tags

Best स्वांग Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best स्वांग Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 5 Followers
  • 4 Stories
  • Latest
  • Video

#आखिर_क्यों#सवाल#सोचने_की_जरूरत_है #दया#मानवता #करुणा#स्वांग#चिंतनीय_विषय
#Talk_online

क्या हम इंसानियत को खो रहे हैं ?
क्या दया शब्द महज शब्द रह गया है ?
#आखिर_क्यों

19 Love
130 Views

""

"Happy Janmashtami हे कृष्णा मोरी तो बस इक ही राधा तोरे बिन रह जाऊँ आधा ना मोरी कोई रुक्मणी ना कोई गोपी और बाला ना मैं कोई कृष्ण कन्हैया ना ही कोई गोपाला ना जानु मैं बंसी बजाना ना ही जानु स्वांग रचाना जानु तो बस इतना कान्हा मोरी तो बस इक ही राधा मोरी तो बस इक ही राधा सुन मोरे ओ कृष्ण कन्हैया ओ मोरे हाँ बंसी बजाईया रूठ गयी है राधा मोरी चंचल चितवन नंदन गोरी कैसे उसे मनाऊ मैं हाँ अपना उसे बनाऊ मैं कुछ तो स्वांग रचा जा मोहन राधा मोरी बना जा मोहन बिन राधा मैं रह ना पाऊँ कैसे ये जीवन मैं बिताऊँ इतना करम तो कर दे कान्हा उस संग मिलन तो कर दे कान्हा कि मोरी तो बस इक ही राधा तोरे बिन रह जाऊँ आधा ना मोरी कोई रुक्मणी ना कोई गोपी और बाला मोरी तो बस इक ही राधा मोरी तो बस इक ही राधा ............ ☝️ मेरी कलम कुछ कहती है☝️ ☺️ रतनेश पाठक ☺️"

Happy Janmashtami हे कृष्णा मोरी तो बस इक ही राधा 
तोरे बिन रह जाऊँ आधा 
ना मोरी कोई रुक्मणी 
ना कोई गोपी और बाला 
ना मैं कोई कृष्ण कन्हैया 
ना ही कोई गोपाला 
ना जानु मैं बंसी बजाना
ना ही जानु स्वांग रचाना
जानु तो बस इतना कान्हा 
मोरी तो बस इक ही राधा 
मोरी तो बस इक ही राधा
सुन मोरे ओ कृष्ण कन्हैया 
ओ मोरे हाँ बंसी बजाईया 
रूठ गयी है राधा मोरी 
चंचल चितवन नंदन गोरी
कैसे उसे मनाऊ मैं 
हाँ अपना उसे बनाऊ मैं  
कुछ तो स्वांग रचा जा मोहन
राधा मोरी बना जा मोहन
बिन राधा मैं रह ना पाऊँ
कैसे ये जीवन मैं बिताऊँ
इतना करम तो कर दे कान्हा
उस संग मिलन तो कर दे कान्हा 
कि मोरी तो बस इक ही राधा 
तोरे बिन रह जाऊँ आधा
ना मोरी कोई रुक्मणी 
ना कोई गोपी और बाला
मोरी तो बस इक ही राधा
मोरी तो बस इक ही राधा  ............ 
☝️ मेरी कलम कुछ कहती है☝️
☺️ रतनेश पाठक ☺️

#nojoto #nojohindi #poem #Quotes #HAPPYKRISHNAJANMASHTAMI

मोरी तो बस इक ही राधा
तोरे बिन रह जाऊँ आधा
ना मोरी कोई रुक्मणी
ना कोई गोपी और बाला

9 Love
1 Share

""

"ताउम्र गुजार दी स्वांग भरी दुनिया में जीते हुए, अब तो हकीकत के शौक़ से भी घबरा जाते है लोग। हाल-ए-दिल कुछ यूं हुआ है अब हर महफिल का, मुखौटों पर मुखौटे बस चढ़ाते ही रहते है लोग। नहीं मालूम आखिरी बार कब खुद की शक्ल देखी होगी, शान से स्वांग भरी दुनिया में खुद को गुम करते है लोग। जब कभी भी मुसीबत में टूट जाता है रचा स्वांग ये, समेटने की ताकत छूटने से टूट कर बिखरते है लोग। स्वांग की दुनिया से बदसूरत सही हकीकत मगर, जिंदगी की कद्र भी यही करते है और मरते है लोग। - kiran"

ताउम्र गुजार दी स्वांग भरी दुनिया में जीते हुए,
अब तो हकीकत के शौक़ से भी घबरा जाते है लोग।
हाल-ए-दिल कुछ यूं हुआ है अब हर महफिल का,
मुखौटों पर मुखौटे बस चढ़ाते ही रहते है लोग।
नहीं मालूम आखिरी बार कब खुद की शक्ल देखी होगी,
शान से स्वांग भरी दुनिया में खुद को गुम करते है लोग।
जब कभी भी मुसीबत में टूट जाता है रचा स्वांग ये,
समेटने की ताकत छूटने से टूट कर बिखरते है लोग।
स्वांग की दुनिया से बदसूरत सही हकीकत मगर,
जिंदगी की कद्र भी यही करते है और मरते है लोग।
- kiran

"स्वाँग" लफ्ज़ का अर्थ होता है "भेस/रूप बनाना" Acting !!

#Life #aamirshaikh #urdu #Hindi #kiranquotes #philosphy

4 Love