Saffron
  • Latest
  • Popular
  • Video

✍️आज की डायरी✍️ ✍️🤔यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है🤔✍️ यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है , दिल का तब टूटना हो ही जाता है , मुसाफ़िर हो बस इस सफ़र के तुम, राहों में फ़िर भटकना हो ही जाता है । यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ।।(१) ज़िन्दगी जीने में ख़ुद की मनमानी है , अपने जहन में ये बात लानी नहीं है, एक पत्ता भी हिलाना मुश्क़िल है जान लो, जो आज है वो कल जिन्दगानी नहीं है , मन का न जाने क्यूँ भटकना हो ही जाता है। यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ।।(२) माना कि कोई सफ़र आसान नहीं होता , इंसान मग़र इंसान है भगवान नहीं होता , माना कि आगे बढ़ जाना भी ज़रूरी है , पर क्या काँटों पर चलते जाना मज़बूरी है , अकेले में अक़्सर खुदा से पूछना हो ही जाता है।। यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ।।(३) ✍️नीरज✍️ ©डॉ राघवेन्द्र

#कविता #Saffron  ✍️आज की डायरी✍️

       ✍️🤔यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है🤔✍️

यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ,
दिल का तब टूटना हो ही जाता है ,
मुसाफ़िर हो बस इस सफ़र के तुम,
राहों में फ़िर भटकना हो ही जाता है ।
यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ।।(१)

ज़िन्दगी जीने में ख़ुद की मनमानी है ,
अपने जहन में ये बात लानी नहीं है,
एक पत्ता भी हिलाना मुश्क़िल है जान लो,
जो आज है वो कल जिन्दगानी नहीं है ,
मन का न जाने क्यूँ भटकना हो ही जाता है।
यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ।।(२)

माना कि कोई सफ़र आसान नहीं होता ,
इंसान मग़र इंसान है भगवान नहीं होता ,
माना कि आगे बढ़ जाना भी ज़रूरी है ,
पर क्या काँटों पर चलते जाना मज़बूरी है ,
अकेले में अक़्सर खुदा से पूछना हो ही जाता है।।
यूँ ही जब सोचना हो ही जाता है ।।(३)

                ✍️नीरज✍️

©डॉ राघवेन्द्र

#Saffron

8 Love

पोथी पढ़ी पढ़ी जग में पण्डित हुआ ना कोय रावण तो सबही जलावै रावण से बङा न पण्डित कोय -रोहित "सनकी" ©रोहित "सनकी"

#Saffron #Quotes  पोथी  पढ़ी  पढ़ी  जग  में
पण्डित  हुआ  ना  कोय
रावण  तो  सबही जलावै
        रावण से बङा न पण्डित कोय

      -रोहित "सनकी"

©रोहित "सनकी"

#Saffron

4 Love

नींद भी क्या गजब की चीज है आ जाए तो सब कुछ भुला देती है और ना आए तो सब कुछ याद दिला देती है।। के के सिन्हा🌷एक्स,आर्मी जय🇮🇳हिन्द ©Krishana Kant Sinha

#suspense #Saffron  नींद भी क्या गजब की चीज है
आ जाए तो सब कुछ भुला देती है
और
ना आए तो सब कुछ याद दिला
देती है।।

के के सिन्हा🌷एक्स,आर्मी
जय🇮🇳हिन्द

©Krishana Kant Sinha

#Saffron

6 Love

Vaibhav is Victorious( विजयी) Ambitious(महत्वाकांक्षी ) Ingenious(सरल) Balanced(संतुलित) Honest to goodness.(अच्छाई के प्रति ईमानदार) Accountable(जिम्मेदार) Versatile boy.(बहुमुखी प्रतिभा संपन्न) ----------------------------- स्वंय से , विजयी है, उपलब्धियों के साथ साथ, महत्त्वाकांक्षी है । स्वभाव से सरल, और संतुलित है अच्छाई के प्रति ईमानदार है। कर्त्तव्य के प्रति जिम्मेदार है बहुत ही समझदार है बहुमुखी प्रतिभा संपन्न वैभव का किरदार है। Happy birthday beta God bless you always 🎂🎂🎂 ©Nisankoch Singh

#Saffron  Vaibhav is 

 Victorious( विजयी)
Ambitious(महत्वाकांक्षी ) 
Ingenious(सरल)
Balanced(संतुलित)
Honest to goodness.(अच्छाई के प्रति ईमानदार)
Accountable(जिम्मेदार)
Versatile boy.(बहुमुखी प्रतिभा संपन्न)
-----------------------------
स्वंय से , विजयी है,
उपलब्धियों के साथ साथ,
 महत्त्वाकांक्षी  है ।
स्वभाव से सरल, और संतुलित है 
अच्छाई के प्रति  ईमानदार है।
कर्त्तव्य के प्रति जिम्मेदार है
बहुत ही समझदार है 
बहुमुखी प्रतिभा संपन्न
 वैभव  का किरदार है। 
Happy birthday beta
God bless you always 🎂🎂🎂

©Nisankoch Singh

#Saffron

11 Love

जब टूटता है ना दिल किसी आशिक का,,, तो आवाज नहीं होती पर दर्द बहुत होता है ©chander mukhi

#शायरी #Saffron  जब टूटता है ना दिल 
किसी आशिक का,,, 
तो आवाज नहीं होती 
पर दर्द बहुत होता है

©chander mukhi

#Saffron

8 Love

દર્દોનું તું બારણું , કદી ખોલીશ ના, કોઈ વ્યર્થ શબ્દોને કદી જોડીશ ના. પ્રારબ્ધમાં છે એ મળી રહેવાનું છે, લાગે ભલે ઓછું ,કદી તોલીશ ના. છોને વગાડે બિન મદારી જેમ મન, ફણિધર ની જેવો તું કદી ડોલીશ ના. મીઠી જરા વાતો થી ભરમાઈ કદી, ભાવો તું શબ્દોમાં કદી બોલીશ ના. ખીલી જવા આનંદમય જીવન જરા, સંસાર ચિંતન મન, કદી ફોલીશ ના. ©Mohanbhai आनंद

#શાયરી #Saffron  દર્દોનું તું બારણું , કદી ખોલીશ ના,
કોઈ વ્યર્થ શબ્દોને કદી જોડીશ ના.

પ્રારબ્ધમાં છે એ મળી રહેવાનું છે,
લાગે ભલે ઓછું ,કદી  તોલીશ ના.

છોને વગાડે બિન મદારી જેમ મન,
ફણિધર ની જેવો તું કદી ડોલીશ ના.

મીઠી જરા વાતો થી ભરમાઈ કદી, 
ભાવો તું શબ્દોમાં કદી બોલીશ ના.

ખીલી જવા આનંદમય જીવન જરા,
સંસાર ચિંતન મન,  કદી ફોલીશ ના.

©Mohanbhai आनंद

દર્દોનું તું બારણું , કદી ખોલીશ ના, કોઈ વ્યર્થ શબ્દોને કદી જોડીશ ના. પ્રારબ્ધમાં છે એ મળી રહેવાનું છે, લાગે ભલે ઓછું ,કદી તોલીશ ના. છોને વગાડે બિન મદારી જેમ મન, ફણિધર ની જેવો તું કદી ડોલીશ ના.

8 Love

Trending Topic