Freedom
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"Tarika e zalim bhale hi na gawara ho par mohabbat beshaq tujhse dattke ki hai Eisha✍"

Tarika e zalim bhale 

hi na gawara ho 

par mohabbat beshaq tujhse

dattke ki hai


Eisha✍

#feather

581 Love

""

"Mana ki bahut pasand h tumhe, mujhe u hi pareshan karna. par humnaseeb ho tum mere, ye jhoothi duriya bhi manjur nhi h hume. S̾u̾h̾a̾n̾i̾ ✍🏻"

Mana ki bahut pasand h tumhe,
mujhe u hi pareshan karna.
par humnaseeb ho tum mere,
ye jhoothi duriya bhi manjur nhi h 
hume.

                                   S̾u̾h̾a̾n̾i̾ ✍🏻

T̮e̮r̮i̮ s̮ḫa̮r̮a̮r̮a̮t̮e̮ 😊🙂

471 Love

""

"किस तरह? उस पुराने किताब के सूखे पड़ चुके पन्ने की तरह, या ज़मीन पर पड़े उस अकेले डाल की तरह, हो सकता है, मैं हूँ किसी विरान मकान की तरह, उस नन्हें की बिखरी जुबान की तरह, या फिर एक तरफा प्यार की तरह, आखिर किस तरह....."

किस तरह? 
उस पुराने किताब के सूखे पड़ चुके पन्ने की तरह, 
या ज़मीन पर पड़े उस अकेले डाल की तरह, 
हो सकता है, मैं हूँ किसी विरान मकान की तरह, 
उस नन्हें की बिखरी जुबान की तरह, 
या फिर एक तरफा प्यार की तरह, 
आखिर किस तरह.....

'मेरी पहचान' आखिर किस तरह?
#Life #Thoughts

373 Love
2 Share

""

"मेरा हर लम्हा तेरी बाते करता है ... पर तेरे ही लबो पर कुछ खामोशी ठहरी है... मेरी आंखो में प्यार छलकता है तेरा... तेरी आंखो में नमी का दरिया क्यों बहता है... खामोशी ना समजू उतनी भी नादान नहीं में... पर तेरे लबों की चुप्पी को केसे सहू में... slj मेरे शब्द ✍️"

मेरा हर लम्हा तेरी बाते करता है ...
पर तेरे ही लबो पर  कुछ खामोशी ठहरी है...
मेरी आंखो में प्यार छलकता है तेरा...
तेरी आंखो में नमी का दरिया क्यों बहता है...
खामोशी ना समजू उतनी भी नादान नहीं में...
पर तेरे लबों की चुप्पी को केसे सहू में...

slj 
मेरे शब्द ✍️

only thought 🙂
#mylove#mylife#slj
#nojotohindi#nojotoenglish#nojotoapp#Rilesionship
#QandA
#feather
@My_Words✍✍">#@My_Words✍✍

Anju ❣️❣️❣️ Arohi Ruhi Sshikha Priya gour gori ❣️ Megha Roy ❣️ Secret Dance star🌟

329 Love

""

"Learn the art of living not by years but moments and beautiful memories"

Learn the art of living  not by years but moments and beautiful memories

#feather #life_lesson Suman Zaniyan sheetal pandya मेरे शब्द h.m. alam siddiqui oyeguptaji FᎪᎡᎻᎪN ∶ ᏚᎻᎪᏆKᎻ ✔️

321 Love
3 Share