tags

Best mystory Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Best mystory Shayari, Status, Quotes, Stories & Poem. Also read about mystory Quotes, mystory Shayari, mystory Videos, mystory Poem and mystory WhatsApp Status in English, Hindi, Urdu, Marathi, Gujarati, Punjabi, Bangla, Odia and other languages on Nojoto.

  • 184 Followers
  • 276 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

#9wordwaiting
If there was no past, the mind cannot reminisce! 💞

Your entire library of forms of your existence is visible in consciousness.
The whole library in your existence form appears in your vision, something you had ever read in this birth and some new things in the very first appearance!
Now, ask if you have ever found anything good in your expression and where they were. 🤔

God has never written a book in using ink, as he is the king, but when he commands us in front of our eyes and then we abide to follow him to write his desired books.

As of now, he gave me no such order, however, he asked to continue the campaign. I imagine in a way that never breaks me down or better knows it is an ultimate sacrifice to know more about the unknown.

Apart from the body does the world exist?
If it doesn't; then only you will no longer exist.

When you are in love, all is well, fear is an illusion that turns to decompose in consciousness & there after no feeling of discompose.
One self true nature is feeling joy; and it's the highest energy efficiency of all. It's good to understand anatomy in spirituality & easy to bring spring to all over the summer. Patience is easily intact in the body when you start to think beyond the body. Know yourself = Infinity!
🧘 ➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖ 🧘
#tellmeabout #writing #History #patience #Inspiration #mystory #Heartbeat #nojotoenglish #Connection #Past #Memories #creation #Universe #existence 💓 🧚🧘🕉️😍✨✍️

12 Love
मैंने उसकी आंखों में देखा तो नशा सा चढ़ गया,
फिर मेरे दिल में उसके लिए प्यार और बढ़ गया।

लोग मिसाल देते हैं चांद की खूबसरती की,
उसने घूंघट जो उठाया चांद फीका पड़ गया।।

✍ Er Abhishek

#nojoto #Shayari #Quotes #Hindi #Chand #Love #mystory @Satyaprem @@j_$tyle @Anushka Verma @sharmahimani2001 @Susana @Namita Writer

14 Love
जो मेरा है बचा मुझमें 
वो बाकी छोड़कर जाना

मुझे भी 'दर्द' होता है
तू   मुँह को मोड़कर जाना

खुदा मेरे इबादत और 
मुझसे अब नहीं होगी

जो मुझको मिल न पाए तो
ये मस्जिद तोड़कर जाना
               -मिज़ाज़

#Pain #दर्द#प्रेम#Love#खुदा#God#BreakUp#प्यार#इश्क़#मोहब्बत#जुदाई#बेवफाई
#वफ़ा#mystory#प्रेमकहानी#Lovestory

13 Love
#OpenPoetry  "" एक पगली सी जूनियर लड़की और 
नज़रों की मुलाक़ात ""

( Please Read full in caption )

"""" एक पगली सी जूनियर लड़की
और नज़रों की मुलाक़ात """"

दोस्तों आज मैं अपनी एक छोटी सी याद साझा करने जा रहा हूं, कृपया पूरी पढ़कर मेरी भावनाओं को समझने की कोशिश करे।
धन्यवाद आप सबका

मुझे याद है वो लड़की ,
जो हर रोज मुझे देखा करती थी,
कॉलेज में हर जगह ,बस
मुझको ही फॉलो किया करती थी,
थी तो मुझसे बहुत जूनियर , पर
पता नहीं क्यों मुझ पर फ़िदा रहा करती थी,
ना मै कोई शाहरुख सा दिलवाला,
न ही सलमान सी बाइसेप्स वाला,
फिर भी वो मेरे करीब आना चाहती थी,
एक दिन मौका देखकर उसने करीब आना चाहा,
मेरे दिल ने फिर डरकर वहां से भाग जाना चाहा।
भागा में सीधा वॉशरूम की तरफ,
और खुद को महफूज़ पाया,
जाने क्यों ऐसा लगता था , कि
उसके दिल ने मुझसे कुछ कहना चाहा,
ऐसा कुछ रोज तक यूहीं चलता रहा, फिर
मेरा ये शक यकीन ने बदलता रहा, कि
शायद कुछ तो मुझसे कहना चाहती होगी, इसी
हर लड़की पागल तो नहीं होगी ,
वैसे ऐसा हर रोज़ मुझे अच्छा लगने लगा था,
उसका इंतज़ार मुझे भी होने लगा था,
वो है निहायती खूबसूरत जैसे कोई स्त्री कलाकार,
(अब उसे थी तो नहीं कहेंगे क्योंकि वो दुनिया में मौजूद है)
और हम तो ठहरे गुलाब - जामुन के रिश्तेदार,
एक रोज़ दोस्तों से मिलकर उसने कुछ प्लान किया,
और जैसे ही पास आयी मैंने सीनियर का साइड लिया,
जैसे तैसे शाम को मैंने सब कुछ expose करना चाहा,
मैंने बॉस्केट कोर्ट से उससे खुद को देखता पाया,
कमज़ोर दिल वाला मैं खुद को संभालना चाहा,
और क्या थी उसकी मंशा ये भी जानना चाहा ,
अच्छा , ये सारी बातें मैंने अपने दोस्तों से छुपाई, क्योंकि
उन कमीनो को लगता अब तो उनकी भी भाभी अाई,
वो सब शोर - शराबा , हो हो हल्ला करते,
शायद मुझे कॉलेज में दीवाना घोषित करते , पर
फिर भी कहीं ये मेरा वहम ना हो,
मैंने एक दोस्त को बुलाया,
सारा मुआयना कराया,और
उसने भी हरी झंडी दिखाई, और बोला
दोस्त मामला साफ है,
अब कोई तो बात है ,
एक दिन फिर हम सब computer lab गए,
Schedule वाली क्लास थी, देखा
वो भी same lab में मौजूद थीं,
फिर क्या था वो नज़रों का टकराना फिर से सुरु हुआ,
और मेरा मेरे काम से मन भी दूर हुआ ,
मैंने जब भी मुड़कर देखा उसको देखता पाया,
पर जाने क्यों खुद को बहुत असहज पाया,
एक दिन lunch में मैंने सोचा आज बात साफ करते हैं,
वो नादान है अभी उसे थोडा बड़ों वाला ज्ञान देते हैं,
तो after lunch, lecture room के बाहर टहल रहा था मैं,
वो कुछ देर बाद अाई और महज़ कुछ ही फासले से खड़ी हो गई, जैसे उसे पता था मैं वहां कब आने वाला हूं, मैं बेवाक सा खड़ा इधर उधर देख रहा था, और
वो बस पास के खंबे को पेन से कुरेदती जा रही थी,
मैं सोच नहीं पा रहा था कि उससे कैसे और क्या पूछूं,
और वो जैसे मेरे ही सवाल का इंतज़ार कर रही थी,
मैंने आखिर चुप्पी तोड़ी, और उससे उसके क्लास का मुआयना लेना चाहा और पूछा :- आज कल क्या चल रहा है तुम्हारी क्लास में , बच्चे बहुत छुट्टी मानते है,
वो पढ़ते भी है या बस फ़ीस भरने आते हैं,
वो जैसे किसी बात के ही इंतज़ार में थी,
पलक झपकते ही पास आकर खड़ी हो गई और
जवाब देना सुरु किया,
मैं अन्दर से सकपका सा गया उसके बात करने के लहजे से, जैसे हम कोई बचपन के दोस्त हो,
या कोई classmate ,वो बस जवाब में क्लास का हाल बताए जा रही थी,
और मेरी आंखो में टकटकी बांधे देखे जा रही थी,
मेरे एक सवाल का उसने बहुत देर तक जवाब दिया,
और मैं बेसुध सा उसके बात करने के लहजे में खो सा गया , फिर मैंने उसे जाने को कहा वो वहां से चली गई,
और मैं अपनी क्लास में गया और बात वहीं ख़तम हुई ।।

फिर ऐसा मंजर दोबारा नहीं आया,
हम सामने से भी निकले , पर
उसको नज़रे मिलाना नहीं आया,
मैंने बिल्कुल उसे अपने जैसा पाया,
तभी शायद उसने आंखो से पढ़कर,
मुझे खुद से अलग पाया।
जैसे चुंबक के एक जैसे पहलू कभी मिलते नहीं,
वैसे हम दोनों फिर नज़रों में फिर मिले नहीं ,
उसका bachelor me last year था और मेरा Masters में दूसरा ,
और वो year complete krke चली गई,
मैं next year me चला गया , फिर

कॉलेज खत्म हुआ , सब अपने रास्ते निकल पड़े,
मैं भी अपनी नौकरी के साथ अपने शहर को छोड़ दूसरे शहर निकल पड़ा ।

पर आज दो सालों बाद ना जाने क्यों उसकी याद आई, तो सोचा कहीं भूल ना जाऊं फिर उसे इसलिए आधी रात पन्नों पर उतार वो सारे अजीब से अनकहे लम्हें ।

वो कौन थी, क्या नाम था उसका कुछ पता नहीं,
पर न जाने क्यों उससे कोई रिश्ता बन सा गया था, शायद
दिल का नहीं तो नज़रों का ही बना होगा ।

वो जो भी है बड़ी कमाल की लड़की है,
वो नज़रों से तो गई पर शायद दिल में कहीं दुबक कर रह गई, और
आज ना जाने कैसे फिर याद आ गई ।।


दोस्तों बस इतना ही था उसका और मेरी नज़रों की मुलाकातों का सफर, इसमें पूरी सच्चाई है कोई
ख्याली पुलाव नहीं।
पढ़ने के लिए आप सभी का बहुत बहुत आभार, आपको कैसी लगी ये "" नज़रों की मुलाक़ात "" ,

Please share with me , through comments

!Thanks again for reading my real story!


#nojoto
#nojotohindi #mystory #Memories #Happiness #Missing #nojotoenglish #Life #college #Emotions #Morning #mywriting

30 Love
जो प्यार करते हैं वो बेबफा 
नहीं होते।
हांं ए बात अलग है
के
कई लोग प्यार का दिखावा
करते हैं।


Karishma Bano ...

#nojoto #nojotohindi #mystory...

14 Love