tags

Best season Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best season Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos about friends 1 season 1 episode, kuch rang pyar ke aise bhi season 2, friends 5 season.

  • 260 Followers
  • 398 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"सर्द दिसंबर यह कैसा कमबख्त सर्द दिसंबर है सर्दी से सिर में दर्द का मचा बवंडर है,, न तो combiflame की गोली काम आई यह अदरक वाली चाय का भी बस आडंबर है,,"

सर्द दिसंबर यह कैसा कमबख्त सर्द दिसंबर है
सर्दी से सिर में दर्द का मचा बवंडर है,,

न तो combiflame की गोली काम आई
यह अदरक वाली चाय का भी बस आडंबर है,,

#Nature
#season
#december
@ਦਵਿੰਦਰ ਸਿੰਘ @Ravi Sharma RAJA KHURSHEED ALI @Pandit RK Shastri @aman6.1

246 Love

""

"सर्द दिसंबर कुछ बेरहम सी यादों के अलाव जलते ही रहते है... सर्द दिसम्बर सा हो गया है मौसम दिल का...❤ ✍My_Words..."

सर्द दिसंबर कुछ बेरहम सी यादों के अलाव 
जलते ही रहते है...

सर्द दिसम्बर सा हो गया है
मौसम दिल का...❤



✍My_Words...

सर्द-दिसम्बर ❤ #season #Nature #december #nojotohindi #nojotonews
@aman6.1 @Satya Prakash Upadhyay @pooja negi# @Internet Jockey @Pratibha Tiwari(smile)🙂 @sheetal pandya मेरे शब्द

224 Love
1 Share

""

"मुझे कमा लेने दो मैं दिल से गरीब हूँ किसी का प्यार थोड़ी दुकानों पे बिकता होगा,, मुझे नज़दीक से देखनी है यह बुलंदियां, ज़मीन से तो आसमान ज़रा सा दिखता होगा,,, यह आलम है उस खुदा का ही तो क्यों तोड़ू इस फूल को शायद यह भी उसके घर मे ही खिलता होगा,, बेहद कमी है मेरी ज़िंदगी मे खुशियो की,, अरे,,गमो की मेहरवानी से थोड़ी कोई हँसता होगा,, अब तो आम हो गए है किस्से मेरी अधूरी कहानी के,, समाचार पत्रों में तेरे नाम से कुछ तो छपता होगा,, गुमसुम सर्द दिसंबर की रातो में बात नही की जाती इशारों इशारों की गुफ़्तगू में कोई अशार जगता तो होगा,,"

मुझे कमा लेने दो मैं दिल से गरीब हूँ 
किसी का प्यार थोड़ी दुकानों पे बिकता होगा,,

मुझे नज़दीक से देखनी है यह बुलंदियां,
ज़मीन से तो आसमान ज़रा सा दिखता होगा,,,

यह आलम है उस खुदा का ही तो क्यों तोड़ू इस 
फूल को शायद यह भी उसके घर मे ही खिलता होगा,,

बेहद कमी है मेरी ज़िंदगी मे खुशियो  की,,
अरे,,गमो की मेहरवानी से थोड़ी कोई हँसता होगा,,

अब तो आम हो गए है किस्से मेरी अधूरी कहानी के,,
समाचार पत्रों में तेरे नाम से कुछ तो छपता होगा,,

गुमसुम सर्द दिसंबर की रातो में बात नही की जाती
इशारों इशारों की गुफ़्तगू में कोई अशार जगता तो होगा,,

#Nature
#season
#december
@ਸੁੱਖੀ ਦੀਨਾ @ਦਵਿੰਦਰ ਸਿੰਘ @aman6.1 @aamil Qureshi @Neetu_$harmA❤POete$$✒

192 Love
1 Share

""

"कुछ लोग कहते हैं वो कुछ नही बन सकते,,मैं कहता हूं मैं बहुत कुछ बन गया हूँ. लोग कहते है सर्द दिसंबर है वो हिल नही सकते,,मैं कहता हूं खुद को ज़िन्दा रखने के लिए मैं खुद तक जल गया हूँ।"

कुछ लोग कहते हैं वो कुछ नही बन सकते,,मैं कहता हूं मैं बहुत कुछ बन गया हूँ.

लोग कहते है सर्द दिसंबर है वो हिल नही सकते,,मैं कहता हूं खुद को ज़िन्दा रखने के लिए मैं खुद तक जल गया हूँ।

#season#Nature #december #nojotohindi#nojotonews

सर्द दिसंबर--Tittle--💥💥ज़िन्दा💥💥



pallavi srivastava Nisha Dhiman nisha pathak Nisha khan kaur B 😊😊 khushi kumawat.. 😊

192 Love
3 Share

""

"दिसंबर तो आ गया, अब तुम कब आओगे *** 😣 दिसंबर तो आ गया अब तुम कब आओगे, कब तक हमें यूं इंतजार कराओगे, रोज घुट घुट के मरते हैं हम,तुम कब हमसे मिलने आओगे, अब तो इंतजार भी हमसे कहता है,और कितना इंतजार करवाओगे, सब कहते हैं हमसे वो नहीं आएगा,और तुम इंतजार में अकेले ही रह जाओगे, **** 😣दिसंबर की ये सर्द हवाएं चलती है, तुम्हारी यादें मुझे और बेचैन करती है, तुम आ जाओ मिलने मुझसे, बस यही फरियाद दिल से निकलती है, तुम आओगे मिलने मुझसे ये तसल्ली दे दो , तुम्हें भी याद आती है मेरी, एक बार तो तुम ये कह दो, मैं तो जान हूं ना तुम्हारी, तो तुम जान के बगैर कैसे रहते हो, मैं तो रोज ही मरती हूं तुम्हारे बिना, ना जाने तुम कैसे यह दूरी सहते हो, तुम अपनी यादों के सहारे मुझे और बेचैन करते हो ||"

दिसंबर तो आ गया, अब तुम कब आओगे   
***
 😣 दिसंबर तो आ गया अब तुम कब आओगे, 
कब तक हमें यूं इंतजार कराओगे,
 रोज घुट घुट के मरते हैं हम,तुम कब हमसे मिलने आओगे,
अब तो इंतजार भी हमसे कहता है,और कितना इंतजार करवाओगे, 
 सब कहते हैं हमसे वो नहीं आएगा,और तुम इंतजार में अकेले ही रह जाओगे, 


 
****
 😣दिसंबर की ये सर्द हवाएं चलती है, तुम्हारी यादें मुझे और बेचैन करती है, 
 तुम आ जाओ मिलने मुझसे, बस यही फरियाद दिल से निकलती है,
 तुम आओगे मिलने मुझसे ये तसल्ली दे दो , 
 तुम्हें भी याद आती है मेरी, एक बार तो तुम ये कह दो, 
 मैं तो  जान हूं ना तुम्हारी, तो तुम जान के बगैर कैसे रहते हो, 
 मैं तो रोज ही मरती हूं तुम्हारे बिना, ना जाने तुम कैसे यह दूरी सहते हो, 
 तुम अपनी यादों के सहारे मुझे और बेचैन करते हो ||

#december #season pyar ka #juda hue unke milne ka mausam aaya#Nojotohindi #tum kab aaoge😣#A#😏

188 Love