tags

Best गीत Shayari, Status, Quotes, Stories, Poem

Find the Best गीत Shayari, Status, Quotes from top creators only on Nojoto App. Also find trending photos & videos.

  • 381 Followers
  • 1742 Stories
  • Popular
  • Latest
  • Video

चांद से पूछो कभी तन्हाई की बातें सभी,
पूछो हैं ये दाग कैसे, कैसे थीं चोटें लगी।
#गीत #कविता #चांद #पिता #हिंदी

244 Love
18.1K Views

""

"मेरे हमदर्द मेरे मीत हो तुम साजो से भरा एक गीत हो तुम गुनगुनाती हूं हमेशा तुम्हे वो स्वरों से भरा संगीत हो तुम चाह कर भी तुमको पा ना सकुं ऐसे अनजाने से मनमीत हो तुम आंखें बंद करते ही तुम आते हो खुलते ही खो जाते हो, ऐसी छलावा सी मेरी प्रीत हो तुम"

मेरे हमदर्द मेरे मीत हो तुम
साजो से भरा एक गीत हो तुम

गुनगुनाती हूं हमेशा तुम्हे
वो स्वरों से भरा संगीत हो तुम

चाह कर भी तुमको पा ना सकुं
ऐसे अनजाने से मनमीत हो तुम

आंखें बंद करते ही तुम आते हो
खुलते ही खो जाते हो, ऐसी 
छलावा सी मेरी प्रीत हो तुम

#जिंदगी#का#गीत

149 Love

""

"आवाज़ में बनी तू जीत है। जमाने की रीत है गीत है।। खुद को सहनशीलता में ढाली । तू महिला सशक्तिकरण की प्रीत है। देख ले तू , तेरी है जिन्दगी कहा है। सारा जहां तेरी आंखों में खड़ा है।। ना आंच है ना क्रुर व्यहार है। तू सुलगती आग है यदि कोई वजह है।। पूछ ले रे औरत तेरी क्या मुरीद । तू जीत है और गीत भी है ।। लिख तू इतिहास बस । यही वक्त को तलाश है ।। #NojotoQuote"

आवाज़ में बनी तू जीत है।
जमाने की रीत है गीत है।।

खुद को सहनशीलता में ढाली ।
तू महिला सशक्तिकरण की प्रीत है।

देख ले तू , तेरी है जिन्दगी कहा है।
सारा जहां तेरी आंखों में खड़ा है।।

ना आंच है ना क्रुर व्यहार है।
तू सुलगती आग है यदि कोई वजह है।।

पूछ ले रे औरत तेरी क्या मुरीद ।
तू जीत है  और गीत भी है ।।

लिख तू इतिहास बस ।
यही वक्त को तलाश है ।।




 #NojotoQuote

you aren't weak BEACOUSE you are women.

Happy women's day

आवाज़ में बनी तू जीत है।
जमाने की रीत है गीत है।।

खुद को सहनशीलता में ढाली ।

124 Love
1 Share

""

"खट्टी-मीठी ज़िंदगी गहन चिंतन जो तुम प्रेम का कर सको प्रेम नभ में धरा में समां जाएगा और कमिटमेंट दो तुम जरा प्रेम का प्रेम नभ से ऊपर भी छा जाएगा मनोज मस्ताना"

खट्टी-मीठी ज़िंदगी गहन चिंतन जो तुम प्रेम का कर सको 

प्रेम नभ में धरा में समां जाएगा 

और कमिटमेंट दो तुम जरा प्रेम का 

प्रेम नभ से ऊपर भी छा जाएगा

मनोज मस्ताना

गहन चिंतन जो तुम प्रेम का कर सको

प्रेम नभ में धरा में समां जाएगा

और कमिटमेंट दो तुम जरा प्रेम का

प्रेम नभ से ऊपर भी छा जाएगा

124 Love

""

"मिले जो तेरे मेरे नैना ... अब दिल को न जाने चैन क्यों ना... न जाने दिलो पर छाया हमारे कैसा खुमार ... जब से नजरे मिली है तुमसे... हम तो तुम्हारे दीवाने हो गए ऐ मेरे दिलदार..."

मिले जो तेरे मेरे नैना ...
 अब दिल को 
न जाने चैन क्यों ना...

 न जाने दिलो पर छाया
 हमारे कैसा खुमार ...

जब से नजरे मिली है तुमसे...

हम तो तुम्हारे दीवाने हो गए
 ऐ मेरे दिलदार...

#Love #गीत

107 Love
1 Share