tags

Best था Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best था Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 59 Followers
  • 84 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"मुझे सबसे अलग रखना ही उसका शौक था वरना वो सबकी हो सकती थी तो मेरी क्यूँ नहीं"

मुझे सबसे अलग रखना ही उसका शौक था
वरना वो सबकी हो सकती थी तो मेरी क्यूँ नहीं

#मुझे #सबसे #अलग #रखना #ही #उसका #शौक #था
#वरना #वो #सबका #हो #सकता #था #तो #मेरा #क्यूँ #नहीं

17 Love

"जो कमयाबी किसी के दिल को दर्द और मन को खामोश करदे जिन्दगी ज़ीने की वजह मरने को मज़बूर करदे ऐसी कामयाबी से बहतर नाकाम होना है"

जो कमयाबी किसी के दिल को दर्द और मन को खामोश करदे 
जिन्दगी ज़ीने की वजह मरने को
 मज़बूर करदे
ऐसी कामयाबी से बहतर नाकाम होना है

#ये #दिन #भी #देखने #को #मिलेंगे #सोचा #नहीं #था
#nojoto #nojoto #SAD

38 Love
2 Share

"वाकिफ़ तो रावण भी था अपने अंजाम से मगर, फिर भी युद्ध उन्होंने किया क्योंकि मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम जी ने उनका उद्धार जो कर दिया। -Sunil Kumar Sharma"

वाकिफ़ तो रावण भी था अपने अंजाम से मगर,  फिर भी युद्ध उन्होंने किया 
क्योंकि 
मर्यादा पुरुषोत्तम
श्री राम जी ने
उनका उद्धार जो कर 
दिया।

-Sunil Kumar Sharma

#nojotohindi #Storie #वाकिफ़ #तो #रावण #भी #था...............................

39 Love

"मैंने उसी से प्यार किया ही क्यू था? उस बेवफ़ा को दिल दिया ही क्यू था? यही सवाल मन में बार-बार घूमता है मेरे, मैने हर वक़्त उसको ख़ुश किया ही क्यू था"

मैंने उसी से प्यार किया ही क्यू था?
उस बेवफ़ा को दिल दिया ही क्यू था?
यही सवाल मन में बार-बार घूमता है मेरे,
मैने हर वक़्त उसको ख़ुश किया ही क्यू था

#प्यार#किया#ही#क्यू#था#nojoto

40 Love

"उस श्रृंगार से,उस इत्र से, जिस्म तो सँवर गया.... पर रूह का संभलना अभी बाक़ी था। उन ख्वाबों से,उन नींदों से, रात का गुज़ारा हो गया..... पर दिन का गुज़रना अभी बाक़ी था। उन हौसलों से,उन कदमों से, रास्ता तो तय हो गया..... पर मंज़िल पाना तो अभी बाक़ी था। उन प्रेरकप्रसंगों से,उन बातों से, दूसरों को बदल दिया गया..... पर ख़ुद में बदलाव लाना तो अभी बाक़ी था।"

उस श्रृंगार से,उस इत्र से, जिस्म तो सँवर गया....
पर रूह का संभलना अभी बाक़ी था।

उन ख्वाबों से,उन नींदों से, रात का गुज़ारा हो गया.....
पर दिन का गुज़रना अभी बाक़ी था।

उन हौसलों से,उन कदमों से, रास्ता तो तय हो गया.....
पर मंज़िल पाना तो अभी बाक़ी था।

उन प्रेरकप्रसंगों से,उन बातों से, दूसरों को बदल दिया गया.....
पर ख़ुद में बदलाव लाना तो अभी बाक़ी था।

अभी बाकी था...#HumanPotential #अभी#बाक़ी#था#nojoto#nojotohindi#

38 Love
1 Share