tags

Best womensafety Shayari, Status, Quotes, Stories

Find the Best womensafety Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 36 Followers
  • 35 Stories
  • Latest
  • Popular
  • Video

In severe cases where a woman or a girl's life is in danger, emergency cash can help facilitate access to immediate.

#Womensafety #Womenempowerment #Women #India #Womensupportingwomen #rapevictim #Stoprape #Feminism #Selfdefense

10 Love
30 Views

TUM APNI AWAAZ UTHA KE TOH DEKHO🎤💭🙋‍♀️
#Motivation #womensafety #story #fightforselfrespect #Instagram #womenday #SheTheHero #shayri #yqdidi #Nojoto
d'शायर Author shivam kumar mishra Suman Zaniyan katilsanju @Neeraj $

37 Love
979 Views
1 Share

""

"...रात्रि पहर में वीरान राहों से गुजरती स्त्रियों के अंतर्मन का भय समस्त पुरुष जाति के पौरुष पर लगा एक प्रश्नवाचक काला धब्बा है!!... ©@Writer Satya🇮🇳🇮🇳❤️"

...रात्रि पहर में वीरान राहों से गुजरती स्त्रियों के अंतर्मन का भय समस्त पुरुष जाति के पौरुष पर लगा एक प्रश्नवाचक काला धब्बा है!!...

©@Writer Satya🇮🇳🇮🇳❤️

#Women #safety #Womensafety #Nojoto

#ShiningInDark

13 Love

""

"Are women safe in india ? it is not just a million dollars question its a million daughters question ? ©shiv_schewah"

Are women safe in india ?

  it is not just a million
 dollars question 
its a million daughters 
question ?

©shiv_schewah

#womensafety #India #daughtersDay #daughter #Quotes #womensafetyinindia #womenquotes #girlquotes #schewah #writer

3 Love

""

"रात वो खामोश थी , नींद मेरी चिल्लाती रही हंसते-मुस्कुराते चेहरे थे वो , और मैं दर्द में कहराती रही नोचा था कण-कण से मुझे , मैं रोकना उनको चाहती थी कितनी कोशिश करने पर भी , वो हर बार मुझे हराती थी टूटते-बिखरते होंगे लोग , पर मैं पल-पल मरती रही होने को कुछ समय के लिए , दुनिया निर्भया-निर्भया करती रही अब भी ना जाने कितनी जिंदगी , निर्भया या दामिनी बन जाती हैं फिर कुछ दिन का कैंडल मार्च , या कोर्ट कोई सजा सुनाती है पर मैं किसको बयां करू , जो डर मुझे सताता है अब तो मन मेरा भी , बेटी होने से कतराता है आज फिर आँख खुली , एक ओर खंजर ने चीरा क्या गल्ती थी उस डॉक्टर की, जो नहीं समझे उसकी पीड़ा जंग लग गई समाज को , मानवता खोखली हो गई जलती आग की सिसकियों में, इक बेटी फिर विदा हो गई आखिर कब तक यूँ ही , डर डर कर हम जीते रहे क्या उनके कोई परिवार नहीं , जो करतूत ऐसे करते रहें अंधा हो गया हैं कानून , न्याय बेबस सा पड़ा हैं हवस हो गई चारों ओर , भगवान भी मोन खड़ा हैं पर मैं किसको बयां करू , जो डर मुझे सताता है अब तो मन मेरा भी , बेटी होने से कतराता है ©kanak lakhesar🖤"

रात वो खामोश थी ,
नींद मेरी चिल्लाती रही
हंसते-मुस्कुराते चेहरे थे वो ,
और मैं दर्द में कहराती रही
नोचा था कण-कण से मुझे ,
मैं रोकना उनको चाहती थी
कितनी कोशिश करने पर भी ,
वो हर बार मुझे हराती थी 
टूटते-बिखरते होंगे लोग ,
पर मैं पल-पल मरती रही
होने को कुछ समय के लिए ,
दुनिया निर्भया-निर्भया करती रही
अब भी ना जाने कितनी जिंदगी ,
निर्भया या दामिनी बन जाती हैं
फिर कुछ दिन का कैंडल मार्च ,
या कोर्ट कोई सजा सुनाती है
पर मैं किसको बयां करू ,
जो डर मुझे सताता है
अब तो मन मेरा भी ,
बेटी होने से कतराता है 
आज फिर आँख खुली ,
एक ओर खंजर ने चीरा
क्या गल्ती थी उस डॉक्टर की,
जो नहीं समझे उसकी पीड़ा
जंग लग गई समाज को ,
मानवता खोखली हो गई
जलती आग की सिसकियों में,
इक बेटी फिर विदा हो गई
आखिर कब तक यूँ ही ,
डर डर कर हम जीते रहे
क्या उनके कोई परिवार नहीं ,
जो करतूत ऐसे करते रहें
अंधा हो गया हैं कानून ,
न्याय बेबस सा पड़ा हैं
हवस हो गई चारों ओर ,
भगवान भी मोन खड़ा हैं
पर मैं किसको बयां करू ,
जो डर मुझे सताता है
अब तो मन मेरा भी ,
बेटी होने से कतराता है

©kanak lakhesar🖤

...


#kanaklakhesar #Life_experience #womensafety #Rape #Nojoto#poem

46 Love