Pencil
  • Popular
  • Latest
  • Video

"तुम पतंग का मांझा प्रिये जैसे हीर का राँझा प्रिये गहरे समंदर का मोती प्रिये हर-पल कीमती होती प्रिये बादल का टुकडा लिए लबो पर फितूर इश्क का चढ़े सबो पर तेरी संगीत से प्रीत प्रिये और राहत का गीत प्रिये चलो इश्क की धुन बनाए बनके दोनो मीत प्रिये !!"

तुम पतंग का मांझा प्रिये
जैसे हीर का राँझा प्रिये
गहरे समंदर का मोती प्रिये
हर-पल कीमती होती प्रिये
बादल का टुकडा लिए लबो पर
फितूर इश्क का चढ़े सबो पर
तेरी संगीत से प्रीत प्रिये
और राहत का गीत प्रिये
चलो इश्क की धुन बनाए
बनके दोनो मीत प्रिये !!

"प्रिये"

422 Love
3 Share

"preshani se jo anubhav or sikh milti hai Wo sikh duniya ki koi si school nhi de skti"

preshani se jo anubhav  or 
sikh milti hai

Wo sikh duniya ki koi si
school nhi de skti

Sikh

322 Love
5 Share

"जो चोट खाकर बैठे है,, वो शायर बन बैठे है..! जो जिंदगी को थोडा समझने लगे है,, वो लिखने लगे है...!"

जो चोट खाकर बैठे है,,
वो शायर बन बैठे है..!
जो जिंदगी को थोडा समझने लगे है,,
वो लिखने लगे है...!

 

290 Love
2 Share

"Mai wo anpad hu jo hisab likhta hu ishq k panno per kahaniyan behisab likhta hu kuch tute dil to kuch num ankhon k dard behisab likhta hu kuch yadain waqat ki,kuch tanhayian gehrayian manzil-e-khak likhta hu kuch hawayain wafa ki, kuch toofan bewafai k jalte arman likhta hu kuch adhure sapne, jaagti ratain,tute taro ka insaf likhta hu kuch berang raag to kuch satrangi saaz likhta hu kuch Tera husan teri adha Teri muskan likhta hu kuch mera bachpan,masum chehra,wo mitti,barsatain,wo galiyaan wo taiyohar likhta hu jwani ka wo Josh,wo pyar wo yar beshumar likhta hu wo baap ki umeedain maa ka dular behan ki rakhi bhai ka pyar bar bar likhta hu Mai wo anpad hu jo hisab likhta hu"

Mai wo anpad hu jo hisab likhta hu ishq k panno per kahaniyan behisab likhta hu 
kuch tute dil to kuch num ankhon k dard behisab likhta hu
kuch yadain waqat ki,kuch tanhayian gehrayian manzil-e-khak likhta hu 
kuch hawayain wafa ki, kuch toofan bewafai k jalte arman likhta hu 
kuch adhure sapne, jaagti ratain,tute taro ka insaf likhta hu 
kuch berang raag to kuch satrangi saaz likhta hu
kuch Tera husan teri adha Teri muskan likhta hu
kuch mera bachpan,masum chehra,wo mitti,barsatain,wo galiyaan wo taiyohar likhta hu
jwani ka wo Josh,wo pyar wo yar beshumar likhta hu
wo baap ki umeedain maa ka dular behan ki rakhi bhai ka pyar bar bar likhta hu Mai wo anpad hu jo hisab likhta hu

✍️a6.1 #nojoto #nojotohindi #Poetry#story#Quotes#erotica#Music#Video#song#Love#Life#parindey#udaan#honsle#chintiyan#pahad#salam#ranjha#majnu#heer#laila#TikTok#hindishayri#nojotoquotes#nojotopoetry#naam#manzil#asman#kavitagautam#divyajoshi#Aisha#aahnaverma#BinaBabi#achalsharma#chhayayadav#nishiignatius#dikshitagarg#AkashiParmar#aadarshasingh#DeepikaDubey#DeepaRajput#shalijas#HaimiKumari#madhukaur#EshaJoshi#KalavatiKumari#leelawatisharma#smrutirekhadash#parulsharma#rumagupta#roshnijangu#kusumlata#

281 Love

"कितनी रौशनी है तेरी आँखों मे आँसूओ से यूं बुझाया न कर जाकर लिपट जा अपनी चाहत से यू बंदिशों में अपने अरमान जाया न कर कितनी राते यू काट चुकी कितनी राते और गवाएगी न् जाने कब तेरी पलके सोई थी थकी हारी इन पलको के बीच और कितनी अश्रुधारा बहाएगी हर बार पागल मत बन ,बस कर अब हर बार यू आंसू पोछकर खुद को मनाया न कर"

कितनी रौशनी है तेरी आँखों मे
आँसूओ से यूं बुझाया न कर 

जाकर लिपट जा अपनी चाहत से
यू बंदिशों में अपने अरमान जाया न कर 

कितनी राते यू काट चुकी
कितनी राते और गवाएगी

न् जाने कब तेरी पलके सोई थी
थकी हारी इन पलको के बीच
और कितनी अश्रुधारा बहाएगी

हर बार पागल मत बन ,बस कर अब
हर बार यू आंसू पोछकर खुद को मनाया न कर

 

251 Love
1 Share