Republic Day
  • Latest
  • Popular
  • Video

""

"🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬 કેમ ખોટા વિચાર આવે છે. રાત પાછળ સવાર આવે છે. જેટલા પણ પ્રહાર આવે છે. જિંદગીમાં નિખાર આવે છે. જીતવાની મઝા તમે લેજો, રાસ અમને તો હાર આવે છે. બોઝ પરિવારનો ઉઠાવી લો, પોતિકાનો ક્યાં ભાર આવે છે. રોટલો એક ચાર ખાનારા, ઘરમાં એક જ પગાર આવે છે. જીવતેજીવ ના કરી કિંમત, લાશ પર ફૂલહાર આવે છે. "દીપ" પ્રગટાવવો જરુરી છે. દુઃખનો ક્યારેય પાર આવે છે! ---------- ✍️દીપકસિંહ સોલંકી દીપ🪔 ઉમરેઠ 🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬 ©Dk Diamond Solanki"

🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬
કેમ ખોટા વિચાર આવે છે.
રાત પાછળ સવાર આવે છે.

જેટલા પણ પ્રહાર આવે છે.
જિંદગીમાં નિખાર આવે છે.

જીતવાની મઝા તમે લેજો,
રાસ અમને તો હાર આવે છે.

બોઝ પરિવારનો ઉઠાવી લો,
પોતિકાનો ક્યાં ભાર આવે છે.

રોટલો એક ચાર ખાનારા,
ઘરમાં એક જ પગાર આવે છે.

જીવતેજીવ ના કરી કિંમત,
લાશ પર ફૂલહાર આવે છે.

"દીપ" પ્રગટાવવો જરુરી છે.
દુઃખનો ક્યારેય પાર આવે છે!
----------
✍️દીપકસિંહ સોલંકી દીપ🪔 ઉમરેઠ
🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬🍬

©Dk Diamond Solanki

ગઝલ - આવે છે
દીપક સિંહ સોલંકી દીપ ઉમરેઠ આણંદ

13 Love
4 Share

""

"देश देश-एक बहुत ज़रूरी शब्द है एक ऐसा शब्द जिसके लिए दिल में इज़्ज़त होनी चाहिए कभी सोचा है कि देश क्या होता है तिरंगा, संविधान,अदालत, कानून, राष्ट्रगान आखिर क्या होता है देश। कुछ असली अनपढ़ और कुछ पढ़े-लिखे अनपढ़ों के लिए सरकार ही देश हैं। मगर ये ग़लत है सरासर ग़लत है। सरकारें तो आती जाती रहती हैं लेकिन देश रहता है। मंदिर-मस्ज़िद-गिरजा-गुरुद्वारा ये सब देश के अंदर है मगर देश नहीं है। तो फिर देश कौन है देश वो किसान हैं जो अन्न उगाता हैं देश वो शिक्षक हैं जो बच्चों को पढ़ाता हैं। देश खेतों में कहीं फ़सल की उगने की ख़ुशी है देश स्कूली बच्चों की खिलती हँसी है। देश वो मरीज़ है जिसने अस्पताल में मौत को हराया देश वो शिक्षा है जिसने हमको इंसान बनाया। देश वो त्योहार है जिसे लोग मिलकर मनाते हैं देश वो लोग हैं जो खुदकों देशवासी बताते हैं। देश-एक बहुत ज़रूरी शब्द है। ©Johnny Ahmed " क़ैस""

देश 

देश-एक बहुत ज़रूरी शब्द है
एक ऐसा शब्द जिसके लिए दिल में इज़्ज़त होनी चाहिए
कभी सोचा है कि देश क्या होता है
तिरंगा, संविधान,अदालत, कानून, राष्ट्रगान
आखिर क्या होता है देश।
कुछ असली अनपढ़
और कुछ पढ़े-लिखे अनपढ़ों के लिए
सरकार ही देश हैं।
मगर ये ग़लत है
सरासर ग़लत है।
सरकारें तो आती जाती रहती हैं
लेकिन देश रहता है।
मंदिर-मस्ज़िद-गिरजा-गुरुद्वारा
ये सब देश के अंदर है
मगर देश नहीं है।
तो फिर देश कौन है
देश वो किसान हैं जो अन्न उगाता हैं
देश वो शिक्षक हैं जो बच्चों को पढ़ाता हैं।
देश खेतों में कहीं फ़सल की उगने की ख़ुशी है
देश स्कूली बच्चों की खिलती हँसी है।
देश वो मरीज़ है जिसने अस्पताल में मौत को हराया
देश वो शिक्षा है जिसने हमको इंसान बनाया।
देश वो त्योहार है जिसे लोग मिलकर मनाते हैं
देश वो लोग हैं जो खुदकों देशवासी बताते हैं।
देश-एक बहुत ज़रूरी शब्द है।

©Johnny Ahmed " क़ैस"

#johnnyahmedqais #Desh #India #Nojoto #poem #Indiawins #India #johnnyahmed

11 Love

""

"ये बात हवाओं को बताए रखना, रोशनी होगी चिरागों को जलाए रखना! लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की… ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाए रखना! ©Atul Shakya_Ysm"

ये बात हवाओं को बताए रखना,
रोशनी होगी चिरागों को जलाए रखना!

लहू देकर जिसकी हिफाज़त हमने की…
ऐसे तिरंगे को सदा दिल में बसाए रखना!

©Atul Shakya_Ysm

#Deshbhakti

#Letter_To_Republic_India @lavi ji @Esha mahi @GAUTAM SHAKUNTALA GOSAI @Akalpit kanha @MONIKA SINGH

9 Love
1 Share

""

"🇮🇳गणतंत्र दिवस की हर्दिक शुभकामनाएँ🇮🇳 26 जनवरी को आता हमारा गणतंत्र दिवस, जिसे मिलकर मनाते हैं हम सब हर वर्ष। इस विशेष दिन भारत बना था प्नजातंत्र, इसके पहले तक लाेग ना थे पूर्ण रूप से स्वतंत्र। इसके लिए किये लोगो ने अनगिनत संघर्ष, गणतंत्र प्नाप्ति से लोगों को मतदान अघिकार, जिससे बनी देशभर में जनता की सरकार। इसलिए दोस्ताें तुम गणतंत्र का महत्व समझाे, चदं पैसाे की खातिर अपना मतदान ना बचाे। क्योंकि यदि ना रहेगा हमारा यह गणतंत्र, ताे हमारा भारत देश फिर से हो जाएगा परतंत्र। ताे आओ हम सब मिलकर ले प्नतिज्ञा, मानेंगे संविधान की हर बात ना करेंगे इसकी अवज्ञा। रिटर्ण बाय यश वर्धे ©Yash Wardhe"

🇮🇳गणतंत्र दिवस की हर्दिक शुभकामनाएँ🇮🇳

26 जनवरी को आता हमारा गणतंत्र दिवस,
जिसे मिलकर मनाते हैं हम सब हर वर्ष।
इस विशेष दिन भारत बना था प्नजातंत्र,
इसके पहले तक लाेग ना थे पूर्ण रूप से स्वतंत्र।
इसके लिए किये लोगो ने अनगिनत संघर्ष,
गणतंत्र प्नाप्ति से लोगों को मतदान अघिकार,
जिससे बनी देशभर में जनता की सरकार।
इसलिए दोस्ताें तुम गणतंत्र का महत्व समझाे,
चदं पैसाे की खातिर अपना मतदान ना बचाे।
क्योंकि यदि ना रहेगा हमारा यह गणतंत्र,
ताे हमारा भारत देश फिर से हो जाएगा परतंत्र।
ताे आओ हम सब मिलकर ले प्नतिज्ञा,
मानेंगे संविधान की हर बात ना करेंगे इसकी अवज्ञा।

                                                                            रिटर्ण बाय
                                                                             यश वर्धे

©Yash Wardhe

#Letter_To_Republic_India
#RepublicDay
#RepublicDayquotes #RepublicDaypoem
#RepublicDay2021 #Goodthinking #postoftheday

12 Love
2 Share

""

"Happy Republic Day"

Happy 
Republic 
Day

#Republic day

#Letter_To_Republic_India

10 Love