Alone story
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"✍When I want to be alone, I would like to get closer to nature.Because no one can know better than to feel the breakdown of flowers. ❤❣❤❣❤❣❤❣ एकांत की ख्वाहिश में मैं प्रकृति के करीब जाना चाहूंगी क्यूंकि टूटने का दर्द फूलों से बेहतर और कोई नहीं समझ सकता। ___Smile 💚❣💚❣💚"

✍When I want to be alone,
I would like to get closer
to nature.Because no one
can know better than to feel
the breakdown of flowers.

❤❣❤❣❤❣❤❣


एकांत की ख्वाहिश में मैं
प्रकृति के करीब जाना चाहूंगी क्यूंकि
टूटने का दर्द फूलों से बेहतर और कोई 
नहीं समझ सकता।

___Smile 💚❣💚❣💚

#Life#Motivation#alone
#thought#Shayari#poem
#Nojoto english
#Nojoto news
💚❣❤💚❣❤💚❣❤

222 Love
2 Share

"Koi hisaab nahi chahia hamain, Apni wafain uthain or chalty banain..."

Koi hisaab nahi chahia hamain, 
Apni wafain uthain or chalty banain...

 

203 Love
19 Share

"i want to admire the natural beauty..!! i love to talk with stars and moon..!! i like to walk with breeze..!! and communicate to them share all my thoughts and views with them and feel relaxed..!!"

i want to admire the natural beauty..!! i love to talk with stars and moon..!! i like to walk with breeze..!! and communicate to them share all my thoughts and views with them and feel relaxed..!!

#Alfaaz_E_SiddiQui

195 Love
20 Share

"इतने मौसम बीत गए, अब आने की कब सोचा है??? वो दर्द, सितम, वो बेरुखी दोहराने की कब सोचा है??? जो दिल के बसेरे तोड़ दिए आशियाने की कब सोचा है??? हम तो तन्हा आज भी है फिर दिल लगाने की कब सोचा है??? —शिखा शर्मा"

इतने मौसम बीत गए, अब 
आने की कब सोचा है??? 
वो दर्द, सितम, वो बेरुखी 
दोहराने की कब सोचा है??? 
जो दिल के बसेरे तोड़ दिए 
आशियाने की कब सोचा है??? 
हम तो तन्हा आज भी है 
फिर दिल लगाने की कब सोचा है???
 
                        —शिखा शर्मा

# कब सोचा है??? #Quotes #Shayari #poem

190 Love

"उसकी यादों को आज भी दिल में समा रखा है,,और वो कहती रही मैंने दिल कही और लगा रखा है. अब उसको कौन समझाये ये दिल है साला कोई बल्ब नही,,ये सीने में ही लगता है और सीने में ही लगा रखा है।"

उसकी यादों को आज भी दिल में समा रखा है,,और वो कहती रही मैंने दिल कही और लगा रखा है.

अब उसको कौन समझाये ये दिल है साला कोई बल्ब नही,,ये सीने में ही लगता है और सीने में ही लगा रखा है।

###loveshayari #poetry
Prachi Khushi kaur B 😊😊 Gita Ruchika Kanchan Tiwari

186 Love
5 Share