अफ़सोस Quotes
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"अफ़सोस ek din jb hm tmse dur ho jaayega afsos rh jaayega ki q na hmne waqt rhte use smjhaa afsos rh jaayega q ni hmne apne waado ko pura kiyaa afsos rh jaayega ki q na us pl ke ahmiyat ko hmne smjha afsos rh jaayega ki q hm usse bichad gay."

अफ़सोस  ek din jb hm tmse dur ho jaayega
afsos rh jaayega
ki q na hmne waqt rhte use smjhaa
afsos rh jaayega
q ni hmne apne waado ko pura kiyaa
afsos rh jaayega
ki q na us pl ke ahmiyat ko hmne smjha
afsos rh jaayega
ki q hm usse bichad gay.

 

288 Love
2 Share

""

"अफ़सोस क्यूं अफसोस मुझे हो,तेरा मुझको छोड़ कर जाने का मै करता हूँ तेरा शुक्रिया इतने दिन साथ निभाने का क्यूं सोच सोच कर पागल हो जाऊं हर लम्हा तेरे बारे में ये तो दस्तूर है दुनिया का पुराना हटा कर कुछ नया बनाने का मैं करता हूँ तेरा शुक्रिया इतने दिन साथ निभाने का आमिल"

अफ़सोस क्यूं अफसोस मुझे हो,तेरा मुझको छोड़ कर जाने का 
मै करता हूँ तेरा शुक्रिया इतने दिन साथ निभाने का 

क्यूं सोच सोच कर पागल हो जाऊं हर लम्हा तेरे बारे में
ये तो दस्तूर है दुनिया का पुराना हटा कर कुछ नया बनाने का


मैं करता हूँ तेरा शुक्रिया इतने दिन साथ निभाने का

आमिल

#अफ़सोस @Deepika Dubey @Namita Writer @Sahiba Sridhar @Navneet Sarada @Eshaan Avasthi @Lipika Jain

182 Love

""

"अफ़सोस Hume unse durr hone ka gum nahi bus afsoos hai ki woh bhi humare nahi ho pae"

अफ़सोस Hume unse durr hone ka gum nahi bus
afsoos hai ki woh bhi 
humare nahi ho pae

#अफ़सोस

137 Love

""

"अफ़सोस अफ़सोस होता है उस पल जब अपनी पसन्द और कोई चुरा लेता है ख्वाब हम देखते हैं और हकीकत कोई और बना लेता है ✍️नवीन  "

अफ़सोस अफ़सोस होता है उस पल
जब अपनी पसन्द और कोई चुरा लेता है 
ख्वाब हम देखते हैं
और हकीकत कोई और बना लेता है



✍️नवीन  

#अफ़सोस @Sarita Kumari

121 Love

""

"अफ़सोस है कि मैं तुम्हें पा ना सकी , तुम्हारे अलावा किसी और को चाह ना सकी, जिस्मों के साथ तो हजारों वादे कर दिये मैंने, मगर रूहों को किसी के साथ बांट ना सकी , अफ़सोस है कि मैं तुम्हें पा ना सकी , माना कि आज हम साथ नहीं, तुम मेरे और मैं तुम्हारे पास नहीं, मगर आज भी तुम्हारी यादों को अपने ख्यालों से मिटा ना सकीं, अफसोस है कि मैं तुम्हें भूला ना सकी, अफ़सोस है कि मैं तुम्हें पा ना सकी।।"

अफ़सोस है कि मैं तुम्हें पा ना सकी ,
तुम्हारे अलावा किसी और को चाह ना सकी,
जिस्मों के साथ तो हजारों वादे कर दिये मैंने,
मगर रूहों को किसी के साथ बांट ना सकी ,
अफ़सोस है कि मैं तुम्हें पा ना सकी ,
माना कि आज हम साथ नहीं,
तुम मेरे और मैं तुम्हारे पास नहीं,
मगर आज भी तुम्हारी यादों को
 अपने ख्यालों से मिटा ना सकीं,
अफसोस है कि मैं तुम्हें भूला ना सकी,
अफ़सोस है कि मैं तुम्हें पा ना सकी।।

 

110 Love
1 Share