharuu kii tarah ...

 
 कुछ और सुझाव / Related content:

 
कुछ और सुझाव / Recommended for you
दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आये क्यूँ - dil hii to hai na sa.ng-o-Kiisht dard se bhar na aaye kyuu.N / At Her Best Begum Akhtar (Non-Film)
दिल ही तो है न संग-ओ-ख़ीश्त दर्द से भर न आ...
www.lyricsindia.net
ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa / ये दिल आशिक़ाना-(Yeh Dil Aashiqana)
ये दिल आशिक़ाना - ye dil aashiqaanaa...
www.lyricsindia.net
तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर होगा - tujhe dekh kar jag vaale par yakiin nahii.n kyo.n kar hogaa / Saavan Ko Aane Do
तुझे देख कर जग वाले पर यकीन नहीं क्यों कर हो...
www.lyricsindia.net
गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh ghazal) - gulashan kii faqat phuulo.n se nahii.n ##(Jagjit Singh ghazal)## / गैर फिल्म-(Non-Film)
गुलशन की फ़क़त फूलों से नहीं (Jagjit Singh g...
www.lyricsindia.net
जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(Badlapur)
जीना जीना - Jeena Jeena / बदलापूर-(B...
www.lyricsindia.net
मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती - mere desh kii dharatii, sonaa ugale ugale hiire motii / उपकार-(Upkaar)
मेरे देश की धरती, सोना उगले उगले हीरे मोती...
www.lyricsindia.net
ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde ham / दो आँखें बारह हाथ-(Do Ankhen Baarah Hath)
ऐ मालिक तेरे बंदे हम - ai maalik tere ba.nde...
www.lyricsindia.net
AddThis
Login
Add a comment
ADD COMMENT
M ↓   MARKDOWN
Commento
Lyricsindia.net by Amit Chakradeo
 Creative Commons License Except where otherwise noted, content on this site is licensed under a Creative Commons Attribution 3.0 License
5
SHARES

 

6 Love
1 Share

"Trust me special thought Esa hona chahie ki agr kisi bhut dur k insan ko net chahie to vo kisi ese insan ko msg ya phone kr de📲 jiske pas net ho ki thoda sa net bhej de....... Fir samne vala usko 200,300,400ya jitni bhi mb vo bhejna chahe utne ka ek pouch✉️ bhej de....... Fir us pouch ka jb bhi istmal krna ho us pouch ko open krke net chala le.... 🎉 Isse bichare kisi dur k insan ko bhi kisi k wifi chalane ki jrurt nhi ho🙂or koi bhi apna bacha hua net bhej k bad me use vapas mang le to uska net bhi waist nhi hoga or jrurtmndo tk net bhi phuch jaega😎"

Trust me special thought                           
Esa hona chahie ki agr kisi bhut dur k insan ko net chahie to vo kisi ese insan ko msg ya phone kr de📲 jiske pas net ho ki thoda sa net bhej de.......

Fir samne vala usko 200,300,400ya jitni bhi mb vo bhejna chahe utne ka ek pouch✉️ bhej de.......
Fir us pouch ka  jb bhi istmal krna ho us pouch ko open krke net chala le.... 🎉

Isse bichare kisi dur k insan ko bhi kisi k wifi chalane ki jrurt nhi ho🙂or koi bhi apna bacha hua net bhej k bad me use vapas mang le to uska net bhi waist nhi hoga or jrurtmndo tk net bhi phuch jaega😎

#special thought

5 Love
1 Share

"😂😈😜इत्तु सी मस्ती breaking news के साथ।😜😈😂 गौर से देखये इस खतरनाक virus को,जी हाँ ये virus सब से खतरनाक हैं। जहाँ भी जाता हैं, सभी को रुलाता हैं। नाजाने क्या क्या बात लाता हैं,whatsapp, facebook hang तभी हो जाता हैं। ग़लत बात पर गुस्सा इतना आता हैं, जैसे 3 साल के बच्चे से चीजी छीन लो हो। घूमने का शोक भी रखता हैं friendzzzzz को कंगाल करके भी मन नहीं भरता हैं।ख़ौफ़ इसका इतना हैं व्हाट्सएप्प पर आते हैं, डरके सब भाग जाते हैं। Phone सब को प्यार हैं, virus को हराना हैं। और हाँ ये virus भी अनोखा हैं net पर खिल जाता हैं, मिलने पर शर्माता हैं। खिलते बोल net पर,मिलने पर लगा दिया हो ताला। शर्म भी इतनी की शर्म को भी शर्म आ जाये जितनी। सावधान हो जाये कही ये बिमारी आप को ना हो जाये। सावधान रहये सतर्क रहये virus कभी भी आ सकता हैं। फ़ोन को hang कर सकता हैं, आप को शर्म से मार सकता हैं।"

😂😈😜इत्तु सी मस्ती breaking news के साथ।😜😈😂
गौर से देखये इस खतरनाक virus को,जी हाँ ये virus सब से खतरनाक हैं। जहाँ भी जाता हैं, सभी को रुलाता हैं। नाजाने क्या क्या बात लाता हैं,whatsapp, facebook hang तभी हो जाता हैं।
ग़लत बात पर गुस्सा इतना आता हैं, जैसे 3 साल के बच्चे से चीजी छीन लो हो। घूमने का शोक भी रखता हैं friendzzzzz को कंगाल करके भी मन नहीं भरता हैं।ख़ौफ़ इसका इतना हैं व्हाट्सएप्प पर आते हैं, डरके सब भाग जाते हैं।
Phone सब को प्यार हैं, virus को हराना हैं।
और हाँ ये virus भी अनोखा हैं net पर खिल जाता हैं, मिलने पर शर्माता हैं।
खिलते बोल net पर,मिलने पर लगा दिया हो ताला।
शर्म भी इतनी की शर्म को भी शर्म आ जाये जितनी।

सावधान हो जाये कही ये बिमारी आप को ना हो जाये।
सावधान रहये सतर्क रहये virus कभी भी आ सकता हैं।
फ़ोन को hang कर सकता हैं, आप को शर्म से मार सकता हैं।

इत्तु सा पैग़ाम Harsh Vardhan के नाम।
@Nojoto">#@Nojoto #breakingNews #masti #Quotes
😂😈😜इत्तु सी मस्ती breaking news के साथ।😜😈😂

गौर से देखये इस खतरनाक virus को,जी हाँ ये virus सब से खतरनाक हैं। जहाँ भी जाता हैं, सभी को रुलाता हैं। नाजाने क्या क्या बात लाता हैं,whatsapp, facebook hang तभी हो जाता हैं।
ग़लत बात पर गुस्सा इतना आता हैं, जैसे 3 साल के बच्चे से चीजी छीन लो हो। घूमने का शोक भी रखता हैं friendzzzzz को कंगाल करके भी मन नहीं भरता हैं।ख़ौफ़ इसका इतना हैं व्हाट्सएप्प पर आते हैं, डरके सब भाग जाते हैं।
P

38 Love

"A FISHERMAN His weary face but undefeated eyes Rotten net but experienced hand Hovering over the life of liquid, His ray of vision Plunge into the atoms of water As an arrow plunges into ones hand Shattering his memories throughout invisible gas. The glittering sun and the wandering breeze Turn by turn kidding with his face His white old hair and toiled skin Reflects him more like a SELFISH GIANT And beneath the liquid Celebrated fishes and their beloved ones Observing the net to escape from it. The touch of 70's upon his face But the spirit of 20's inside his heart Makes him a true warrior And pulling the net towards his stomach To count the rupees, sticked on the net: He becomes an almighty's warrior! His grin challenging the rays of amber flame His old body and young shadow Performing "Struggle for Existence" Beneath a star and upon a planet And looking at his evolving body One might think that It is changing and growing older But the fact, changing it is not, but evolving! Glitters of water that is salty Shining on his face and throughout body As the eyes of an infant shine On being welcomed to this alien world And the dreams Of his small universe Evolving on his small hut Will be fulfilled SOMEDAY. - the_curiouspoet"

A FISHERMAN



His weary face but undefeated eyes
Rotten net but experienced hand 
Hovering over the life of liquid,
His ray of vision
Plunge into the atoms of water
As an arrow plunges into ones hand
Shattering his memories throughout invisible gas.

The glittering sun and the wandering breeze
Turn by turn kidding with his face
His white old hair and toiled skin
Reflects him more like a SELFISH GIANT
And beneath the liquid
Celebrated fishes and their beloved ones
Observing the net to escape from it.

The touch of 70's  upon his face
But the spirit of 20's inside his heart
Makes him a true warrior
And pulling the net towards his stomach
To count the rupees, sticked on the net:
He becomes an almighty's warrior!

His grin challenging the rays of amber flame
His old body and young shadow
Performing "Struggle for Existence"
Beneath a star and upon a planet
And looking at his evolving body 
One might think that
It is changing and growing older
But the fact, changing it is not, but evolving!

Glitters of water that is salty
Shining on his face and throughout body
As the eyes of an infant shine
On being welcomed to this alien world
And the dreams
Of his small universe
Evolving on his small hut
Will be fulfilled SOMEDAY.

- the_curiouspoet

#poem #fisherman #fish #poetry

4 Love
1 Share