hindi stories
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"दोहा ●●●● एक चाकी और दो पाट, पिसत इन बीच घाट, मन निर्मल कैसे बने, झूठ पिसत या आट। #NojotoQuote"

दोहा
●●●●
एक चाकी और दो पाट,
पिसत इन बीच घाट,
मन निर्मल कैसे बने,
झूठ पिसत या आट।
 #NojotoQuote

दोहा।

288 Love
18 Share

"‘उड़’ रहा था, एक परिंदा खुले आकाश में। कभी ‘अज़ान’ में, तो कभी ‘शंखनाद’ में।। #NojotoQuote"

‘उड़’ रहा था, एक परिंदा खुले आकाश में।
कभी ‘अज़ान’ में, तो कभी ‘शंखनाद’ में।। #NojotoQuote

kataksh
feel free to repost..😍
Tag your friends..🤭
Do comment 🤞
Turn on the notification ↔️


#writingcommunity #instaquotes #instagramshoutout #writerscommunity #bymepoetry #poetryindia #rekhtalovers #poetsofinstagram #instamood #poems #poetrycommunity #poetsofindia #poemsofinstagram #Love #shyamal #indiantaleways #indianpoethub #shyamalquotes #Fashion #igpoetrysociety #spilledpoetry #instamood #instadaily #followforfollowback #lifequotes #Lovequote #likeforlikes #Fashion #Love

237 Love
22 Share

"हो हौसला पहाड़ सा , शेर की दहाड़ सा । है मुश्किलें कुछ नही , बस राह की है ठोकरे । बड़े चल , बड़े चल , खुद को बस तू झोंक रे । समय सब लील जायेगा , बाद तू पछतायेगा । अभी भुजा में जोर है , हवाओँ में भी शोर है । हाथी सा चिंघाड़ तू , फौलाद को भी फाड़ तू । राष्ट्र का तू है युवा तो, इस राष्ट्र को दिशा दे । हर उठने वाली आँख का, तू नामोनिशा मिटा दे ।"

हो हौसला पहाड़ सा ,
शेर की दहाड़ सा ।
है मुश्किलें कुछ नही ,
बस राह की है ठोकरे  ।
बड़े चल , बड़े चल ,
खुद को बस तू झोंक रे ।
समय सब लील जायेगा ,
बाद तू पछतायेगा ।
अभी भुजा में जोर है ,
हवाओँ में भी शोर है ।
हाथी सा चिंघाड़ तू ,
फौलाद को भी फाड़ तू ।
राष्ट्र का तू है  युवा  तो,
इस राष्ट्र को दिशा दे ।
हर उठने वाली आँख का,
तू नामोनिशा  मिटा दे ।

हो #हौसला #पहाड़ सा ,
#शेर की #दहाड़ सा ।
है #मुश्किलें कुछ नही ,
बस #राह की है #ठोकरे
बड़े चल , बड़े चल ,
#खुद को बस तू #झोंक रे ।
#समय सब लील जायेगा ,
बाद तू #पछतायेगा

219 Love
19 Share

"राह जिसकी देखता हूँ वर्षों से,मेरा वो मुकम्मल ख्वाब आएगा। फना हो जाउंगा वतन के वास्ते, लहू मेरा भी इंक़लाब लाएगा। #NojotoQuote"

राह जिसकी देखता हूँ वर्षों से,मेरा वो मुकम्मल ख्वाब आएगा।
फना हो जाउंगा वतन के वास्ते, लहू मेरा भी इंक़लाब लाएगा। #NojotoQuote

इंक़लाब @Satyaprem
#hindiwriters #hindikavita #Poetry
#aazaad

196 Love
6 Share

"मौन एकदूजे के मन के कभी कहे नही , दुःख के आंसू तो वे थे, जो कभी बहे नही ! तुम्हे एक कांटा चुभा है और तुम रो पड़े , दिल में चुभे नश्तर तुमने कभी सहे नही । दिन तो वो थे जब अमराई में खेलते थे , खाना-पीना-सोना दिन अब वे रहे नही । - राणा ©"

मौन एकदूजे के मन के कभी कहे नही ,
दुःख के आंसू तो वे थे, जो कभी बहे नही !

तुम्हे एक कांटा चुभा है और तुम रो पड़े ,
दिल में चुभे नश्तर तुमने कभी सहे नही ।

दिन तो वो थे जब अमराई में खेलते थे ,
खाना-पीना-सोना दिन अब वे रहे नही ।

- राणा ©

#मौन #एकदूजे के #मन के कभी कहे नही ,
#दुःख के #आंसू तो वे थे, जो कभी #बहे नही !

तुम्हे एक #कांटा #चुभा है और तुम #रो पड़े ,
#दिल में #चुभे #नश्तर तुमने कभी #सहे नही ।

#दिन तो वो थे जब #अमराई में खेलते थे ,
#खाना-#पीना-#सोना दिन अब वे रहे नही ।

192 Love
19 Share