Relationship story
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"रिश्ते की शुरुआत झूठ कहूँ तो लफ्जों का दम घुटता है सच्च कहूँ तो लोग खफा हो जाते हैं।"

रिश्ते की शुरुआत झूठ कहूँ तो लफ्जों का दम घुटता है
 सच्च कहूँ तो लोग खफा हो जाते हैं।

@Vikash Singh @Alok Singh @Raaj yadav @Lakhindra Nishad @Adil Khan

187 Love
9 Share

"रिश्ते की शुरुआत रिश्ते की शुरुवात करनी नहीं पडती, रिश्ते की शुरुवात खुद ब खुद हो जाती है, ज़ब आँखों से आँखें मिल जाती है, ज़ब धड़कन से धड़कन मिल जाती है, ज़ब रूह से रूह जुड़ जाती है, ज़ब आँखें एक दूसरे को देखने के लिए तरस जाती है, बस इन सब एहसास से रिश्ते की शुरुवात हो जाती है|| Halima usmani"

रिश्ते की शुरुआत रिश्ते की शुरुवात करनी नहीं  पडती, 
रिश्ते की शुरुवात खुद ब खुद हो जाती है, 
ज़ब आँखों से आँखें मिल जाती है, 
ज़ब धड़कन से धड़कन मिल जाती है, 
ज़ब रूह से रूह जुड़ जाती है, 
ज़ब आँखें एक दूसरे को देखने के लिए तरस जाती है,
बस इन सब एहसास से रिश्ते की शुरुवात हो जाती है||
Halima usmani

#Relationship #CTL #QandA #pod #nojotonews #nojotohindi #nojotoapp #nojoto #Love #feelings #missu #Missing #kahani #vichar #kavita @Dilwala© @Ankita Maurya @Suresh Gulia @Payal Singh @Rubeena Bano aamil Qureshi

132 Love
13 Share

"रिश्ते की शुरुआत कुछ चाहे कुछ अनचाहे रिश्ते,रिश्तों पर किसका ज़ोर है टूट रहे हैं रिश्ते अब ,बस इसी बात का शोर है टूटते नहीं रिश्ते रूप बदलते, मेरा मत कुछ और है भावनाओं के कसौटी से देखो कोई अपना कोई ग़ैर है जन्म से कुछ बन्ध जाती तो कुछ की होती बाद में शुरुआत कभी मित्रता तो कभी सहकर्मी सभी में होती कुछ विशेष बात एक रिश्ता कुछ ख़ास है होता जब होती मेहबूब से मुलाकात इसी से होती है ये बातें, कभी न छोड़ेंगे तेरा साथ एकतरफ़ा हो या दोतरफ़ा बस प्रेम हीं इसका सिंचन है एकदूजे का साथ निभाएँ तो सुखमय पूरा जीवन है खून के रिश्ते भी धोखा दे देते, इतिहास में ऐसा वर्णन है जिसका नीव विश्वास पर टिका, वो रिश्ता हीं कंचन है"

रिश्ते की शुरुआत 


कुछ चाहे कुछ अनचाहे रिश्ते,रिश्तों पर किसका ज़ोर है
टूट रहे हैं रिश्ते अब ,बस इसी बात का शोर है
टूटते नहीं रिश्ते रूप बदलते, मेरा मत कुछ और है
भावनाओं के कसौटी से देखो कोई अपना कोई ग़ैर है

जन्म से कुछ बन्ध जाती तो कुछ की होती बाद में शुरुआत
कभी मित्रता तो कभी सहकर्मी सभी में होती कुछ विशेष बात
एक रिश्ता कुछ ख़ास है होता जब होती मेहबूब से मुलाकात
इसी से होती है ये बातें, कभी न छोड़ेंगे तेरा साथ

एकतरफ़ा हो या दोतरफ़ा बस प्रेम हीं इसका सिंचन है
एकदूजे का साथ निभाएँ तो सुखमय पूरा जीवन है
                             खून के रिश्ते भी धोखा दे देते,                     इतिहास में ऐसा वर्णन है
                     जिसका नीव विश्वास पर टिका,                         वो रिश्ता हीं कंचन है

कुछ चाहे कुछ अनचाहे रिश्ते,रिश्तों पर किसका ज़ोर है
टूट रहे हैं रिश्ते अब ,बस इसी बात का शोर है
टूटते नहीं रिश्ते रूप बदलते, मेरा मत कुछ और है
भावनाओं के कसौटी से देखो कोई अपना कोई ग़ैर है

जन्म से कुछ बन्ध जाती तो कुछ की होती बाद में शुरुआत
कभी मित्रता तो कभी सहकर्मी सभी में होती कुछ विशेष बात
एक रिश्ता कुछ ख़ास है होता जब होती मेहबूब से मुलाकात

125 Love
4 Share

"रिश्ते की शुरुआत Tab hmne unko pahli defa dekha na ... wo college ka pahla din tha.. kala suit kali sarwal.. brown rang ... or ushe dekhte dekhte janpuchker unshe takrana .. or kahna sorry ji aapko lagi to nahi ... or unka muskurana ... hmari riste ki pahli surawat Ban gya .."

रिश्ते की शुरुआत Tab hmne unko pahli  defa dekha na ...
wo college ka pahla din tha..
kala suit kali sarwal..
brown rang ...
or ushe dekhte dekhte janpuchker unshe takrana ..
or kahna sorry ji aapko lagi to nahi ...
or unka muskurana ...
 hmari riste ki pahli surawat Ban gya ..

#Relationship
This is my real story..😊😊

118 Love
4 Share

"रिश्ते की शुरुआत चाहे अच्छी हो या बुरी शुरूआत होनी चाहिए अंत भला हो तो बुरी शुरूआत भी अच्छी लगती है रिस्तो में मीठास हो तो जिंदगी ख़ुशीयो से भर जाती है"

रिश्ते की शुरुआत चाहे अच्छी हो या बुरी 
शुरूआत होनी चाहिए 
अंत भला हो तो बुरी शुरूआत भी अच्छी लगती है
रिस्तो में मीठास हो तो जिंदगी 
ख़ुशीयो से भर जाती है

 

113 Love
6 Share