tags

Best पूर्ण Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best पूर्ण Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 61 Followers
  • 468 Stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"जितनी प्यारी तू दिखती है किसी का भटकना लाज़िमी है, तू ख़ुदा की पूर्ण इक रचना मुझमे लाख कमी है, तुम आसमाँ हम तो बस ज़मी है, मैं रेगिस्तान सा तू सदाबहार की नमी है, तू ऐसी, जिससे हर किसी को होना इश्क़ लाज़िमी है, मैं जहाँ रहूँ ,लगे पतझड़ यही, तू जहाँ दिखे बसंत वही है, तुझमें हूँ कितना, ना जानु मैं पर मुझमें तू हर कही है...."

जितनी प्यारी तू दिखती है
किसी का भटकना लाज़िमी है,

तू ख़ुदा की पूर्ण  इक रचना
मुझमे लाख कमी है,

तुम आसमाँ
हम तो बस ज़मी है,

मैं रेगिस्तान सा
तू सदाबहार की नमी है,

तू ऐसी, जिससे हर किसी को
होना इश्क़  लाज़िमी है,

मैं जहाँ रहूँ ,लगे 
 पतझड़  यही,

तू जहाँ दिखे
 बसंत वही है,

तुझमें हूँ कितना, ना जानु मैं
पर मुझमें तू हर कही है....

जितनी प्यारी तू दिखती है
किसी का भटकना लाज़िमी है,

तू ख़ुदा की इक
#पूर्ण रचना
मुझमे लाख कमी है,

तुम #आसमाँ
हम तो बस #ज़मी है,

54 Love
1 Share

"मैं अदम्य अद्भुद अनुपम अतुलित अलौकिक अंश बनूँ जिस सरोज में नित नए पंकज नवल कड़ी का वंश बनूँ प्राणों में श्वांस समान बहे, ऊर्जा धमनी में बहती हो हर प्रातः परिष्कृत पूर्ण बने, संध्या संरचना रहती हो मैं पूर्ण बनूँ मैं निष्कलंक, कलुषित बंधन को तोडूं मैं मैं निराकार में बस जाऊं, मिथ्या भौतिकता छोडूं मैं मैं विलीन होकर मुझमें, मुझको मुझसे ही जोड़ रहा जो भव बंधन सब मिथ्या थे, एक एक कर तोड़ रहा"

मैं अदम्य अद्भुद अनुपम अतुलित अलौकिक अंश बनूँ
जिस सरोज में नित नए पंकज नवल कड़ी का वंश बनूँ

प्राणों में श्वांस समान बहे, ऊर्जा धमनी में बहती हो
हर प्रातः परिष्कृत पूर्ण बने, संध्या संरचना रहती हो

मैं पूर्ण बनूँ मैं निष्कलंक, कलुषित बंधन को तोडूं मैं
मैं निराकार में बस जाऊं, मिथ्या भौतिकता छोडूं मैं

मैं विलीन होकर मुझमें, मुझको मुझसे ही जोड़ रहा
जो भव बंधन सब मिथ्या थे, एक एक कर तोड़ रहा

मैं विलीन होकर मुझमें

#dixitg

19 Love
3 Share

"पूर्णिमा और तुम... इस पूर्ण चांद की पूर्ण चांदनी में... संपूर्ण सी मैं... जिसमे अर्ध वास करता तू... समेंट ले गया सब कुछ मेरा.. और दे गया तन्हाई यूं.... आज तेरी याद आई यूं..."

पूर्णिमा और तुम...

इस पूर्ण चांद की पूर्ण चांदनी में...
 संपूर्ण सी मैं...
जिसमे अर्ध वास करता तू...
समेंट ले  गया सब कुछ मेरा..
और दे गया तन्हाई यूं....
आज तेरी याद आई यूं...

#Love#Emotion#Shayari

32 Love

"बस झालं आता छळन शिव खचलाय आता पूर्ण बोल तू आता पूर्ण नाहीतर हा शिव होईल जीर्ण.."

बस झालं आता छळन शिव खचलाय आता पूर्ण बोल तू आता पूर्ण नाहीतर हा शिव होईल जीर्ण..

 

14 Love

"नात मी जोडल य पूर्ण प्रेमाने आपलस मानलं य तिला पूर्ण मननाने...."

नात मी जोडल य पूर्ण प्रेमाने आपलस मानलं य तिला पूर्ण  मननाने....

 

14 Love