tags

Best nandkishorjha Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best nandkishorjha Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 1 Followers
  • 25 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"Yes ! I Am Not Always True, The Reason, Because Of You."

Yes !
I Am Not Always True,
The Reason,
Because Of You.

Yes !
I Am Not Always True,
The Reason,
Because Of You.
#nandkishorjha #writer #lyricist #Singer #Life #Love #God #Music #Composer #Like #follow

54 Love

"i quit to think about quit. quit ? haha never ever."

i quit

 to think about quit.
quit ? haha never ever.

i quit to think about quit.
quit ? never ever.
#nandkishorjha #Inspiration #Motivation #Life #nevergiveup #writer #Poet #lyricist

73 Love
4 Share

"बात बात पे मुस्कुराता हूँ... क्या करू जनाब, छोटे से गाँव से जो आया हूँ ।"

बात बात पे मुस्कुराता हूँ...
क्या करू जनाब,
छोटे से गाँव से जो आया हूँ ।

बात बात पे मुस्कुराता हूँ...
क्या करू जनाब,
छोटे से गाँव से जो आया हूँ ।
#nandkishorjha #Quote #Popular #Love #Life #writer #lyricist #song

18 Love

#nandkishorjha

11 Love
1 Share

"ज़िन्दगी से ना कोई सिकवा, ना कोई गिला किये, चलते चलते खुद को, यूँ ही रास्ते से मोड़ गए । हम औरों से अलग है, ये ना कभी हम जान पाए, हम हवा की तरह जिधर मुड़े, उसी के हो लिए । नफ़रत ना किसी से किये, ना किसी से कर पाए, हम मोहब्बत की कश्ती पर बैठ, उस पार हो गए । औरों ने अपने मेहबूब के लिए, चाँद-तारे तोड़ लाये, हम बड़ी ही मिन्नत से, उसी को चाँद मान आये ।"

ज़िन्दगी से ना कोई सिकवा, ना कोई गिला किये,
चलते चलते खुद को, यूँ ही रास्ते से मोड़ गए ।

हम औरों से अलग है, ये ना कभी हम जान पाए,
हम हवा की तरह जिधर मुड़े, उसी के हो लिए ।

नफ़रत ना किसी से किये, ना किसी से कर पाए,
हम मोहब्बत की कश्ती पर बैठ, उस पार हो गए ।

औरों ने अपने मेहबूब के लिए, चाँद-तारे तोड़ लाये,
हम बड़ी ही मिन्नत से, उसी को चाँद मान आये ।

ज़िन्दगी से ना कोई सिकवा, ना कोई गिला किये,
चलते चलते खुद को, यूँ ही रास्ते से मोड़ गए ।

हम औरों से अलग है, ये ना कभी हम जान पाए,
हम हवा की तरह जिधर मुड़े, उसी के हो लिए ।

नफ़रत ना किसी से किये, ना किसी से कर पाए,
हम मोहब्बत की कश्ती पर बैठ, उस पार हो गए ।

औरों ने अपने मेहबूब के लिए, चाँद-तारे तोड़ लाये,
हम बड़ी ही मिन्नत से, उसी को चाँद मान आये ।
#nandkishorjha #Music #lyrics #Poetry

35 Love