tags

Best तुम्हारा Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best तुम्हारा Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 1195 Followers
  • 6965 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"सफ़र ❤कितना सुंदर हो सफ़र जब साथ हो तुम्हारा । राहें मुष्किल हो जाती हैं । जब हाथों में हाथ हो तुम्हारा । राह में अकेला छोड़ के, न करना कोई बहाना। साथी मेरे साथ निभाना । जीवन के सफर में , मुझे बस तेरे साथ हैं चलना।❤"

सफ़र 
❤कितना सुंदर हो सफ़र
जब साथ हो तुम्हारा ।
        राहें मुष्किल हो जाती हैं ।
               जब हाथों में हाथ हो तुम्हारा ।
राह में अकेला छोड़ के,
न करना कोई बहाना।
साथी मेरे साथ निभाना ।
जीवन के सफर में ,
मुझे बस तेरे साथ हैं चलना।❤

सफर

299 Love
2 Share

""

"जिन लबों से तुमने कहा था कि मैं तुम्हारी रानी हूँ, रानी ही रहूँगी उन लबों को चूम लिया था मैंने तुम्हारी चाहत में जीना चाहती थी, पर तुम्हारी आंखें मेरा मौत देख रही थी मरना ही तुम्हारी बाहों में मैंने मुनासिब समझा मेरे क़ातिल तुम्हारे हाथों में खंजर तो पहले ही देख लिया था मैंने..."

जिन लबों से तुमने कहा था 
कि मैं तुम्हारी रानी हूँ, रानी ही रहूँगी
उन लबों को चूम लिया था मैंने

तुम्हारी चाहत में जीना चाहती थी,
पर तुम्हारी आंखें मेरा मौत देख रही थी

मरना ही तुम्हारी बाहों में मैंने मुनासिब समझा 
मेरे क़ातिल तुम्हारे हाथों में खंजर तो 
पहले ही देख लिया था मैंने...

🅖🅐🅜🅔 🅞🅕 🅣🅗🅡🅞🅝🅔🅢
........................................................


I never wished for this ending
.................
A love tale from eyes of Dany...
..............................

298 Love
6 Share

""

"इश्क होना भी जरुरी सिलसिले के वास्ते ये तजुर्बा जिन्दगी में काम आएगा आशिकी के रास्तों से दूर होंगे हम बस तुम्हारा बस तुम्हारा नाम आएगा"

इश्क होना भी जरुरी सिलसिले के वास्ते 
ये तजुर्बा जिन्दगी में काम आएगा 
आशिकी के रास्तों से दूर होंगे हम
बस तुम्हारा बस तुम्हारा नाम आएगा

@Dhruv Bali aka Darvesh Danish @Deepika Dubey @Nidhi Dehru @Vani Princess @Leelawati Sharma #कसक #nojotohindi #SAD #Love #true गीत गाना चाहते हैं😍😍

234 Love
8 Share

""

"जब तुम दुखी होती हो तो मुझे भी बहुत दुख होता है, मैं हर समय यही भगवान से pray करता हूँ कि तुम्हे कभी भी कोई दुख ना हो, तुम्हारे सारे गम मुझे मिल जाए. तुम्हारा हसता हुआ चेहरा तुम्हे और भी ज़्यादा खूबसूरत बना देता है, कभी अपनी हसी को कम मत करना.. जब भी मैं तुम्हे देखता हू तो ऐसा क्यूँ लगता है कि तुम मेरे जैसी हो ? ऐसा क्यूँ लगता है कि तुम मेरे लिए ही बनी हो ? सायद मैं पागल हो गया हू, पर ये पागलपन की वजह तो तुम ही हो ना.. कभी तुम नजर नही आती तो मेरी आखें तुम्हे ढूँढती है.. जब भी तुम मुझसे बातें करती हो तो ऐसा लगता है कि ये समय रुक क्यूँ नही जाता .. पर ये समय बड़ा ही धोखेबाज है जो हमको तुमसे जुदा करता रहता है. तुम्हे कितना चाहता हूँ ये मैं भी नहीं जनता, मैं ये भी नहीं जानता कि कब तुम नजरों से गुजरते हुए मेरे दिल में बस गई हो. मेरे दिल में अब तुम्हारा ही राज है. आज तक मैं ये ही सोचता था कि दिल धड़कता है तो इंसान जिन्दा रहता है पर ये नहीं पता था कि दिल को धड़कने के लिए भी एक वजह कि जरुरत होती है, और वो वजह हो तुम. तुम मेरे सामने होते हो तो मेरे दिल को बहुत अच्छा लगता है. ऐसा लगता है कि मेरा दिल सिर्फ तुम्हे ही ढूंढता है धड़कने के लिए, तुम ना होती हो तो दिल थम सा जाता है. सायद इसी को प्यार कहते है और सायद इसी को प्यार में पागल होना कहते है. सुना है प्यार में लोग पागल हो जाते है, आज मुझे इसका एहसास हुआ. ऐसा एहसास जो मुझे सकून देता है, तुम्हारे होने से मेरे दिल को चैन मिलता हैजब से तुम्हे देखा है मेरी हर ख्वाहिस तुम से जुड़ गई है, मेरी हर दुआ अब तुम्हारी हो गई है.. कहते है की पहली नज़र का प्यार दीवाना बना देता है, और ऐसा ही हुआ मेरे साथ… नेरी नींद में भी तुम आती हो,,,, हर सपने में तुम्हे देखने की उम्मीद होती है.. हर पल तुम्हारी यादो में खोया रहता हू… मेरी मंज़िल तुम से सुरू हुई है और तुम्ही पर ख़तम होगी , जिंदगी में कोई अपना सा लगा, जिसे मैं अपनी जिंदगी बनाना चाहता हू.. मैं कुछ ज्यादा ही सपने देखता हूँ, पर सपने तो वही देखते है जिनके सपने पुरे होते है.. सायद तुमसे मिलने का सपना मेरा भी पूरा हो जाये.. मुझे पता नही कि मैं जो कर रहा हूँ वो सही है या ग़लत… पर मैं कर रहा हू, मैने जिंदगी में पहली बार अपने दिल की सुनी और तुमसे प्यार कर बैठा.. अब तो मेरा दिल भी मेरा साथ नही देता, ये तो बस तुम्हारे लिए धड़कता है.. तुम जब से मेरी जिंदगी मे आई हो मुझे जिंदगी से मोहब्बत हो गई है. तुम्हारी मुस्कान से ही मुझे खुशी मिलती है, तुम मिलो या ना मिलो मैं तो बस तुम्हे चाहता हू.. और चाहता रहूँगा…"

जब तुम दुखी होती हो तो मुझे भी बहुत दुख होता है, मैं हर समय यही भगवान से pray करता हूँ कि तुम्हे कभी भी कोई दुख ना हो, तुम्हारे सारे गम मुझे मिल जाए. तुम्हारा हसता हुआ चेहरा तुम्हे और भी ज़्यादा खूबसूरत बना देता है, कभी अपनी हसी को कम मत करना..
जब भी मैं तुम्हे देखता हू तो ऐसा क्यूँ लगता है कि तुम मेरे जैसी हो ? ऐसा क्यूँ लगता है कि तुम मेरे लिए ही बनी हो ? सायद मैं पागल हो गया हू, पर ये पागलपन की वजह तो तुम ही हो ना.. कभी तुम नजर नही आती तो मेरी आखें तुम्हे ढूँढती है.. जब भी तुम मुझसे बातें करती हो तो ऐसा लगता है कि ये समय रुक क्यूँ नही जाता .. पर ये समय बड़ा ही धोखेबाज है जो हमको तुमसे जुदा करता रहता है. तुम्हे कितना चाहता हूँ ये मैं भी नहीं जनता, मैं ये भी नहीं जानता कि कब तुम नजरों से गुजरते हुए मेरे दिल में बस गई हो. मेरे दिल में अब तुम्हारा ही राज है. आज तक मैं ये ही सोचता था कि दिल धड़कता है तो इंसान जिन्दा रहता है पर ये नहीं पता था कि दिल को धड़कने के लिए भी एक वजह कि जरुरत होती है, और वो वजह हो तुम.
तुम मेरे सामने होते हो तो मेरे दिल को बहुत अच्छा लगता है. ऐसा लगता है कि मेरा दिल सिर्फ तुम्हे ही ढूंढता है धड़कने के लिए, तुम ना होती हो तो दिल थम सा जाता है. सायद इसी को प्यार कहते है और सायद इसी को प्यार में पागल होना कहते है. सुना है प्यार में लोग पागल हो जाते है, आज मुझे इसका एहसास हुआ. ऐसा एहसास जो मुझे सकून देता है, तुम्हारे होने से मेरे दिल को चैन मिलता हैजब से तुम्हे देखा है मेरी हर ख्वाहिस तुम से जुड़ गई है, मेरी हर दुआ अब तुम्हारी हो गई है.. कहते है की पहली नज़र का प्यार दीवाना बना देता है, और ऐसा ही हुआ मेरे साथ… नेरी नींद में भी तुम आती हो,,,, हर सपने में तुम्हे देखने की उम्मीद होती है.. हर पल तुम्हारी यादो में खोया रहता हू…
मेरी मंज़िल तुम से सुरू हुई है और तुम्ही पर ख़तम होगी , जिंदगी में कोई अपना सा लगा, जिसे मैं अपनी जिंदगी बनाना चाहता हू..
मैं कुछ ज्यादा ही सपने देखता हूँ, पर सपने तो वही देखते है जिनके सपने पुरे होते है.. सायद तुमसे मिलने का सपना मेरा भी पूरा हो जाये..
मुझे पता नही कि मैं जो कर रहा हूँ वो सही है या ग़लत… पर मैं कर रहा हू, मैने जिंदगी में पहली बार अपने दिल की सुनी और तुमसे प्यार कर बैठा.. अब तो मेरा दिल भी मेरा साथ नही देता, ये तो बस तुम्हारे लिए धड़कता है..
तुम जब से मेरी जिंदगी मे आई हो मुझे जिंदगी से मोहब्बत हो गई है. तुम्हारी मुस्कान से ही मुझे खुशी मिलती है, तुम मिलो या ना मिलो मैं तो बस तुम्हे चाहता हू.. और चाहता रहूँगा…

जब तुम दुखी होती हो तो मुझे भी बहुत दुख होता है, मैं हर समय यही भगवान से pray करता हूँ कि तुम्हे कभी भी कोई दुख ना हो, तुम्हारे सारे गम मुझे मिल जाए. तुम्हारा हसता हुआ चेहरा तुम्हे और भी ज़्यादा खूबसूरत बना देता है, कभी अपनी हसी को कम मत करना..
जब भी मैं तुम्हे देखता हू तो ऐसा क्यूँ लगता है कि तुम मेरे जैसी हो ? ऐसा क्यूँ लगता है कि तुम मेरे लिए ही बनी हो ? सायद मैं पागल हो गया हू, पर ये पागलपन की वजह तो तुम ही हो ना.. कभी तुम नजर नही आती तो मेरी आखें तुम्हे ढूँढती है.. जब भी तुम मुझसे बातें करत

200 Love
2 Share

""

"इंतज़ार ◆◆◆◆ एक दिया राह में जलाये बैठी हूँ। मैं इंतज़ार में पलके बिछाये बैठी हूँ। सुना है पसन्द है उसको भी लाज इसलिये घूंघट गिराये बैठी हूँ। इनायत उसकी किसी दिन तो होगी मैं दिल को अपने समझाये बैठी हूँ। कमबख्त इश्क़ है कि सुनता नही मैं धड़कनों को राह में सजाये बैठी हूँ। न होश है वक्त का न ख्याल है कुछ मैं कुछ यूँ होशो हवास गँवाये बैठी हूँ। न छोड़ती हूँ आस, न फिक्र है कोई भी मैं तसल्ली में दिल बहलाये बैठी हूँ। किसी दिन तो आएगा सितमगर महबूब मैं उस छलिया को दिल में बसाये बैठी हूँ। उतार दी है पायल बजने के डर से मैंने मैं फूलों से खुद को सजाये बैठी हूँ। अब होगयी देखो इंतज़ार की हद बेहद मैं पलकों को द्वार पर बिछाये बैठी हूँ। हर आने जाने वाले से पूछती हूँ पता इतना खुद को पागल बनाये बैठी हूँ। तरस गयी हूँ एक नज़र को तुम्हारी मैं इस प्रेम इश्क़ में खुद को छले बैठी हूँ। एक बार दीदार हो दौड़कर गले से लगा लूँ मैं खुद को इत्र से नहलाये बैठी हूँ। मेरे प्रेम की परीक्षा मत लेना कभी मैं रग रग में नाम तुम्हारा लिखवाये बैठी हूँ क्या पता कब छोडूं तन ये मिट्टी का मैं हर साँस पर नाम तुम्हारा गुदवाये बैठी हूँ। कुछ इस तरह से रूह में तुम्हे छुपाये बैठी हूँ। - नेहा शर्मा"

इंतज़ार
◆◆◆◆

एक दिया राह में जलाये बैठी हूँ।
मैं इंतज़ार में पलके बिछाये बैठी हूँ।
सुना है पसन्द है उसको भी लाज
इसलिये घूंघट गिराये बैठी हूँ।
इनायत उसकी किसी दिन तो होगी
मैं दिल को अपने समझाये बैठी हूँ।
कमबख्त इश्क़ है कि सुनता नही 
मैं धड़कनों को राह में सजाये बैठी हूँ।
न होश है वक्त का न ख्याल है कुछ
मैं कुछ यूँ होशो हवास गँवाये बैठी हूँ।
न छोड़ती हूँ आस, न फिक्र है कोई भी
मैं तसल्ली में दिल बहलाये बैठी हूँ।
किसी दिन तो आएगा सितमगर महबूब
मैं उस छलिया को दिल में बसाये बैठी हूँ।
उतार दी है पायल  बजने के डर से मैंने
मैं फूलों से खुद को सजाये बैठी हूँ।
अब होगयी देखो इंतज़ार की हद बेहद
मैं पलकों को द्वार पर बिछाये बैठी हूँ।
हर आने जाने वाले से पूछती हूँ पता 
इतना खुद को पागल बनाये बैठी हूँ।
तरस गयी हूँ एक नज़र को तुम्हारी
मैं इस प्रेम इश्क़ में खुद को छले बैठी हूँ।
एक बार दीदार हो दौड़कर गले से लगा लूँ
मैं खुद को इत्र से नहलाये बैठी हूँ।
मेरे प्रेम की परीक्षा मत लेना कभी
मैं रग रग में नाम तुम्हारा लिखवाये बैठी हूँ
क्या पता कब छोडूं तन ये मिट्टी का
मैं हर साँस पर नाम तुम्हारा गुदवाये बैठी हूँ।
कुछ इस तरह से रूह में तुम्हे छुपाये बैठी हूँ।
- नेहा शर्मा

kanha prem 😘😍

169 Love
7 Share