Best आगे Stories

  • 332 Followers
  • 5011 Stories

Suggested Stories

Best आगे Stories, Status, Quotes, Shayari, Poem, Videos on Nojoto. Also Read about आगे Quotes, आगे Shayari, आगे Videos, आगे Poem and आगे WhatsApp Status in English, Hindi, Urdu, Marathi, Gujarati, Punjabi, Bangla, Odia and other languages on Nojoto.

  • Latest Stories
  • Popular Stories
सुनो ! तुम ज़्यादा हमारे बारे में सोचना मत,
जो हुआ उसके लिए खुद को कोसना मत,
मैंने मान लिया , इतना ही था हमारा साथ,
तुम खुद को ज़िन्दगी में आगे बढ़ने से रोकना मत।

शायद! जो हुआ वो तुम्हारे भी बस में नहीं था,
साथ रहने की कसमें खाई भर थी,
तुम्हे उन्हें निभाना नहीं था,
तो अब बीती बातो को में में रखना मत,
तुम खुद को ज़िन्दगी में आगे बढ़ने से रोकना मत।

शायद ! तुम्हारे जाने की आहट पहले ही भाप गया था मैं
कोशिश पूरी की थी रोकने की पर हार गया था मै
अब चली ही गई हो तो रात को सोने से पहले मुझे याद करना मत,
तुम खुद को ज़िन्दगी में आगे बढ़ने से रोकना मत।

तुम्हे मुझसे दूर, ज़िन्दगी खूबसूरत दिखने लगी थी,
मेरा हर सच तुम्हे झूठ सी लगने लगी थी,
हमारे रिश्ते को कुछ लोगो की बातो में आकर छोड़ दिया,
"Touch Wood" वाली  सारी कसमें खुद ही टुडे दिया,
ख़ैर, अब कभी ज़िन्दगी में रोना मत,
तुम खुद को ज़िन्दगी में आगे बढ़ने से रोकना मत।

#nojoto #hindishayri #hindipoetry #Life #Love #Pyar #rishte

4 Love
0 Comment
तेरे आगे ते मैं                                                 करदा                                                                ए अ्अज                                                   सजदा,..,                                                       तेरे आगे ते कोई हौर                                            ना जचदा।,,

सजदा#जचदा,#nojotohindi#nojotoLove#...#sayari..❤❤❤

36 Love
9 Comment
आगे कुआ पीछे खाई है 
जिन्दगी कैसे मोड़ पर लाई है

लाख कर लो इस दुनिया से वफ़ा
ये दुनिया करती सिर्फ बेवफाई है

आगे कुआ पीछे खाई है 
जिन्दगी कैसे मोड़ पर लाई है

Ravish singh

 

5 Love
0 Comment
वक्त की रफ्तार तय है
वह अपनी रफ्तार से आगे बढता है 
आप भी अपनी रफ्तार तय कर  लिजिए फिर देखिए वक्त आगे निकलता है या आप

time and you

10 Love
0 Comment
दिल पर कोई जोर नहीं। 
with १००words

#१00 शब्दो की कहानी
दिल पर कोई जोर चलता नहीं,
तभी तो पीहू,वो सपने पूरे करने मेरठ चली गयी। अपने जंहा से मीलो दूर, पीहू को सपने पूरे करने की ललक, कुछ कर जाने का तमन्नाा, डिप्लोमा के बाद इंटर्न शिप और फिर जॉब, जिंदगी की दौड़ में शामिल थी वो, पर उसका जी तो जैसे किसी कॉलेज में लिब्रेरी मे घुम रहा हो। एक रात उसे डिग्री की पढाई के लिए msg आया आपकी आवेदन को स्वीकृति मिल गयी है, आप जाब के साथ आगे पढ़ सकती है।
अगली सुबह उसने जैसे तेसै लगने वाली फीस का इंतज़ाम किया और मेरठ के लिए निकल गयी। आज पीहू अपने संघर्ष के साथ आगे बढ़ रही है। हाँ वो पढ़ रही हैं। आज वो अपने दिल की बुते दिमाग से चल रही हैं। क्यों की दिल पर कोई जोर नहीं चलता।

29 Love
0 Comment
1 Share