tags

Best newyear Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best newyear Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 747 Followers
  • 919 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

"ख्यालों में वो साथ है जो साथ नही है #NojotoQuote"

ख्यालों में वो साथ है
जो साथ नही है #NojotoQuote

#khayal #nojotohindi #kavishala #hindipoetry# #khu #ख्याल #Dil #Saal #newyear #december #january #foeget

394 Love
54 Share

"तेरी ही तन्हाई तेरे ही खयाल, वही है आशियाने वही है डाल, बढ़ कर भी बस घट रही है उम्र फिलहाल, झपक रही है पलके गुज़र रहे है साल, बढ़ रहे है तजुर्बे पक रहे है बाल, कुछ अनसुने किस्से वही अनकहे सवाल, दिल ही दिल उठ रहे लाखों बवाल, बदल रहे हैं सिर्फ ज़माने वही है मेरा हाल, बस तेरा ख़याल, बस तेरा ख़याल।"

तेरी ही तन्हाई तेरे ही खयाल, 
वही है आशियाने वही है डाल, 
बढ़ कर भी बस घट रही है उम्र फिलहाल, 
झपक रही है पलके गुज़र रहे है साल, 

बढ़ रहे है तजुर्बे पक रहे है बाल, 
कुछ अनसुने किस्से वही अनकहे सवाल, 
दिल ही दिल उठ रहे लाखों बवाल, 
बदल रहे हैं सिर्फ ज़माने वही है मेरा हाल, 
बस तेरा ख़याल, बस तेरा ख़याल।

#अलविदा_दिसंबर #newyear #newyear2020 #Love #Life #yourquote #nojoto #Shayari #Poetry #Lovequotes

374 Love

"मैं क्या जानूँ दर्द की कीमत ? मेरे अपने मुझे मुफ्त में देते हैं ! #NojotoQuote"

मैं क्या जानूँ दर्द की कीमत ?
मेरे अपने मुझे मुफ्त में देते हैं ! #NojotoQuote

मैं क्या जानूँ दर्द की कीमत ?
मेरे अपने मुझे मुफ्त में देते हैं !
#Nojoto #Nojotoenglish #Nojotoquoto #Nojotoshayeri #quoto #Nojotoart #GoodMorning #Instagram #newyear #HappyNewYear

323 Love
44 Share

"ये सर्द सुनहरी सुबह है, और शुभी हाथों में चाय का प्याला थामे अपने दर्द को भूलाने की कोशिश कर रही है , मगर रात की दासताँ तो उसका चेहरा भी बयाँ कर रहा था। "उफ्क कितनी भयानक रात थी ! " अचानक से पिछली रात की सब बातें उसके मन में चलचित्र की भांति दौड़ रही थी। "क्या लड़की होना गुनाह है कोई", " घर आने में देर क्या हुई, रास्ते जैसे कांटें भरे हो गए ।" कैसे आफिस से घर आते हुए कुछ लोगों ने उसपर हमला किया, मारपीट, लूटपाट की और एक ने तो उसके कंधे से कुर्ता भी फाड़ दिया , मानों हवस के भूखे भेड़िए उसे नोंच ही डालेंगे। हर तरह से घबराई शुभी ने जोर से तमाचा मारा उसे और जान प्राण बचा वहाँ से भाग खड़ी हुई। "मेरा बहादुर बच्चा ,घबराना नहीं, देखो सर्द सुनहरी सुबह है , और सियाह अंधेरा अब तुम्हारा कुछ बिगाड़ नहीं सकता " । शुभी के कंधे पर हाथ रख पापा भी उगते सूरज के उजाले में चाय का आनन्द ले रहे थे और शुक्र गुजार थे कि उनकी लाडली सही सलामत है।"

ये सर्द सुनहरी सुबह है, और शुभी हाथों में चाय का प्याला थामे अपने दर्द को भूलाने की कोशिश कर रही है ,
 मगर रात की दासताँ तो उसका चेहरा भी बयाँ कर रहा था। 
"उफ्क कितनी भयानक रात थी ! "
अचानक से पिछली रात की सब बातें उसके मन में 
चलचित्र की भांति दौड़ रही थी। 
"क्या लड़की होना गुनाह है कोई", " घर आने में देर क्या हुई,
रास्ते जैसे कांटें भरे हो गए ।"
कैसे आफिस से घर आते हुए कुछ लोगों ने उसपर हमला किया, मारपीट, 
लूटपाट की और एक ने तो उसके कंधे से कुर्ता भी फाड़ दिया ,
मानों हवस के भूखे भेड़िए उसे नोंच ही डालेंगे।
हर तरह से घबराई शुभी ने जोर से तमाचा मारा उसे 
और जान प्राण बचा वहाँ से भाग खड़ी हुई। 
"मेरा बहादुर बच्चा ,घबराना नहीं, देखो सर्द सुनहरी सुबह है ,
और सियाह अंधेरा अब तुम्हारा कुछ बिगाड़ नहीं सकता " ।
शुभी के कंधे पर हाथ रख पापा भी उगते सूरज के उजाले में 
चाय का आनन्द ले रहे थे 
और शुक्र गुजार थे कि उनकी लाडली सही सलामत है।

#Sunhari_Subh #kahaniya #nojotoquotesforall #nojotowritersclub #nojotohindi #Anshulathakur #storytelling #newyear #koshish #being_a_girl

309 Love

"आज से एक सफर शुरू होता है, "माँ! अब पापा आपको उलाहना नहीं देंगें मेरे लिए लौटकर तभी आऊँगा जब कुछ बन जाऊँगा " माँ के पैर छूकर अंश घर से निकल गया, अनजानी राहों पर, मंजिल का पता ना राहों का , बस पापा से गुस्सा था ,इसलिए चला गया। उफ्फ ये आजकल के बच्चे !! थोड़ा कुछ कह दो तो घर छोड़कर चल देते हैं बिना सोचे कि माँ बाप का क्या होगा?" पापा अखबार पढ़ते बड़बड़ा रहे थे ,इस बात से अनजान कि उनका अंश भी तो यही कर रहा है। "क्या माँ-बाप बच्चों के दुश्मन हैं? अगर कुछ कहेंगें भी तो इसलिए क्योंकि फिक्र होती है उनको, वो हमारे सबसे बड़े शुभचिंतक हैं, आलोचना करते हैं, मगर प्यार भी वही करते हैं " ,शिव ( अंश का बचपन का दोस्त) उसको समझा रहा था। "अबे नया साल शुरू हो गया ,नया सफर शुरू करना है ना आज से तो जा पापा के गले लग और बोल, जो तेरे दिल में है ,पापा की भी सुनना जरूर, तुझे नई दिशा मिलेगी। और नहीं भी मिली,तो सुकून मिलेगा"। अंश उल्टे पांव घर गया तो देखा पापा कैमरा लिए बैठे हैं हाथ में, वही कैमरा जिसकी जिद्द कर रहा था अंश "वाइल्ड फोटोग्राफी" के लिए । वो धीरे से पापा के गले लग कर रोने लगा, पापा आज से अभी से नया सफर शुरू करता हूँ, आपको अब शिकायत का मौका नहीं दूँगा "।"

आज से एक सफर शुरू होता है,  "माँ! अब पापा आपको उलाहना नहीं देंगें मेरे लिए 
लौटकर तभी आऊँगा जब कुछ बन जाऊँगा "
माँ के पैर छूकर अंश घर से निकल गया, अनजानी राहों पर, मंजिल का पता ना राहों का ,
बस पापा से गुस्सा था ,इसलिए चला गया। 
उफ्फ ये आजकल के बच्चे !!
थोड़ा कुछ कह दो तो घर छोड़कर चल देते हैं बिना सोचे कि माँ बाप का क्या होगा?"
पापा अखबार पढ़ते बड़बड़ा रहे थे ,इस बात से अनजान कि उनका अंश भी तो यही कर रहा है। 
"क्या माँ-बाप बच्चों के दुश्मन हैं? 
अगर कुछ कहेंगें भी तो इसलिए क्योंकि फिक्र होती है उनको, वो हमारे सबसे बड़े शुभचिंतक हैं, 
आलोचना करते हैं, मगर प्यार भी वही करते हैं " ,शिव ( अंश का बचपन का दोस्त) उसको समझा रहा था।
"अबे नया साल शुरू हो गया ,नया सफर शुरू करना है ना आज से तो जा पापा के गले लग और बोल,
जो तेरे दिल में है ,पापा की भी सुनना जरूर, तुझे नई दिशा मिलेगी। 
और नहीं भी मिली,तो सुकून मिलेगा"।
अंश उल्टे पांव घर गया तो देखा पापा कैमरा लिए बैठे हैं हाथ में,
वही कैमरा जिसकी जिद्द कर रहा था अंश "वाइल्ड फोटोग्राफी" के लिए ।
वो धीरे से पापा के गले लग कर रोने लगा, 
पापा आज से अभी से नया सफर शुरू करता हूँ, आपको अब शिकायत का मौका नहीं दूँगा "।

#naya_safar #kahaniya #nojotoquotesforall #nojotowritersclub #nojotohindi #storytelling #newyear #feelings #AAJ_KAL #Teenager

240 Love
1 Share