Uljhan shayari
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"गर घनघोर हौ जाए उलझने तो , उलझने सुलझाने को उलझनों में उलझना पड़ता हैं ! जब चारो ओर अंधकार-ही-अंधकार हो और कुछ ना दिखाई दे, तब उजियारा करने को अँधेरे में भी अंधकार से लड़ना पड़ता हैं !!"

गर घनघोर हौ जाए उलझने तो , उलझने सुलझाने को उलझनों में उलझना पड़ता हैं ! 
जब चारो ओर अंधकार-ही-अंधकार हो और कुछ ना दिखाई दे, तब उजियारा करने को अँधेरे में भी अंधकार से लड़ना पड़ता हैं !!

#Nojoto #kalakaksh

250 Love
14 Share

""

"दर्द बिछाकर बिस्तर पर , औरत रात को सोती है दोनों घर की परायी वो , हर छोटी बात पे रोती है । शिकायत वो किससे करे कौन है उसका ज़माने में शादी सफ़ल तो पति , वार्ना माँ भी परायी कहती है । मोटी है , पतली है , नाटी है , नाक भी थोड़ी टेढ़ी है जीते जी उस लड़की की ज़िन्दगी जहन्नुम होती है । --अनुष्का वर्मा"

दर्द बिछाकर बिस्तर पर , औरत रात को सोती है 
दोनों घर की परायी वो , हर छोटी बात पे रोती है ।

शिकायत वो किससे करे कौन है उसका ज़माने में 
शादी सफ़ल तो पति , वार्ना माँ भी परायी कहती है ।

मोटी है , पतली है , नाटी है , नाक भी थोड़ी टेढ़ी है 
जीते जी उस लड़की की ज़िन्दगी जहन्नुम होती है ।
--अनुष्का वर्मा

#Nojoto

245 Love
13 Share

""

"जो दर्द है दिल का वो आँखें बयां करती है, तकलीफे तो फिर भी कभी ना कभी हसाँ दिया करती है।"

जो दर्द है दिल का वो आँखें बयां करती है,
तकलीफे तो फिर भी कभी ना कभी हसाँ दिया करती है।

#Nojotoapp #Nojoto #Nojotohindi #Nojotourdu #Nojotoshayari

225 Love
14 Share

""

"उसने एक बार भी नहीं सोचा मैं यही सोचता रहा बरसों"

उसने एक बार भी नहीं सोचा


मैं यही सोचता रहा बरसों

#सोच#बरसों
Shikha Sharma Richa Sinha Chanchal Tomar Harapriya Prusty supe@29

200 Love
8 Share

""

"कल तक सुना था की इंसान के चेहरे के पीछे एक चेहरा होता है मगर हम तो आज वाकिफ हुए एल सच से चेहरे के पीछे अनेक चेहरे होते है जो वक़्त आने पर कई रंग बदलते है।"

कल तक सुना था की
इंसान  के चेहरे के पीछे एक  चेहरा होता है
मगर हम तो आज वाकिफ हुए 
एल सच से
चेहरे के पीछे अनेक चेहरे होते है
जो वक़्त आने पर कई रंग
बदलते है।

#nojotohindi #nojotoquoyes

179 Love