Sunrise shayari
  • Popular Stories
  • Latest Stories

"चलिए जहां को दिल्लगी सिखाई जाए इश़्क करके क्यों रोज़ मौत बुलाई जाए इश़्क का रोग जिन्होंने दिया है मुझको ज़हर सी ये दवा उनको भी पिलाई जाए"

चलिए जहां को दिल्लगी सिखाई जाए
इश़्क करके क्यों रोज़ मौत बुलाई जाए

इश़्क का रोग जिन्होंने दिया है मुझको
ज़हर सी ये दवा उनको भी पिलाई जाए

ishq
#nojotohindi #hindishayari

60 Love

"सुनो ! कोई अपना मिले तो बताना यु कब तलक गैरों को अपना बनाता रहूंगा !!"

सुनो ! कोई अपना मिले तो बताना 
यु कब तलक
गैरों को अपना बनाता रहूंगा !!

#nojotohindi #Shayari #Pyar #Stories

221 Love

"रात के लिए सूरज का डूब जाना चाँद का सुबह के लिए छुप जाना जरूरी था. फिज़ाओ में सुगन्द गुलाबों की बिखेरने के लिए मिट्टी में एक कली का महकना ज़रूरी था. अपनी ओर उठी बुरी नज़रो को झुकाने के लिए डरपोक नही मैं,,मेरा पलके उठाकर बताना जरूरी था. गरमाहट कामयाबी की लेने के लिए, सफेद अंधेरो की धुंध से गुजरना जरूरी था. चेहरे पे चमक रखने के लिए कितनी सिद्दत है लेकिन रूह की जड़ो को भी सींचना जरूरी था, बलात्कारियो के विरोध में आप मोमबत्तिया जलाते हो हर सुनसान सड़क पर,एक दीपक विरोध का दिल मे भी जगाना जरूरी था, उस गरीब की भूख का मज़ाक उड़ा रहे हो रोटी दान करते वक़्त, सेल्फियां नही उनकी दुआओं की तस्वीर भी दिल में लेना जरूरी था, मन मे पाप लेकर पोछा लगाते हो जिस गुरु की चौखट पे सुमन,, उसकी सेवा के लिए नीयत साफ रखना भी जरूरी था,"

रात के लिए सूरज का डूब जाना
चाँद का सुबह के लिए छुप जाना जरूरी था.

फिज़ाओ में सुगन्द गुलाबों की बिखेरने के लिए
मिट्टी में एक कली का महकना ज़रूरी था.

अपनी ओर उठी बुरी नज़रो को झुकाने के लिए
डरपोक नही मैं,,मेरा पलके उठाकर बताना जरूरी था.

गरमाहट कामयाबी की लेने के लिए,
सफेद अंधेरो की धुंध से गुजरना जरूरी था.

चेहरे पे चमक रखने के लिए कितनी सिद्दत है
लेकिन रूह की जड़ो को भी सींचना जरूरी था,

बलात्कारियो के विरोध में आप मोमबत्तिया जलाते हो
हर सुनसान सड़क पर,एक दीपक विरोध का दिल मे भी जगाना जरूरी था,

उस गरीब की भूख का मज़ाक उड़ा रहे हो रोटी दान करते वक़्त,
सेल्फियां नही उनकी दुआओं की तस्वीर भी दिल में लेना जरूरी था,

मन मे पाप लेकर  पोछा लगाते हो जिस गुरु की चौखट पे सुमन,,
उसकी सेवा के लिए नीयत साफ रखना भी जरूरी था,

@aman6.1 @Pratibha Tiwari(smile)🙂 @aamil Qureshi @(Meer) Musher Ali @JYOTI AWASTHI (Jiya) 🌸 @Neetu_SharmA_POET✒

206 Love

"गजल इस तरह ऐ जिंदगी तेरे रकीब होते रहे वक़्त गुजरता रहा मौत के करीब होते रहे कुछ यूँ खुदती रही खाई दरमियाँ इंसानो के के गरीब ओर गरीब अमीर ओर अमीर होते रहे इस तरह रखा ख्याल उन्होंने मेरे बाग का दरख़्त जलते रहे और रफीक सोते रहे मैं बनाता रहा वो उजाड़ता रहा घरौंदे मेरे कुछ यूँ रान ऐ दरगाह बदनसीब होते रहे मैने जब से मुहं देखकर बात कहना छोड़ दी मेरे अपने दूर होते रहे गैर करीब होते रहे मारुफ आलम"

गजल

इस तरह ऐ जिंदगी तेरे रकीब होते रहे
वक़्त गुजरता रहा मौत के करीब होते रहे

कुछ यूँ खुदती रही खाई दरमियाँ इंसानो के
के गरीब ओर गरीब अमीर ओर अमीर होते रहे

इस तरह रखा ख्याल उन्होंने मेरे बाग का
दरख़्त जलते रहे और रफीक सोते रहे

मैं बनाता रहा वो उजाड़ता रहा घरौंदे मेरे
कुछ यूँ रान ऐ दरगाह बदनसीब होते रहे

मैने जब से मुहं देखकर बात कहना छोड़ दी
मेरे अपने दूर होते रहे गैर करीब होते रहे

मारुफ आलम

मौत के करीब होते रहे/गजल

193 Love
3 Share

"गूंज उठा ताज तेरे नाम से जब ताजमहल की दहलीज पे जा के अमन ने नाम तेरा पुकारा।"

गूंज उठा ताज
तेरे नाम से
 जब ताजमहल
 की दहलीज
 पे जा के अमन
 ने  नाम तेरा
 पुकारा।

#Memories

✍️6.1⚔️aman🛡️Follow more such stories on @Nojotoapp
#writersofinstagram #writeraofindia #shayaris #Poetry #Quote #wordporn #qotd #igwriters #Nojoto #nojotoapp #wordgasm #wordporn #indianwriters #poetsofindia #Stories #storytelling #Quoteoftheday #writersofindia #Poetrycommunity #igpoets #wordsofwisdom #Love #Thoughts #igwriterclub

@Rinky Kala (R*) @jasmin sultana @Anjali Kumari @Reena Kumar" Navika" @nisha pathak @Nisha khan

167 Love
2 Share