life quote
  • Popular
  • Latest
  • Video

"एक वक़्त था जब हम नाराज़गी ज़ाहिर करके सबके सीने से लग कर बेताहाशा रो लिया करते थे आज कल तो होंठों पे चुप्पी और आँखों मे नमी लेकर सबकी ज़िन्दगियों से वापस आ जाते हैं । --अनुष्का वर्मा"

एक वक़्त था जब हम 
नाराज़गी ज़ाहिर करके
सबके सीने से लग कर
बेताहाशा रो लिया करते थे 
आज कल तो होंठों पे चुप्पी
 और आँखों मे नमी लेकर 
सबकी ज़िन्दगियों से वापस
 आ जाते हैं ।
--अनुष्का वर्मा

#Nojoto

206 Love
7 Share

"मैं कम बोलूं तो चुप्पी और ज्यादा बोलूं तो गप्पी मैं अकेले चलूं तो माल दोस्त के साथ चलूं तो बवाल तुम्हें देखकर अपने चरित्र का प्रमाण दूं अबे ओ तुम होते कौन हो...."

मैं कम बोलूं तो चुप्पी और ज्यादा बोलूं तो गप्पी 
मैं अकेले चलूं तो माल दोस्त के साथ चलूं तो बवाल 
तुम्हें देखकर अपने चरित्र का प्रमाण दूं अबे ओ तुम होते कौन हो....

#nahipdtafarak#myself#nojoto####


part-2

172 Love
11 Share

"मैं लौ बन के गुरुर में बैठा रहा..!! वो बाती बनके जलती रही मेरे लिये....!!!! WAFFA KI TALLASH"

मैं लौ बन के गुरुर में बैठा रहा..!!

वो बाती बनके जलती रही मेरे लिये....!!!!

WAFFA KI TALLASH

WAFFA KI TALLASH

164 Love
4 Share

"शोर मत कर ये दिल...शहर सो रहा अभी हर किसी के नसीब में चैन की नींद नहीं होती..."

शोर मत कर ये दिल...शहर सो रहा अभी
हर किसी के नसीब में चैन की नींद नहीं होती...

शोर मत कर...

161 Love
22 Share

"कभी थक हार कर, हम इस जहां के बदलने का इंतज़ार किया करते हैं। कभी बिखर कर हम खुद-ब-खुद जुड़ने का इंतज़ार किया करते हैं। ईन कागज की कश्ती का बारिश में तैरने का इंतज़ार किया करते हैं। तबियत ठीक नहीं है जख्म है जो हमारे तेरे पुछने का इंतज़ार किया करते हैं। अंधेरी परछाई को देखना हैं जो तुम सी नजर आती हैं हम आफ्ताव का इंतज़ार किया करते हैं।"

कभी थक हार कर, 
हम इस जहां के बदलने का 
इंतज़ार किया करते हैं। 

कभी बिखर कर 
हम खुद-ब-खुद जुड़ने का 
इंतज़ार किया करते हैं।

ईन कागज की कश्ती का
बारिश में तैरने का 
इंतज़ार किया करते हैं।

तबियत ठीक नहीं है 
जख्म है जो हमारे 
तेरे पुछने का 
इंतज़ार किया करते हैं।

अंधेरी परछाई को देखना हैं 
जो तुम सी नजर आती हैं 
हम आफ्ताव का
इंतज़ार किया करते हैं।

 

143 Love
10 Share