tags

Best कल Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best कल Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 1947 Followers
  • 10290 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"देखो न आज फिर बिजली का कड़कना काली घटा सावन का दौर आने वाला है सायद ज़िन्दगी में फिर कोइ बदलाव आने वाला है"

देखो न आज फिर बिजली का कड़कना
 काली घटा 
सावन का दौर आने वाला है 
सायद ज़िन्दगी में फिर कोइ 
बदलाव आने वाला है

इतना भी #गुरुर मत कर यह #वक्त है यह कभी #कैद नहीं होता
आज यह #तुम्हारा है #कल किसी और का होगा

11 Love

"आज हकीकत हूं कल खबर बन जाऊंगा आज अकेला कल धूल में मिल जाऊंगा आज जीवित हूं कल पाषाण बन जाऊंगा कभी आंसू बन कर तेरी आंखों में आ जाऊंगा बहुत नाराज़ रहते हो मुझसे आजकल कल बस गुमनाम किस्सा बन कर रह जाऊंगा.."

आज हकीकत हूं कल खबर बन जाऊंगा
आज अकेला कल धूल में मिल जाऊंगा

आज जीवित हूं कल पाषाण बन जाऊंगा 
कभी आंसू बन कर तेरी आंखों में आ जाऊंगा

बहुत नाराज़ रहते हो मुझसे आजकल
कल बस गुमनाम किस्सा बन कर रह जाऊंगा..

#nojotohindi#कल#वक़्त#Poetry

11 Love

"कल चौदहवीं की रात थी सूरत तेरी सीरत मेरी कह नही सकता दिन था के रात थी उमर यूही गुजर जाये तेरा हाथ थामे अफसोस मगर ये तो बस एक रात थी कल चौदहवीं कि रात थी चेहरा तेरा कहता है बहुत कुछ खामोश लब बोलते है बहुत कुछ तेरे ख्वाबो में गुजरी क्या हसी रात थी जुल्फे तेरी बादल रेशमी पाज़ेब तेरी आवाज़ सुरीली आंखे तेरी क़ातिल मेरी मर हि जाते मगर कल चौदहवीं की रात थी अब दीवाने होकर कहा जाये कूचा तेरा ,जंगल तेरा , परबत तेरा, शहर तेरा मेरी तो बस ये रात थी कल चौदहवीं की रात थी"

कल चौदहवीं की रात थी
सूरत तेरी सीरत मेरी 
कह नही सकता 
दिन था के रात थी
उमर यूही गुजर जाये तेरा हाथ थामे
अफसोस मगर ये तो बस एक रात थी
कल चौदहवीं कि रात थी
चेहरा तेरा कहता है बहुत कुछ
खामोश लब बोलते है बहुत कुछ
तेरे ख्वाबो में गुजरी क्या हसी रात थी
जुल्फे तेरी बादल रेशमी
पाज़ेब तेरी आवाज़ सुरीली
आंखे तेरी क़ातिल मेरी          
मर हि जाते मगर
कल चौदहवीं की रात थी
अब दीवाने होकर कहा जाये
कूचा तेरा ,जंगल तेरा , परबत तेरा, शहर तेरा 
मेरी तो बस ये रात थी
कल चौदहवीं की रात थी

#कल चौदहवीं की रात थी

11 Love

"बीता हुआ पल उसकी फितरत परिंदों सी थी मेरा मिज़ाज दरख़्तों जैसा उसे उड़ जाना था और मुझे कायम ही रहना था"

बीता हुआ पल उसकी फितरत परिंदों सी थी 
मेरा मिज़ाज दरख़्तों जैसा 
उसे उड़ जाना था 
और मुझे कायम ही रहना था

#बीता#कल

17 Love

"Bitter Truth जो समाचार पत्र पिछले 9 दिनों से दुर्गा माँ के रूपों से छपे पड़े थे...कल से अगले 9 दुर्गा आने तक महिलाओं से छेड़छाड़, बलात्कार,अपहरण,एसिड अटैक,देहज उत्पीडन जैसी घटनाओं से पटे रहेंगे,और महिलाएं किसी से रक्षा की उम्मीद भी छोड़ दे क्योकि कल रावण भी जल दिया जाएगा।"

Bitter Truth जो समाचार पत्र पिछले 9 दिनों से दुर्गा माँ के रूपों से छपे पड़े थे...कल से अगले 9 दुर्गा आने तक महिलाओं से छेड़छाड़, बलात्कार,अपहरण,एसिड अटैक,देहज उत्पीडन जैसी घटनाओं से पटे रहेंगे,और महिलाएं किसी से रक्षा की उम्मीद भी छोड़ दे क्योकि कल रावण भी जल दिया जाएगा।

कड़वा सत्य...

17 Love