Sand in hand Quotes
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"माँ नहीं थी वह, तुलसी थी, आँगन थी, द्वार थी, किवाड़ थी, चूल्हा थी, आग थी, नदी की धार थी ।।"

माँ नहीं थी वह,

तुलसी थी,

आँगन थी,

द्वार थी,

किवाड़ थी,

चूल्हा थी,

आग थी,

नदी की धार थी ।।

#Bahut#Yaad#Aati#hai😔 @Đràuñ Jàngíř @Nusrat Shaikh @Dr.Shruti Garg PT @voice of the soul @Tarannum Sana @Internet Jockey

42 Love

"agr kush rahna h to in bato ko ghath bandh lo 1- kabhi kisi ka sahra mt karo 2- kabhi khushi mt dhundo 3- apne dhukh ko gale lagao 4- khud pe vishwas karo 5- akela khud ko kabhi mt samjho 6- na bolna shinho 7- zindgi ko saral tarike se nahi kathin tarko se jiy 8- gusa ane pe khud pe gusa kro dusro pe nahi 9- pese ki trf mt bhago 10- apni pahechan khud banao fir apko khus rahne se koi nahi rok sakta qki aksr jin chizo ki chat krte h wo nahi hoti jo nahi ho sakta wo kre"

agr kush rahna h to in bato ko ghath bandh lo 
1- kabhi kisi ka sahra mt karo
2- kabhi khushi mt dhundo 
3- apne dhukh ko gale lagao 
4- khud pe vishwas karo
5- akela khud ko kabhi mt samjho
6- na bolna shinho
 7- zindgi ko saral tarike se nahi kathin tarko se jiy
8- gusa ane pe khud pe gusa kro dusro pe nahi 
9- pese ki trf mt bhago
10- apni pahechan khud banao 

fir apko khus rahne se koi nahi rok sakta qki aksr jin chizo ki chat krte h wo nahi hoti jo nahi ho sakta wo kre

@shivam kumar mishra @Kayyum rja 7690811321 (YouTuber) #SUMAN# @Rahul Tiwari @Gabbar💀

181 Love

"मुठ्ठी भर रेत है ज़िन्दगी पतझड़ सा खेत है. दबा के रख हौंसलों की मुठ्ठी जहां हर हवा को तेरा भेत है।"

मुठ्ठी भर रेत है ज़िन्दगी पतझड़ सा खेत है. दबा के रख हौंसलों की मुठ्ठी जहां हर हवा को तेरा भेत है।

#nojotoapp#nojotonews#nojotohindi#Nojotochallenge#nojotoquotes#nojotohindishayari#nojotopoetry @Sonika Sah @RIYA SURTI @Babita Pandey @Aaisha rana @Priyanka Bana ASecrats_writes

151 Love
1 Share

"हाँ , क्या क्या करवाती है जिंदगी कभी हँसाती तो , कभी रुलाती है जिंदगी कहीं है इतनी खुशी तो , कहीं दुख भरमार है किसी से नफरत तो , किसी से बेहद प्यार है कोई भाग रहा किसी होड़ में , कोई थक गया जिंदगी की दौड़ में कोई गुस्से से खुद को जला रहा हैं ,कोई प्रेम की बारिश में नहा रहा हैं कितनी आसान है ये जिंदगी , फिर भी इतनी नादान है ये जिंदगी तभी तो कोई जन्म का उत्सव ,तो कोई गंगा में फूल बहा रहा है हाँ , शायद इसी का नाम है जिंदगी -कनक लखेसर✍️"

हाँ , क्या क्या करवाती है जिंदगी
कभी हँसाती तो , कभी रुलाती है जिंदगी
कहीं है इतनी खुशी तो , कहीं दुख भरमार है
किसी से नफरत तो , किसी से बेहद प्यार है
कोई भाग रहा किसी होड़ में , कोई थक गया जिंदगी की दौड़ में
कोई गुस्से से खुद को जला रहा हैं ,कोई प्रेम की बारिश में नहा रहा हैं
कितनी आसान है ये जिंदगी , फिर भी इतनी नादान है ये जिंदगी
तभी तो कोई जन्म का उत्सव ,तो कोई गंगा में फूल बहा रहा है
हाँ , शायद इसी का नाम है जिंदगी
-कनक लखेसर✍️

केसी ये जिंदगी....??


#Nojoto
#nojotonews#nojotohindi#kanak#Kalamse#Quotes #Poetry #Shayari #poem #Stories #Funny #erotica#मेरेअल्फाज़ #Music#विचार #कविता #कहानी #शायरी #हास्य #कला #संगीत#कॉमेडी#Hobby
#Love #Happiness #Heart #Life #Broken

139 Love
6 Share

"कितना अच्छा होता दर्द रेत के बने होते. हाथ से मिटा देते या पाव से उड़ा देते.."

कितना अच्छा होता
 दर्द रेत के बने होते. 

   हाथ से मिटा देते
 या पाव से उड़ा देते..

😅😅

129 Love