Deep Thoughts
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"इंसाफ मिलने में बहुत देर हुई मगर आज इंसाफ तो मिला ये हर उस माँ की जीत है जो आज एक बेटी की मां होने से घबराती है हर जगह हर इंसान को शक की निगाह से देखती है न्यायपालिका में हो थोड़ा और सुधार और तेज़ी घृणित कार्य करने के विचार से पहले ही सजा मिलेगी फाँसी ये विचार मन में आ जाए जब भी अखबार हाथ में थामते हैं बलात्कार की खबर वहां पाते हैं जाने कब तक ये सिलसिला चलता रहेगा जाने कब तक समाज दोहरा चरित्र अपनाता रहेगा दोषी तो दोषी है उसके लिए नर्म लहजा क्यों रखें खुद का दिल खुद की नजर साफ रखें Anshula Thakur 💕"

इंसाफ मिलने में बहुत देर हुई 
मगर आज इंसाफ तो मिला 
ये हर उस माँ की जीत है 
जो आज एक बेटी की मां होने से घबराती है 
हर जगह हर इंसान को शक की निगाह से देखती है 
न्यायपालिका में हो थोड़ा और सुधार और तेज़ी 
घृणित कार्य करने के विचार से पहले ही 
सजा मिलेगी फाँसी ये विचार मन में  आ जाए 
जब भी अखबार हाथ में थामते हैं 
बलात्कार की खबर वहां पाते हैं 
जाने कब तक ये सिलसिला चलता रहेगा 
जाने कब तक समाज दोहरा चरित्र अपनाता रहेगा 
दोषी तो दोषी है उसके लिए नर्म लहजा क्यों रखें 
खुद का दिल खुद की नजर साफ रखें 

Anshula Thakur 💕

#nirbhaya #justice #Anshulathakur #truequotes #feelings #nojotoquotesforall #nojotowritersclub #nojotohindi

252 Love

""

"True love is seen by the 💓 not by the eyes..write self by Sofia Gupta.."

True love is seen by the 💓 not by the eyes..write self by Sofia Gupta..

Life experience#

141 Love

""

"लाइक करें तो आज कर, कमेंट करें तो अब। जो तेरा रिप्लाई ना होगा लाख VIEWS होगा कब?"

लाइक करें तो आज कर,
 कमेंट करें तो अब।
 जो तेरा रिप्लाई ना होगा
 लाख VIEWS होगा कब?

 

119 Love

""

"मै नहीं हूं वहां जहा सोचती हो तुम मुझे होना चाहिए दर्द इतना भी नहीं तेरे जाने का मुझे रोना चाहिए।। सोचता हूं क्यों उन बीते हुए लम्हों को पाप कोई ऐसा भी नहीं किया कि मुझे धोना चाहिए ।। क्यों करू इस्तेक बाल नफ़रत से भरे पौधों का जब पैग़ाम यही है मोहब्बत के बीज बोना चाहिए ज़िन्दगी बहते दरिया के जैसे होती है एक बांध भी उसमें होना चाहिए।।"

मै नहीं हूं वहां 
जहा सोचती हो तुम मुझे होना चाहिए 
दर्द इतना भी नहीं  तेरे जाने का  मुझे रोना चाहिए।।

सोचता हूं क्यों उन बीते हुए लम्हों को 
पाप कोई ऐसा भी नहीं किया कि मुझे धोना चाहिए ।।

क्यों करू इस्तेक बाल नफ़रत से भरे पौधों का
जब पैग़ाम यही है 
मोहब्बत के बीज बोना  चाहिए


ज़िन्दगी बहते दरिया के जैसे होती है 
एक  बांध भी उसमें होना चाहिए।।

ऐसा नहीं है कि तेरे जाने का कोई ग़म नहीं ।।
दर्द इतना भी कम नहीं कि मेरे आंखे नम नहीं ............to be...

114 Love
1 Share

""

"यकीन मानिए मेरा......., खामोश रहना ज्यादा बेहतर है, बोलकर तो यहां सिर्फ इस दुनिया के सामने तमाशे ही बनते हैं।_"

यकीन मानिए मेरा......., 
खामोश रहना ज्यादा 
बेहतर है,
 बोलकर तो यहां 
सिर्फ इस दुनिया  के सामने 
तमाशे ही बनते हैं।_

 

102 Love