Humsafar status
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"ÄŘTIFIÇEŘ 😎 न सफ़र था कभी, न वादा था कभी... ज़माने में तेरे संग चलने का सिर्फ़ इरादा का कभी......"

ÄŘTIFIÇEŘ 😎
न सफ़र था कभी, न वादा था कभी...
ज़माने में तेरे संग चलने का सिर्फ़ इरादा का कभी......

Dream WORLD ❤️
ÄŘTIFIÇEŘ ✍️
#ishupriya #observation #Love #Life #writers #duniya #yusuf#sher

219 Love
3 Share

"पढ़ पढ़ आंखे कई क़िताब लिखे है,मैंने मेरी जान तेरे लिए बहुत ख़िताब लिखे है. तेरे रूप की चाशनी से लेकर तेरे सुर्ख होंठों के गुलाब लिखे हैं. तेरी आँखों की गुस्ताखियां,तेरे हुस्न के नख़रे मेहताब लिखे हैं. डूब के तेरी सांसों में तेरी महक के नशीले शबाब लिखे है. तेरे कोमल से हाथ पकड़,खा के कसम तेरे नाम जन्म सात लिखे हैं. ना जाना दूर अमन से अमन ने उतार के तेरे साथ रूह के अपने सारे ऐहसास लिखे है।"

पढ़ पढ़ आंखे कई क़िताब लिखे है,मैंने मेरी जान तेरे लिए बहुत ख़िताब लिखे है.
तेरे रूप की चाशनी से लेकर तेरे सुर्ख होंठों के गुलाब लिखे हैं.
तेरी आँखों की गुस्ताखियां,तेरे हुस्न के नख़रे मेहताब लिखे हैं.
डूब के तेरी सांसों में तेरी महक के नशीले शबाब लिखे है.
तेरे कोमल से हाथ पकड़,खा के कसम तेरे नाम जन्म सात लिखे हैं.
ना जाना दूर अमन से अमन ने उतार के तेरे साथ रूह के अपने सारे ऐहसास लिखे है।

✍️a6.1 #nojoto #nojotohindi #Poetry#story#Quotes#erotica#Music#Video#song#Love#Life#parindey#udaan#honsle#chintiyan#pahad#salam#ranjha#majnu#heer#laila#TikTok#hindishayri#nojotoquotes#nojotopoetry#naam#manzil#asman#kavitagautam#divyajoshi#Aisha#aahnaverma#BinaBabi#achalsharma#chhayayadav#nishiignatius#dikshitagarg#AkashiParmar#aadarshasingh#DeepikaDubey#DeepaRajput#shalijas#HaimiKumari#madhukaur#EshaJoshi#KalavatiKumari#leelawatisharma#smrutirekhadash#parulsharma#rumagupta#roshnijangu#kusumlata#

160 Love
4 Share

"❣आओ एक शाम मुलाकात कर लेते है, शिकायतों का बहाना लेकर मुहब्बत की बात कर लेते हैं। गवाही हो वो ढलते सूरज की मद्धिम होता प्रकाश, वो चांद का अभी चलो थोड़ा इंतज़ार कर लेते हैं। तुम कहना अपनी बातें,मै अपलक निहरूंगी तुम्हें तुम बताना कमियां मुझमें, मैं मुस्कुरा कर पुकारूंगी तुम्हें, आओ प्रकृति प्रेम का भी थोड़ा श्रृंगार कर लेते हैं।❣ __smile ❤💛💚💙💜♥"

❣आओ एक शाम मुलाकात कर लेते है,
शिकायतों का बहाना लेकर मुहब्बत की बात कर लेते हैं।

गवाही हो वो ढलते सूरज की मद्धिम होता प्रकाश,
वो चांद का अभी चलो थोड़ा इंतज़ार कर लेते हैं।

तुम कहना अपनी बातें,मै अपलक निहरूंगी तुम्हें

तुम बताना कमियां मुझमें, मैं मुस्कुरा कर पुकारूंगी तुम्हें,
आओ प्रकृति प्रेम का भी थोड़ा श्रृंगार कर लेते हैं।❣

__smile ❤💛💚💙💜♥

#nojoto hindi poem
#Love #Life#Pain
#Shayari#thought#poem
♥💜💙💚💛❤
❣💫❣💫❣💫

154 Love
1 Share

"Itne pyaar se jo tum bulate ho dheere dheere dil me yun utr jate ho in khwaabo ke sahare to zinda hu m kyunki har raat inme tum jo aate ho .."

Itne pyaar se jo tum bulate
ho 
dheere dheere dil me yun utr jate ho
in khwaabo ke sahare to zinda hu m
kyunki har raat inme tum jo aate ho ..

#khwaab #shayri #longdistance #true sirf door se hi feelings le sakte h 😣😊😊😘😘

154 Love
11 Share

"(गुमसुम लड़की) बेबस लाचार हुए बैठी है ये गुमसुम सी लड़की मर के कई सवाल लिए बैठी है. जन्म से अंत तक कि कहानी का किये हिसाब बैठी है,बेटे के लालच में क़ातिल परिवार का सितम,कैसे कटी कोख़ में,घबरा के,खुद पे चली कैंची का हिसाब किये बैठी है. लिए जी रही थी कोख़ में जो हसीन दुनिया के ख्वाब,ये लिए उन सपनों की राख बैठी है. रोशन चाँद सा चमकना चाहती थी जो,घनी काली रात सा अंधेरा किये खाक बैठी है. जो खुद साफ करना चाहती थी दुनिया से नफ़रत,देख ख़ुदा वो ख़ुद कोख़ से ही साफ़ हुए बैठी है. ना रहा इसका कोई अपना जो माँ थी वही कलयुग का शैतान हुए बैठी है.कहे बाप किसको ये जो था बाप वही फेंक आया कचरे पे,देख आँखे खोल ख़ुदा आज ये कचरे के ढेर पे हुए लाश बैठी है,गुमसुम सी लड़की आज बडी उदास बैठी है. खा रहे कटा फटा जिस्म जानवर इसका किसलिए ये तेरे है शमशान कब्रिस्तान,आज तो तेरी भी इंसानियत जल दफ़न हुए बैठी है. ना आया फेंकने वाले को रेहम ना आया तुझे रेहम ये तेरे होने पे ही स्वाल लिये बैठी है। पूछती है खुदा से तेरे नरक में ही दे देता जगह क्यूं मेरी रूह इन भेड़ियों के लालच का बन शिकार बैठी है. तुं तो कहता रहा नही जला सकता कोई रूह,देख मेरे पास आ के कितने मेरी रूह आग के अंगार लिए बैठी है."

(गुमसुम लड़की)
बेबस लाचार हुए बैठी है ये गुमसुम सी लड़की मर के कई सवाल लिए बैठी है.
जन्म से अंत तक कि कहानी का किये हिसाब बैठी है,बेटे के लालच में क़ातिल परिवार का सितम,कैसे कटी कोख़ में,घबरा के,खुद पे चली कैंची का हिसाब किये बैठी है.
लिए जी रही थी कोख़ में जो हसीन दुनिया के ख्वाब,ये लिए उन सपनों की राख बैठी है.
रोशन चाँद सा चमकना चाहती थी जो,घनी काली रात सा अंधेरा किये खाक बैठी है.
जो खुद साफ करना चाहती थी दुनिया से नफ़रत,देख ख़ुदा वो ख़ुद कोख़ से ही साफ़ हुए बैठी है.
ना रहा इसका कोई अपना जो माँ थी वही कलयुग का शैतान हुए बैठी है.कहे बाप किसको ये जो था बाप वही फेंक आया कचरे पे,देख आँखे खोल ख़ुदा आज ये कचरे के ढेर पे हुए लाश बैठी है,गुमसुम सी लड़की आज बडी उदास बैठी है.
खा रहे कटा फटा जिस्म जानवर इसका किसलिए ये तेरे है शमशान कब्रिस्तान,आज तो तेरी भी इंसानियत जल दफ़न हुए बैठी है.
ना आया फेंकने वाले को रेहम ना आया तुझे रेहम ये तेरे होने पे ही स्वाल लिये बैठी है।
पूछती है खुदा से तेरे नरक में ही दे देता जगह क्यूं मेरी रूह इन भेड़ियों के लालच का बन शिकार बैठी है.
तुं तो कहता रहा नही जला सकता कोई रूह,देख मेरे पास आ के कितने मेरी रूह आग के अंगार लिए बैठी है.

🌹happy Daughters day🌹😣✍️
i hope log ye lines samjhenge . jo log bete k lalach mai ladkiyon ko kokh mai hi मार देते ye ek usi ladki ki आत्मा की कुछ झलक है जो मैंने लिखी ये में कल पूरी नहीं कर पाया था इसे अभी पूरा किया✍️😣.ये ladki ख़ुदा से पूछ रही उसकी जिंदगी से ऐसा खिलवाड़ क्यों.में इस से ज्यादा नहीं likh पाया its very emotionl😥😓😣😣and plz dont kill baby girls before her birth.ladkiyon ko जीने का अधिकार दीजिये.बेटा बेटी एक ही है दोनों भगवान का रूप🙏लड़कियां भी धरती की तरह है इनको ख़त्म करोगे तो रहोगे

148 Love
2 Share