tags

Best सुबह Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best सुबह Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 937 Followers
  • 5912 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"Morning and Wind सुबह और हवा मतलब एक तरफ एक नई शुरुआत तो दूसरी तरफ एक अछूआ अहसास। -Sunil Kumar Sharma"

Morning and Wind  सुबह और हवा मतलब एक
तरफ एक नई शुरुआत  
तो दूसरी तरफ एक अछूआ 
अहसास।

-Sunil Kumar Sharma

#nojotohindi #Storie #सुबह #और #हवा...............................................

22 Love

"उसकी लूटी आबरू से रूबरू , जब सुबह का अख़बार हुआ तब उसका बलात्कार एक बार नही हज़ार हज़ार बार हुआ"

उसकी लूटी आबरू से रूबरू , जब सुबह का अख़बार हुआ
तब उसका बलात्कार एक बार नही हज़ार हज़ार बार हुआ

#सुबह #अखबार #इज़्ज़त #Rape #nojoto

25 Love
1 Share

"मुझे सुबह से उठाने का हुनर मेरी माँ को खूब आता है.. मेरे सिरहाने चाय को रख देती है जिसका स्वाद मुझे खूब भाता है।। मेरी सुबह"

मुझे सुबह से उठाने का हुनर मेरी माँ को खूब आता है..
मेरे सिरहाने चाय को रख देती है जिसका स्वाद मुझे खूब भाता है।।
    मेरी सुबह

#सुबह
#चाय के #साथ
#Nojoto

13 Love

"सुनो! पत्तों पर गिरी ओस की बूंद सी हूँ मैं, जो ये रात बीत गई तो सुबह न मिलूंगी मैं। अपना कोई रंग नहीं है उसी का अपनाया, जिस भी चीज़ पर आसमां से गिरी हूँ मैं। जो जकड़ना चाहोगे कभी तुम मुझको, बनकर पानी हथेली पे बिखर जाऊंगी मैं। जो देखा प्यार भरी नजर से मुझे तुमने, तुमको तुम्हारा ही अक्स दिखाऊँगी मैं। आसमाँ से गिरी पत्तों पर सर्द सी रातों में, दर्द की हवाओं में सूख ही जाऊँगी मैं। ©सखी"

सुनो! पत्तों पर गिरी ओस की बूंद सी हूँ मैं,
जो ये रात बीत गई तो सुबह न मिलूंगी मैं।

अपना कोई रंग नहीं है उसी का अपनाया,
जिस भी चीज़ पर आसमां से गिरी हूँ मैं। 

जो जकड़ना चाहोगे कभी तुम मुझको,
बनकर पानी हथेली पे बिखर जाऊंगी मैं।

जो देखा प्यार भरी नजर से मुझे तुमने,
तुमको तुम्हारा ही अक्स दिखाऊँगी मैं।

आसमाँ से गिरी पत्तों पर सर्द सी रातों में,
दर्द की हवाओं में सूख ही जाऊँगी मैं।

©सखी

#ओस #बूँद #सुबह #अक्स

12 Love

"साँझ हर सांझ एक नई उम्मीद दे जाती है की नई सुबह से जीवन की नई शुरुआत हो जाती है, चांदनी की फिक्र होती है, सूरज को इसलिए सांझ छोड़ जाती है"

साँझ हर सांझ एक नई उम्मीद दे जाती है
की नई सुबह से जीवन की नई शुरुआत हो जाती है,
चांदनी की फिक्र होती है, सूरज को इसलिए
सांझ छोड़ जाती है

हर #सांझ एक नई #उम्मीद दे जाती है
की नई #सुबह से #जीवन की नई #शुरुआत हो जाती है,
#चांदनी की फिक्र होती है, #सूरज को इसलिए
सांझ छोड़ जाती है

#sagarpal151295

11 Love