tags

Best अल्फ़ाज़ Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best अल्फ़ाज़ Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 200 Followers
  • 585 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"किस्से मेरे दिल के तेरा भी हाल कह जाएं कल मैं नहीं भी हूं मेरे अल्फ़ाज़ रह जाएं"

किस्से मेरे दिल के
तेरा भी हाल कह जाएं
कल मैं नहीं भी हूं
मेरे अल्फ़ाज़ रह जाएं

#writer's wish #अल्फ़ाज़
किस्से मेरे दिल के
तेरा भी हाल कह जाएं
कल मैं नहीं भी हूं
मेरे अल्फ़ाज़ रह जाएं

293 Love
44 Share

""

"आंखों से भी लिखी जाती हैं कुछ दास्तानें हर कहानी को कलम की जरूरत नहीं होती"

आंखों से भी लिखी जाती हैं कुछ दास्तानें


हर कहानी को कलम की जरूरत नहीं होती

#अल्फ़ाज़

201 Love
4 Share

""

"#Pehlealfaaz ❣ नाराज़ क्यों होते हैं मेरे अल्फाजों से जनाब, लोग तो जज्बातों से खेल जाते हैं, हम ने तो बस शब्दों से छेढ़ खानी की है। __प्रतिभा __मेरी जिंदगी❤✍"

#Pehlealfaaz ❣ नाराज़ क्यों होते हैं मेरे अल्फाजों से जनाब,
लोग तो जज्बातों से खेल जाते हैं,
हम ने तो बस शब्दों से छेढ़ खानी की है।
__प्रतिभा
                      __मेरी जिंदगी❤✍

#अल्फ़ाज़#Life#Shayari#thought
#nojoto hindi
#nojoto news
#Motivation#poem#story
#Art#Music#commedy
❤✍✍✍

179 Love

""

"अल्फ़ाज़ वो कहते हैं, अल्फ़ाज़ ए मोहब्बत उन्हें बयां करना नहीं आता, कैसे बताऊं उन्हें मैं तो उनकी ख़ामोशी की भी मुरीद हैं। अल्फ़ाज़ छीन लेते है अहसास ए मोहब्बत कभी कभी, कैसे जताऊं उन्हें की हमारे लिए उनके इशारे भी मोहब्बत ए गुफ्तगू है। ___Satyprabha💕 __My Life ✍"

अल्फ़ाज़  वो कहते हैं,
अल्फ़ाज़ ए मोहब्बत उन्हें बयां करना नहीं आता,
कैसे बताऊं उन्हें मैं तो उनकी ख़ामोशी की भी मुरीद हैं।

अल्फ़ाज़ छीन लेते है अहसास ए मोहब्बत कभी कभी,
कैसे जताऊं उन्हें की हमारे लिए उनके इशारे भी 
 मोहब्बत ए गुफ्तगू है।


                                               ___Satyprabha💕
                           __My Life ✍

#अल्फ़ाज़ 💕💕💕💕 वो कहते हैं,
अल्फ़ाज़ ए मोहब्बत उन्हें बयां करना नहीं आता,
कैसे बताऊं उन्हें मैं तो उनकी ख़ामोशी की भी मुरीद हैं।

अल्फ़ाज़ छीन लेते है अहसास ए मोहब्बत कभी कभी,
कैसे जताऊं उन्हें की हमारे लिए उनके इशारे भी
मोहब्बत ए गुफ्तगू है।

157 Love

""

"अल्फ़ाज़ मेरे दिल के, कुछ बदले हुए से लग रहे हैं। तुम जब से आए हो जिंदगी में, हम संभले हुए से लग रहे हैं। जो भटके थे ख़ुद की खोज में, तुमको पाके हम ख़ुद को पूरा महसूस कर रहे है। जो सिमटे थे ख़ुद के झूठे जज्बातों में आज तक, हम आज कुछ बिखरे बिखरे लग रहे हैं। आंखें खुली थी ,मगर जो ख्वाब बेदम हो चुके थे, आज उन आंखों में आसूं भी सुनहरे लग रहे है। जो तब हसी में भी एक दर्द था हमारे, तुम्हरे आ जाने से प्यार के आंसू खुशी से छलक रहे हैं। जो भाग रही थी अब तक मै खुद से, ना जानें क्यों आज हम तुममें जीने लग रहे हैं। __प्रतिभा __मेरी जिंदगी❤✍"

अल्फ़ाज़ मेरे दिल के, कुछ बदले हुए से लग रहे हैं।
तुम जब से आए हो जिंदगी में,
हम संभले हुए से लग रहे हैं।
जो भटके थे ख़ुद की खोज में,
तुमको पाके हम ख़ुद को पूरा महसूस कर रहे है।
जो सिमटे थे ख़ुद के झूठे जज्बातों में आज तक,
हम आज कुछ बिखरे बिखरे लग रहे हैं।
आंखें खुली थी ,मगर जो ख्वाब बेदम हो चुके थे,
आज उन आंखों में आसूं भी सुनहरे लग रहे है।
जो तब हसी में भी एक दर्द था हमारे,
तुम्हरे आ जाने से प्यार के आंसू खुशी से छलक रहे हैं।
जो भाग रही थी अब तक मै खुद से,
ना जानें क्यों आज  हम तुममें जीने लग रहे हैं।
__प्रतिभा
                                  __मेरी जिंदगी❤✍

#अल्फ़ाज़ मेरे दिल के
❤✍

151 Love
1 Share