tags

Best जवाब Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best जवाब Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 458 Followers
  • 2307 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"सवाल का जवाब, सवाल में ही मिला मुझे... वो शख्स मेरा ख्याल था, ख्याल में ही मिला मुझे..."

सवाल का जवाब, 
सवाल में ही मिला मुझे... 
वो शख्स मेरा ख्याल था,  
ख्याल में ही मिला मुझे...

#सवाल का #जवाब सवाल में ही मिला #मुझे..

35 Love

#उदास हैं #रातें आओ कोई #ख्वाब दे जाओ।
#दूरियां हैं क्यूँ इतनी इसका #जवाब दे जाओ।

#चांदनी रात की #रानाई में बैठा हूँ मैं अकेला,
#गलतियां क्या हैं मेरी इसका #हिसाब दे जाओ।

#खामोशियों के #तरन्नुम गुदगुदाते हैं मेरे कानों को,
एकपल के लिए ही सही,#आओ साथ दे जाओ।

97 Love
1130 Views

"यहाँ हर शख्स कहता है कि जमाना खराब है। खुद से पूछो नसों में दौड़ती कौन सी शराब है। कहते फिरते हैं सब सभी से ये गलत वो गलत , पर खुद से सही रखता कोई कितना हिसाब है। चाहते हैं सभी कि हर कोई सच के रास्ते पे चले, पर खुद न चल के औरों को चलाते बेहिसाब हैं। इंसान इतना ओछा हो चुका है बनावटीपन में, के हर बात का जवाब ही पत्थर का जवाब है। दूसरों पे ऊँगली उठाना तो होता है बहुत आसां, खुद के सर लगे इल्ज़ाम तो माथे पे इज़्तिराब है।"

यहाँ हर शख्स कहता है कि जमाना खराब है।
खुद से पूछो नसों में दौड़ती कौन सी शराब है।

कहते फिरते हैं सब सभी से ये गलत वो गलत ,
पर खुद से सही रखता कोई कितना हिसाब है।

चाहते हैं सभी कि हर कोई सच के रास्ते पे चले,
पर खुद न चल के औरों को चलाते बेहिसाब हैं।

इंसान इतना ओछा हो चुका है बनावटीपन में,
के हर बात का जवाब ही पत्थर का जवाब है।

दूसरों पे ऊँगली उठाना तो होता है बहुत आसां,
खुद के सर लगे इल्ज़ाम तो माथे पे इज़्तिराब है।

READ HERE👇👇👇👇..
यहाँ हर
#शख्स कहता है कि #जमाना #खराब है।
खुद से पूछो नसों में दौड़ती कौन सी #शराब है।

कहते फिरते हैं सब सभी से ये #गलत वो गलत ,
पर #खुद से सही रखता कोई कितना #हिसाब है।

चाहते हैं सभी कि हर कोई #सच के रास्ते पे चले,

68 Love

"हरपल हमेशा इक कसक रह गई। हरपल मेरी थी,पर मेरी न रह गई।। रात की रानाई पूछती है उसके बारे में, जो चांदनी तेरी थी वो अब कहाँ गई। क्या जवाब दूं मैं अब इस तन्हाई को, के वक़्त के दरमियां वो बेवफा हो गई। नहीं, ये नहीं कह सकता उसको कभी, सफर के दरमियां ,दूसरे रास्ते पे मुड़ गई। गाहे- ब-गाहे आ जाती हैं सदायें उसकी, कैसे कह दें हम कि वो बेवफ़ा हो गई। इश्क़ सिखाता है करना इंतजार किसी का, शायद पसन्द नहीं था,कहीं और चली गई।"

हरपल हमेशा इक कसक रह गई।
हरपल मेरी थी,पर मेरी न रह गई।।

रात की रानाई पूछती है उसके बारे में,
जो चांदनी तेरी थी वो अब कहाँ गई।

क्या जवाब दूं मैं अब इस तन्हाई को,
के वक़्त के दरमियां वो बेवफा हो गई।

नहीं, ये नहीं कह सकता उसको कभी,
सफर के दरमियां ,दूसरे रास्ते पे मुड़ गई।

गाहे- ब-गाहे आ जाती हैं सदायें उसकी,
कैसे कह दें हम कि वो बेवफ़ा हो गई।

इश्क़ सिखाता है करना इंतजार किसी का,
शायद पसन्द नहीं था,कहीं और चली गई।

Read here👇👇👇...
#हरपल हमेशा इक #कसक रह गई।
हरपल मेरी थी,पर मेरी न रह गई।।

रात की #रानाई पूछती है उसके बारे में,
जो #चांदनी तेरी थी वो अब कहाँ गई।

क्या #जवाब दूं मैं अब इस #तन्हाई को,

99 Love

"सब जनके अनजान बनते हो तुम पूछते हो कि हमें क्या पसंद है खुद जवाब होके सवाल पूछते हो तुम सारिका कुमारी"

सब जनके अनजान बनते हो तुम
पूछते हो कि हमें क्या पसंद है
खुद जवाब होके
सवाल पूछते हो तुम



सारिका कुमारी

#अनजान
#जवाब
#सवाल

38 Love
1 Share