Best हाथी Stories

  • 9 Followers
  • 112 Stories

Suggested Stories

Best हाथी Stories, Status, Quotes, Shayari, Poem, Videos on Nojoto. Also Read about हाथी Quotes, हाथी Shayari, हाथी Videos, हाथी Poem and हाथी WhatsApp Status in English, Hindi, Urdu, Marathi, Gujarati, Punjabi, Bangla, Odia and other languages on Nojoto.

  • Latest Stories
  • Popular Stories
हो हौसला पहाड़ सा ,
शेर की दहाड़ सा ।
है मुश्किलें कुछ नही ,
बस राह की है ठोकरे  ।
बड़े चल , बड़े चल ,
खुद को बस तू झोंक रे ।
समय सब लील जायेगा ,
बाद तू पछतायेगा ।
अभी भुजा में जोर है ,
हवाओँ में भी शोर है ।
हाथी सा चिंघाड़ तू ,
फौलाद को भी फाड़ तू ।
राष्ट्र का तू है  युवा  तो,
इस राष्ट्र को दिशा दे ।
हर उठने वाली आँख का,
तू नामोनिशा  मिटा दे ।

हो #हौसला #पहाड़ सा ,
#शेर की #दहाड़ सा ।
है #मुश्किलें कुछ नही ,
बस #राह की है #ठोकरे ।
बड़े चल , बड़े चल ,
#खुद को बस तू #झोंक रे ।
#समय सब लील जायेगा ,
बाद तू #पछतायेगा ।
अभी #भुजा में #जोर है ,
#हवाओँ में भी #शोर है ।
#हाथी सा #चिंघाड़ तू ,
#फौलाद को भी #फाड़ तू ।
#राष्ट्र का तू है #युवा तो,
इस राष्ट्र को दिशा दे ।
हर उठने वाली #आँख का,
तू #नामोनिशा #मिटा दे ।
- राणा ©
#Nojoto #nojotohindi #hindinojoto #Hindi #YouthDay #Vivekananda #youth #विवेकानंद

61 Love
5 Comment
जाति ना पूछो वोटर क़ी( कविता )
-कुमार मुकेश-

अनुशीर्ष में पढ़े.. #NojotoQuote

"जाति ना पूछों वोटर की" (कविता)

चुनावी घमासान से देश हल्कान पड़ा है
हर चैराहे पर, क़िसी न क़िसी पार्टी का प्रत्यासी खड़ा है
सभी दल राम के सहारे हो चले है
नास्तिक नेता अब आस्तिक हो चले है

चुनाव में हर नेता सड़क पर होता हैं
जीतकर सदन में जाने का सपना सँजोता है
इसके लिए वो मंदिर-मस्ज़िद जाता हैं
वोट के ख़ातिर जातिवाद अपनाता है
ख़ैर चुनाव के बाद उसकी कोई जाति नहीं रहती
वह एक नई प्रजाति का प्राणी हो जाता हैं
जिसे हमारे यहाँ नेता कहा जाता है

इसी गहमागहमी में एक दिन एक ब्राह्मण प्रत्यासी ने मुझसे कहा-
माथे पर तिलक! ब्राह्मण लगतें हो
मुझें ही वोट दो क्या कहते हो
मैं अपनी जाति का विकास करता हूँ
अपनी जाति के हक़ में भरसक लड़ता हूँ

मैंने कहा मैं प्रगतिशील हूँ ,मैं जाति में विश्वास नहीं रखता हूँ
इसलिए तो मैं अपनी जाति नहीं लिखता हूँ
उसके अनुरोध में जुड़े हाथ विरोद्ध पर उतर आये..
उसने बोला-इस इलाक़े में रहना है तो वोट मुझें ही देना होगा
अपनी सलामती चाहते हो तो जय श्री राम कहना होगा...

मैं कुछ समझ पाता कि तभी दूसरा प्रत्यासी आया... ख़ुद क़ो चन्द्रगुप्त मौर्य का वंशज बताया..
वह 'गुप्ता' सरनेम को 'गुप्त' की तरह ट्रीट करता था
ऐसे तैसे उन्हें अपनी जाति में फ़िट करता था..
मैंने कहा -आप तो कुमार गुप्त क़े वंशज है
अभी भी इतिहासकारों में चंद्रगुप्त मौर्य के जाति के सन्दर्भ में द्वन्द है
फ़िर आपका उनसे कैसा संबंध है?

वह बोले - इतिहास बस कल्पना होता है
सत्य से कोशों दूर होता है
मैं तो साक्षात आपके सामने खड़ा हूँ...
आप मेरे आधुनिक चाणक्य ,मैं चंद्रगुत सा आपके चरणों में पड़ा हूँ
अब तो मगध दिला दो माजराज
बस थोड़ी सी मद्द कर दो ना आज़..

तभी एक क्षत्रिय प्रत्यासी आ टपका और बोला-हे! वोटर देवता ,अपना आशीर्वाद मुझ पर बरसायिये...
हम सुर वीरों के वंशज है गद्दी पर हमें ही बैठाईये..
मैंने कहा-आशीर्वाद तो दे दूँगा मग़र evm का बटन अपनी मर्ज़ी से दबाऊंगा..
जो होगा शिक्षित,नेक, ईमानदार उसे ही गद्दी पर बैठाऊंगा..
उसका राजपुताना ख़ून खौला और उसने बोला-
आशीर्वाद गया तेल लेने, तुम्हे अपना वोट मुझें ही देना पड़ेगा
वरना तुम्हें अपने जान से हाथ धोना पड़ेगा

तभी दलित प्रत्यासी ने इंट्री लगाई
और अपने पिछड़ेपन का देने लगा दुहाई...
बोला- वोटर देवता आज़ आरक्षण से भले हम पद में बड़े है
लेक़िन देख़ो ना अब भी हम हाशिये पर खड़े है
हमारे हाथी पर बैठों औऱ सैर पर चलो
छोड़ो सबकों मेरे सँग मौज़ पर चलो

मैंने कहा- भाई साहब मुझें स्कूटर पर भी डर लगता है
हाथी पर से तो मैं गिर ही जाऊँगा
ऐसे ना डरावों वरना हर्ट अटैक से मर ही जाऊँगा...

सभी प्रत्यासी मुझसे अकड़ने लगे
मेरे वोट के ख़ातिर आपस में लड़ने लगे
मैंने सबकों शांत कराया फ़िर बड़े आराम से समझाया
देख़ो जाति-धर्म से पहले मैं इंसान गिना जाता हूँ
फ़िर उसके बाद में हिंदू कहलाता हूँ
वोट उसी को दूँगा जो इंसानियत, विकास और एकता पर काम करेगा
अब आप लोग यहाँ से जाइये मुझे माफ़ करियेगा
#Nojoto#Quotes#मk

33 Love
4 Comment
एक चीता सिगरेट का कशलगाने ही वाला था कि अचानकचूहा वहां आया और बोला,😂😅
"भाई छोड़ दो नशा,जिंदगी बहोत कीमती है,😂😅
आओ मेरे साथ, देखो जंगल कितना खूबसूरत है।
"चीता चूहे के साथ चल दिया।
आगे हाथी कोकीन ले रहा था,चूहा फिर बोला, "भाई छोड़ दो नशा,😂😅
जिंदगी बहोत कीमती है,आओ मेरे साथ,देखो जंगल
कितना खूबसूरत है।"हाथी भी साथ चल दिया।
आगे बंदर हुक्का पी रहा था ,😇😝
चूहा फिर बोला, "भाई छोड़ दो नशा,
जिंदगी बहोत कीमती है,😂😅आओ मेरे साथ,
देखो जंगल कितना खूबसूरत है।
"बंदर भी साथ चल दिया।😂😅
आगे शेर व्हिस्की पीने की तैयारी कर रहा था,
चूहे ने उसे भी वही कहा।😇😝
शेर ने ग्लास साइड पर रखा और चूहे को 5-6
थप्पड़ मारे।हाथी बोला: अरे क्यों मार रहे हो इस बेचारे को?शेर बोला
, "ये साला रोज़ भांग पीके ऐसे ही😇😝
सबको पूरी रात जंगल घुमाता है।
😜😜😜😜😜😜😜😜l

 

2 Love
0 Comment
एक हाथी और चिटी थे तो हाथी  बाईक चला रही थी एकसीडेनट हुआ और हाथी मर गई और चिटी बच गयी बोलो कैसे  

(पहेली)

पहेली

5 Love
0 Comment
बहुत याद आता है,

मुझे बचपन मेरा,

निकल आया अब बहुत दूर

बुलाता रहता अब घर मेरा।

अब जाने कहां,
किस किताब में दफन हो गया बचपन,
अब दिखता ही नहीं,
अनजान शहर में अपनापन।

#बचपन #nojotohindi

बहुत याद आता है,

मुझे बचपन मेरा,

निकल आया अब बहुत दूर

बुलाता रहता अब घर मेरा।


कहीं भी निकल जाते,

कहीं भी ठहर जाते,

खयाल बिल्कुल नहीं आता घर का,

बीत चाहे कितने पहर जाते।


बस खेल ही अपना जीवन लगता,

और खेल ही अपना जीवनसाथी,

पापा भी खिलाते हमें,

घोड़ा घोड़ा और हाथी हाथी।


गोद में माँ की,

करते बहाना सोने का,

जिद न पूरी हो तो,

करते नाटक रोने का।


लौकी, करेला भिंडी तो,

कभी न हमें भाती

मटर पनीर, आलू रोटी,

माँ अपने हाथों से खिलाती।


पापा हमेशा जाते,

पहुँचाने हमें स्कूल,

वहाँ हमें मिलता,

वातावरण अपने अनुकूल।


लंच समय में भी,

हम खेलते रहते दीवार पर चढ़ चढ़ के,

शाम को मासूम हो के कहते,

माँ बहुत थक गया पढ़ पढ़ के।


बहुत याद आती है,

उस समय की मासूमियत,

क्रोध भी तभी आता,

जब कर दे कोई शिकायत।


अब जाने कहाँ,

किस किताब में दफन हो गया बचपन,

अब दिखता ही नहीं कभी,

अनजान शहर में अपनापन।

12 Love
0 Comment