tags

Best बरगद Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best बरगद Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 13 Followers
  • 66 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"क्यों बरगद की शाख पर परिंदे नहीं दिखते, अब गाँव के वो पुराने घरौंदे नहीं दिखते, कहते हैं जो आशिक़ यहाँ खुद को, उनकी आँखों मे किसी को दरिंदे नहीं दिखते... #NojotoQuote"

क्यों बरगद की शाख पर परिंदे नहीं दिखते,
अब गाँव के वो पुराने घरौंदे नहीं दिखते,
कहते हैं जो आशिक़ यहाँ खुद को,
उनकी आँखों मे किसी को दरिंदे नहीं दिखते... #NojotoQuote

आशिक़
Asleep...........
#Life #परिंदे #गाँवशहर #बरगद #आशिक़ #Quote #Stories #qotd #Quoteoftheday #wordporn #Quotestagram #wordswag #wordsofwisdom #inspirationalquotes #writeaway #Thoughts #Poetry #instawriters #writersofinstagram #writersofig #writersofindia #igwriters #igwritersclub

271 Love
21 Share

""

" "

आज मिथिलांचल का एक लोकप्रिय पर्व है जिनका नाम बरसाइत अर्थात वट-सावित्री पूजा।भारतीय संस्कृति में यह व्रत आदर्श नारीत्व का प्रतीक है।
इस पूजा मे सुहागिन महिलाएं अपने पति की लम्बी आयु की कामना करती है। परंपरा के अनुसार सुहागिन महिलाएं उपवास रखती है और सुहागिन श्रृंगार करके पूजा की थाली में फल-फूल, मिठाई, आम, लीची, धान, लावा, चना, मूंग की अंकुरी, बर के फर आदि रखकर महिलाएं नदी/पोखर या मंदिर परिसर में बरगद के पेड़ के नीचे विधि विधान से पूजा करती है। और वट वृक्ष पर धागा बांध कर परिक्रमा करते समय गी

46 Love

""

".........."

..........

#गांव
#शहर #पीपल #बरगद #बच्चे #Nojoto #कविता #वायरल #Trending #Trendingquotes

31 Love

""

"#पिता #बरगद एक बड़े से बरगद के छावं में बढ़ रहे थे कई पेड़।अपनी जड़ें गहरी करते हुए,अपनी शाखाएं बढ़ाते हुए। फिर एक दिन सुख गया बरगद।नियति ने काट दिए साये सर से कई नन्ही ओर जवान पेड़ो के सर से। कुछ खास नही बदला जीवन मे मगर।बरगद का उजाड़ खलता तो है। बरगद था तो एक साथ सारे पंछी,आ जाते थे शाम को उसकी गोद मे,कलरव था। आनंद था। सारे मौसमों का बदलाव सबसे पहले झेलता था,ओर बचाता था अपने आस पास की बिखरने वाली चीजें।। अब सबको ही बरगद होना पड़ेगा।।"

#पिता #बरगद
एक बड़े से बरगद के छावं में बढ़ रहे थे कई पेड़।अपनी जड़ें गहरी करते हुए,अपनी शाखाएं बढ़ाते हुए।
फिर एक दिन सुख गया बरगद।नियति ने काट दिए साये सर से कई नन्ही ओर जवान पेड़ो के सर से। कुछ खास नही बदला जीवन मे मगर।बरगद का उजाड़ खलता तो है।

बरगद था तो एक साथ सारे पंछी,आ जाते थे शाम को उसकी गोद मे,कलरव था। आनंद था।
सारे मौसमों का बदलाव सबसे पहले झेलता था,ओर बचाता था अपने आस पास की बिखरने वाली चीजें।।

अब सबको ही बरगद होना पड़ेगा।।

#बरगद #स्टोरी #story #Nojoto #nojotoLove #nojoto_hindi

13 Love

""

"एक पेड़ हुआ करता था गांव के उस मोड़ पर आते जाते राहगीरों को मुस्कुराते देखा करता था तेज धूप में भी खड़ा रहता था सर उठाये सबको छांव बांटा करता था तेज़ तूफानी बारिशों में लड़ते झगड़ते हवाओं से आसमां को रुलाया करता था बूढ़ा हो गया था शायद पर तेवर नहीं बदले ज़नाब के तब भी हवाओं के संग संग गुनगुनाता झुमा करता था कुछ दिन बीते कुछ लोग आए कुछ चिन्ह लगाया कुछ नाप लिया कुछ दिन बीते फिर नज़र पड़ी टूट गया था गर्व उसका कटा पड़ा था चौड़ी सड़क किनारे यही सिला था शायद उसका बिखर गया था सड़क किनारे गांव के उस मोड़ पर एक पेड़ हुआ करता था रहता था जो ठाठ से.। . बरगद @SuSHiL"

एक पेड़ हुआ करता था
गांव के उस मोड़ पर
आते जाते राहगीरों को
मुस्कुराते देखा करता था
तेज धूप में भी 
खड़ा रहता था सर उठाये
सबको छांव बांटा करता था
तेज़ तूफानी बारिशों में
लड़ते झगड़ते हवाओं से
आसमां को रुलाया करता था
बूढ़ा हो गया था शायद
पर तेवर नहीं बदले ज़नाब के
तब भी हवाओं के संग संग
गुनगुनाता झुमा करता था
कुछ दिन बीते कुछ लोग आए
कुछ चिन्ह लगाया कुछ नाप लिया
कुछ दिन बीते फिर नज़र पड़ी
टूट गया था गर्व उसका
कटा पड़ा था चौड़ी सड़क किनारे
यही सिला था शायद उसका
बिखर गया था सड़क किनारे
गांव के उस मोड़ पर 
एक पेड़ हुआ करता था
रहता था जो ठाठ से.।
.
बरगद
@SuSHiL

#बरगद

11 Love
1 Share