tags

Best सम्मान Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best सम्मान Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 287 Followers
  • 1902 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"शाम ढलते ढलते रात हो जाती है, पर क्या पता है,कुछ लोग के जिंदगी में दर्द हर पल होता है,उनके जंहा में रात क्या दिन भी नहीं होता। (स्त्री का सम्मान कीजिए)"

शाम ढलते ढलते रात हो जाती है,
पर क्या पता है,कुछ लोग के जिंदगी में दर्द हर पल होता है,उनके जंहा में रात क्या दिन भी नहीं होता।
(स्त्री का सम्मान कीजिए)

#सम्मान

96 Love

"गुमान लिखता हूं देश के मिट्टी पर हमें गुमान है इस के लिए सम्मान हैं इस मिट्टी के हम गुलाम हैं जहां इज्जत के लिए जाने दे दी हमें उस पर गुमान है माना पगड़ी ही उसका गुमान है वही तो उसका सम्मान है भारत मेरा महान है परंपरा एक सम्मान है इस पर तो हमें गुमान है जो हम भूल गए परंपरा वह हो बुजुर्गों का सम्मान है...."

गुमान    लिखता हूं  देश के मिट्टी पर हमें  गुमान है इस  के लिए  सम्मान हैं
इस मिट्टी के हम गुलाम हैं जहां इज्जत के लिए
जाने दे दी हमें उस पर  गुमान है माना पगड़ी ही उसका गुमान है वही तो उसका सम्मान है
भारत मेरा महान है परंपरा एक सम्मान है इस पर तो हमें गुमान  है  जो हम भूल गए परंपरा वह हो बुजुर्गों का सम्मान है....

#gumaan
#विचार
#सम्मान VINAY PANWAR INDIAN ARMY💕💕 pooja negi# Suhani suman# Rupam rajbhar

31 Love
2 Share

#ये#औरतें#बेहद#अजीब#होती#हैं#इज्जत#सम्मान#प्यार#विश्वास#भरोसा#चाहत#कविता#कहानी#ज्योत्स्नामिश्रा#

119 Love
8317 Views
2 Share

"प्यारी सी गुड़िया"

प्यारी सी गुड़िया

प्यारी सी गुड़िया
दुवाओं से माँगा तुमको, सीने से नहीं शीश लगाया
कि कदम ना चुभने पाय काँटे, कान्धे तुझे बिठाया
जीन रितियों ने पूजा था तुमको उन रितियों ने आज
तुम्हे लाड़ो खुद से दूर है क्यूँ बिठाया
उमर अभी थी छोटी सी, कदम तुमने यौवन पर पाया
फिर भी ना जाने क्यूँ, तुझको ये भेद-भाव का भेद पढ़ाया
बचपन में ही तुमने ये जो अपना बचपन गवाया

34 Love

"तेरे कंगन मेरे भूले हुए गहने साल में एक बार बाहर आते हैं। मंगलसूत्र , गर्व और निष्ठा से पहना जाता है। मेरे जीवन में मेहँदी , सिन्दूर ,चूड़ियां उनके आने से है तो यह सब मेरे लिए अमूल्य है। यह सब हमारे भव्य संस्कारों और संस्कृति का हिस्सा हैं। शास्त्र दुल्हन के लिए सोलह सिंगार की बात करते हैं। इस दिन सोलह सिंगार कर के फिर से दुल्हन बन जाईये। विवाहित जीवन फिर से खिल उठेगा। 🌺🌺चाँदनी"

तेरे कंगन 

मेरे भूले हुए गहने साल में एक बार बाहर आते हैं। मंगलसूत्र , गर्व और निष्ठा से पहना जाता है। मेरे जीवन में मेहँदी , सिन्दूर ,चूड़ियां उनके आने से है तो यह सब मेरे लिए अमूल्य है। यह सब हमारे भव्य  संस्कारों और संस्कृति का हिस्सा हैं। शास्त्र दुल्हन के लिए सोलह सिंगार की बात करते हैं। इस दिन सोलह सिंगार कर के फिर से दुल्हन बन जाईये।  विवाहित जीवन फिर से खिल उठेगा। 
 🌺🌺चाँदनी

#स्त्री#प्यार#रिश्ता#सम्मान#शायरी

14 Love
1 Share