tags

Best ishk Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best ishk Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 404 Followers
  • 896 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"इश्क़ ने ना जाने कितनो को तबाह कर रखा है कुछ को मशहूर तो कुछ को गुमनाम कर रखा है इसे महसूस सबने बड़े करीब से किया होगा एक मैं ही हू जिसे खुदा ने इश्क़ से अनजान रखा है "

इश्क़ ने ना जाने कितनो को तबाह कर रखा है 
कुछ को मशहूर तो कुछ को गुमनाम कर रखा है
इसे महसूस सबने बड़े करीब से किया होगा 
एक मैं ही हू जिसे खुदा ने इश्क़ से अनजान रखा है

#Nojoto #Nojotohindi #Love #Life #ishk #anjan #Happy #Quotes #Poetry

388 Love
38 Share

""

"अपने इश्क़ को अपने पास ही महफूज़ रहने देना क्योंकि हम इसकी कदर तो करते हैं पर कुबुल नहीं "

अपने इश्क़ को अपने पास ही महफूज़  रहने देना
क्योंकि हम इसकी कदर तो करते हैं पर कुबुल नहीं

#Nojoto #Nojotohindi #Love #Life #ishk #Relationship #Quotes #Poetry

385 Love
28 Share

""

"मुझे इश्क़ सिखाने वाला खुद आज इश्क़ से बेखबर हो गया अपना कहता था जो मुझे आज खुद अनजान हो कर रह गया "

मुझे इश्क़ सिखाने वाला खुद आज इश्क़ से बेखबर हो गया 
अपना कहता था जो मुझे आज खुद अनजान हो कर रह गया

#Nojoto #Nojotohindi #Love #ishk #Relationship #Life #Pain #Stranger #Quotes #Poetry

325 Love
59 Share

""

"इश्क़ का अंजाम इक़ " इश्क़ का अंजाम " इस कदर देखा हैं कि उस " इश्क़ का अंजाम " क़त्लें - आम देखा हैं - MERI SHAYARI MERI DASTAAN"

इश्क़ का अंजाम इक़ " इश्क़ का अंजाम " इस कदर देखा हैं
कि उस " इश्क़ का अंजाम " क़त्लें - आम देखा हैं 

- MERI SHAYARI 
                            MERI DASTAAN

Ik #ishk ka #anjam is #Kadar dekha hai
Ki us #ishk ka #anjam #katle_aam dekha hai

#इक़ #मौंहब्ब़त का #अंजाम इस #कदर देखा हैं
कि उस #मौंहब्ब़त का #अंजाम #क़त्लें - #आम देखा हैं

Us #ishk ka #anjam kya hoga
Jo #Milte ho chup #chup kar

228 Love
1 Share

""

"मुझपे, तुम भी तो मरते थे।। कहो ना, मुझपे, तुम भी तो मरते थे। थाम हाथ संग, तुम भी तो चलते थे। कहीं हो ना जाये आम मुहब्बत हमारी, मेरे संग संग तब, तुम भी तो डरते थे। हाथों पे गुदवाया था नाम हम दोनों ने, ये फ़िज़ूल ज़िद्द, तुम भी तो करते थे। पल भर को जुदा होना था गंवारा नहीं, उन पलों में आँहें, तुम भी तो भरते थे। एक जिस्म दो जान वाली सारी बातें, कंधे पे रख सर, तुम भी तो कहते थे। लगे रहना फोन पे करनी बातें लम्बी, पापा की डांट, तुम भी तो सहते थे। कॉलेज क्लास में बैठ, छुपकर सबसे, मेरे सारे मेसेजेज, तुम भी तो पढ़ते थे। चलो छोड़ो, छला गया मैं तो इश्क में, सिर्फ वक़्त नहीं, तुम भी तो छलते थे। मैं आज कर रहा हूँ शिकायत बस, ये ही शिकायतें, तुम भी तो करते थे। कुछ नहीं कहने को, है बाकी याद, अभी मैं, कभी, तुम भी तो ढलते थे। ©रजनीश "स्वछंद""

मुझपे, तुम भी तो मरते थे।।

कहो ना, मुझपे, तुम भी तो मरते थे।
थाम हाथ संग, तुम भी तो चलते थे।

कहीं हो ना जाये आम मुहब्बत हमारी,
मेरे संग संग तब, तुम भी तो डरते थे।

हाथों पे गुदवाया था नाम हम दोनों ने,
ये फ़िज़ूल ज़िद्द, तुम भी तो करते थे।

पल भर को जुदा होना था गंवारा नहीं,
उन पलों में आँहें, तुम भी तो भरते थे।

एक जिस्म दो जान वाली सारी बातें,
कंधे पे रख सर, तुम भी तो कहते थे।

लगे रहना फोन पे करनी बातें लम्बी,
पापा की डांट, तुम भी तो सहते थे।

कॉलेज क्लास में बैठ, छुपकर सबसे,
मेरे सारे मेसेजेज, तुम भी तो पढ़ते थे।

चलो छोड़ो, छला गया मैं तो इश्क में,
सिर्फ वक़्त नहीं, तुम भी तो छलते थे।

मैं आज कर रहा हूँ शिकायत बस,
ये ही शिकायतें, तुम भी तो करते थे।

कुछ नहीं कहने को, है बाकी याद,
अभी मैं, कभी, तुम भी तो ढलते थे।

©रजनीश "स्वछंद"

मुझपे, तुम भी तो मरते थे।।

कहो ना, मुझपे, तुम भी तो मरते थे।
थाम हाथ संग, तुम भी तो चलते थे।

कहीं हो ना जाये आम मुहब्बत हमारी,
मेरे संग संग तब, तुम भी तो डरते थे।

176 Love
22 Share