tags

Best Nojoto  Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best Nojoto  Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 11 Followers
  • 26 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

हमसफ़र.......😁💕



#RDV19
#RDV19

43 Love

"हद से बड़ी उड़ान की ख्वाहिश तो यूँ लगा, जैसे कोई परों को कतरता चला गया | मंज़िल समझ के बैठ गये जिनको चंद लोग, मैं एैसे रास्तों से गुज़रता चला गया || - वसीम बरेलवी"

हद से बड़ी उड़ान की ख्वाहिश तो यूँ लगा,
जैसे कोई परों को कतरता चला गया |
मंज़िल समझ के बैठ गये जिनको चंद लोग,
मैं एैसे रास्तों से गुज़रता चला गया ||

- वसीम बरेलवी

#Nojoto #nojotohindi #Poetry #Love #India #nojotoapp
@AK Ajay Kanojiya @Dikshu singh @Kђusђi SiŇgђ😟 @Amit Saini @Ritika Gupta

19 Love

उलझन......
#RDV19
.

.
📝 #poems #poem #Poetry #prose #Paint #instatags @insta.tags #Poetrycommunity #writing #instapoetry #writerscommunity #poenoftheday #writersofinstagram #writingcommunity #poetsofinstagram #poetsofig #wordgasm #poetsociety #igpoet #typewriter #creativewriting #Emotions #mywords #fellings #thought #creative #Poetryisnotdead #Poetryislife #Art #spilledink

Https://nojoto.com/post/48108055b0ab9a67586057eeac830a28 @Nojoto

56 Love

""दिल टूटने पर कोई जनाब, जाम पे जाम पीता हैं। फिर रो-रोकर खुदा को बदनाम करता हैं।। वही कोई सड़क किनारे, उन बोतलों को बेचता हैं। और उनसे पैसे पाकर खुदा का बखान करता हैं।।" °° Mulahiza farmayiyegaa अब मुझे क्या मालूम क्या सही हैं, या क्या गलत? पर यहां इकलौते आप नहीं, जिनकी खुशियों का ठेका भगवान ने ले रखा हैं।।"

"दिल टूटने पर कोई जनाब,
जाम पे जाम पीता हैं।
फिर रो-रोकर खुदा को बदनाम करता हैं।।
वही कोई सड़क किनारे,
उन बोतलों को बेचता हैं।
और उनसे पैसे पाकर खुदा का बखान करता हैं।।"
°°

Mulahiza farmayiyegaa 
अब मुझे क्या मालूम क्या सही हैं,
या क्या गलत?
पर यहां इकलौते आप नहीं,
 जिनकी खुशियों का ठेका भगवान ने ले रखा हैं।।

#Khuda #badnaam #जाम #बदनाम #शायर #महफ़िल #Love #Poetry #गरीब #अमीर #Nojoto #nojotohindi #zeher_shayari #modernpoet #hashtag #Nojoto #kavishala #kavita #Poetry#एकविचार #दर्द #Love

51 Love

"मैं आज़ाद था, जन्मदिन मुबारक, चंद्रशेखर आज़ाद हम जो आजाद बैठै है अपने घरों में उसमे किसी आजाद का भी हाथ था कहा था उन्होंने अग्रेंज उन्हें जिंदा पकड़ नही पाएंगे दे दी अपनी उन्होंने जान लेकिन अपना वादा निभाया था उस वक़्त भारत गुलाम था लेकिन वो अकेले ही आजाद थे वो चंद्रशेखर आजाद थे 23/07/1906- 27/07/1931 poetry written by राहुल अग्रवाल"

मैं आज़ाद था, जन्मदिन मुबारक, चंद्रशेखर आज़ाद    हम जो आजाद बैठै है अपने घरों में
उसमे किसी आजाद का भी हाथ था
कहा था उन्होंने अग्रेंज उन्हें जिंदा
पकड़ नही पाएंगे
दे दी अपनी उन्होंने जान लेकिन 
अपना वादा निभाया था
उस वक़्त भारत गुलाम था
लेकिन वो अकेले ही आजाद थे
वो चंद्रशेखर आजाद थे
23/07/1906- 27/07/1931
poetry written by राहुल अग्रवाल

हम जो आजाद बैठै है अपने घरों में
उसमे किसी आजाद का भी हाथ था
कहा था उन्होंने अग्रेंज उन्हें जिंदा
पकड़ नही पाएंगे
दे दी अपनी उन्होंने जान लेकिन
अपना वादा निभाया था
उस वक़्त भारत गुलाम था
लेकिन वो अकेले ही आजाद थे

28 Love
1 Share