tags

Best Mrbolbachan Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

211 Stories- Find the Best Mrbolbachan Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 1 Followers
  • 211 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"हिंदी दिवस लाख श्रृंगार कर के अंत में जैसे बिंदी याद आई Hello, Hi के बाद अक्सर लोगों को हिंदी याद आई"

हिंदी दिवस  लाख  श्रृंगार  कर   के  अंत  में  जैसे बिंदी याद आई
Hello, Hi के बाद अक्सर लोगों को हिंदी याद आई

किसी का अपमान करने के लिये नहीं लिखा सिर्फ एक व्यंग के रूप में लें। जब पहला फ़ोन Nokia C1-01 खरीदा था। फेसबुक का नया शौक चढ़ा था। अनजान लोगों से चैट करने में बहुत मज़ा आता था। चैट की शुरुआत हमेशा Hello, How are you से ही होती थी उसके बाद हिंदी में हीं बात होती थी। आज हिंदी दिवस के मौके पर उन सभी को शुभकामनाएं जिनकी लाज हिंदी ने बचाई।
#Nojoto
#nojotohindi #hindipoetry #hindishayari #Mrbolbachan #twoliner #hindidivas

22 Love

"किताबों में रह कर भी गँवारों सी हालत है नाम है उसका, क्योंकि पास में दौलत है वो कहता खून पसीने की कमाई मेरी मैं कहता बाप दादा की बदौलत है लाल पीला रंग मन को नहीं भाता दवाओं ने जो माँगी रब से मोहलत है सादे चेहरे आईने को नहीं पसंद आते उसको भी लगी लाली पाउडर की लत है सरस्वती को तो मैं भी पा लेता लेकिन घर में लक्ष्मी की किल्लत है सियासत की खुशबू से ज़रा दूर रहना इस में रह मिलनी बस ज़िल्लत है"

किताबों में रह कर भी गँवारों सी हालत है
नाम  है  उसका, क्योंकि पास  में दौलत है 

वो  कहता  खून  पसीने  की   कमाई  मेरी
मैं   कहता   बाप  दादा  की   बदौलत  है

लाल   पीला   रंग  मन   को   नहीं   भाता
दवाओं  ने  जो  माँगी  रब  से  मोहलत  है

सादे  चेहरे  आईने   को  नहीं  पसंद आते
उसको भी लगी  लाली पाउडर की लत है

सरस्वती    को    तो  मैं    भी   पा    लेता
लेकिन   घर   में  लक्ष्मी  की   किल्लत  है

सियासत  की  खुशबू  से  ज़रा  दूर रहना 
इस  में    रह   मिलनी   बस  ज़िल्लत  है

#nojoto #nojotohindi #hindipoetry #ghazal #Mrbolbachan #Poetry

11 Love
1 Share

"शराब इस प्याले से ज़रा नज़र हटाइये वर्ना चार कँधों को न्यौता भिजवाईयें माना दो घूँट जन्नत पहुँचा देती हैं पर वक़्त से पहले जन्नत भी दिला देती है राजाओं को भी इसने फकीर कर दिया निर्मल स्वभाव को तेज़ शमशीर कर दिया सोचने की समझ व्यक्ति खो देता हैं गटर नाली चुपचाप हर जगह सो लेता है माना पल भर के लिये दुख भूल जाते हैं कितने परिवार तंगहाली में झूल जाते हैं"

शराब इस   प्याले    से   ज़रा    नज़र   हटाइये
वर्ना  चार   कँधों   को   न्यौता भिजवाईयें

माना    दो   घूँट  जन्नत   पहुँचा   देती   हैं
पर वक़्त से पहले जन्नत भी दिला  देती है

राजाओं  को भी  इसने फकीर कर  दिया
निर्मल स्वभाव को तेज़ शमशीर कर दिया

सोचने  की   समझ   व्यक्ति  खो  देता  हैं
गटर नाली चुपचाप  हर जगह सो लेता है

माना  पल भर के  लिये दुख भूल जाते हैं
कितने  परिवार  तंगहाली में झूल जाते हैं

शराब को पीना है तो शराब की तरह ही पियो। क्योंकि शराब आपकी ज़िंदगी खराब कर सकती है।
#Nojoto
#nojotohindi #hindipoetry #Shayari #Mrbolbachan

34 Love
4 Share

"मोहब्बत ज़िंदगी रूहानियत की बात करे पीछे छोड़ आया मैं बदन देखते देखते। बेवजह भागते भागते लोग सपने दान की बात करे खो गए "नीरज"के नोट समेटते समेटते रातभर जागते जागते भूखा भूख मिटी औकात दिखाए रोटी फेंकते फेंकते विजेता पदक लेने आगे आया लेकिन हाँफते हाँफते"

मोहब्बत                                   ज़िंदगी 
रूहानियत की बात करे              पीछे छोड़ आया मैं
बदन देखते देखते।                    बेवजह भागते भागते

लोग                                          सपने
दान की बात करे                        खो गए "नीरज"के
नोट समेटते समेटते                     रातभर जागते जागते

भूखा
भूख मिटी औकात दिखाए
रोटी फेंकते फेंकते

विजेता
पदक लेने आगे आया
लेकिन हाँफते हाँफते

#Nojoto #Poetry #Mrbolbachan #hindipoetry

24 Love

"तन्हाई दूसरे के घर आग बुझाता रहा बहाना तन्हाई का सबको सुनाता रहा जब अपने छोड़ कर चले गए आईना देख हाथ हिलाता रहा आज वो बगल से क्या गुजर गई किस्सा मोहल्ले भर को सुनाता रहा माँ कमा कमा चूल्हा ना जला पाई बेटा शान से सिगरेट जलाता रहा दो वक्त की रोटी नसीब ना मिली खाली पेट भजन ही गाता रहा झोला फटा, शब्द गिर गए होंगे यह सोच ग़ालिब की गली जाता रहा"

तन्हाई  
दूसरे   के  घर    आग    बुझाता  रहा
बहाना तन्हाई का सबको सुनाता रहा

जब    अपने     छोड़ कर   चले   गए
आईना   देख   हाथ    हिलाता   रहा

आज  वो  बगल  से  क्या  गुजर  गई
किस्सा  मोहल्ले भर को सुनाता रहा 

माँ  कमा  कमा  चूल्हा ना जला पाई
बेटा  शान  से  सिगरेट  जलाता  रहा

दो  वक्त  की  रोटी  नसीब  ना मिली
खाली   पेट   भजन   ही  गाता  रहा

झोला  फटा,  शब्द   गिर   गए  होंगे
यह सोच ग़ालिब की गली जाता रहा

सिर्फ तन्हाई में सब अकेले नहीं होते कई बार कई बार और भी वजह रहती हैं तन्हाई की।
#Mrbolbachan #Nojoto #nojotohindi #hindipoetry #Shayari #ghazal

27 Love
2 Share