Shore shayari
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"मेरा आँसू आेसे बहुत गहरा आैर प्यारा रिश्ता है जो बातों बातों में मेरे दिल में उतर गया... वहीं हमेशा के लिए मेरी हँसी_खुशी आैर जीने की वजह बन गया... फुर्सत मिले कभी तो मेरी कविताओं में तेरे लिए छुपे प्यार को महसूस कर लेना.... तेरी आस पास बिखरी हुई कविताओं में मेरे अस्तित्व के अंश बिखरे हैं कभी उन्हें अपनी हाथ की हथेली में भर लेना..... #NojotoQuote"

मेरा आँसू आेसे बहुत गहरा आैर प्यारा रिश्ता है
जो बातों बातों में मेरे दिल में उतर गया...
वहीं हमेशा के लिए मेरी हँसी_खुशी  आैर जीने की वजह बन गया...
फुर्सत मिले कभी तो  
मेरी कविताओं में तेरे लिए छुपे प्यार को महसूस कर लेना....
तेरी आस पास बिखरी  हुई कविताओं में 
मेरे अस्तित्व के अंश बिखरे हैं कभी उन्हें अपनी हाथ की हथेली में भर लेना..... #NojotoQuote

#nojotohindipoetry#nojotomusic#nojotofiling#nojotoLove
#Life#nojotonews#nojotoapp

मेरा आँसू आेसे बहुत गहरा आैर प्यारा रिश्ता है
जो बातों बातों में मेरे दिल में उतर गया...
वहीं हमेशा के लिए मेरी हँसी_खुशी आैर जीने की वजह बन गया...
फुर्सत मिले कभी तो
मेरी कविताओं में तेरे लिए छुपे प्यार को महसूस कर लेना....

173 Love
2 Share

""

"पता नही कयूँ, वो लिखावट सबको अछ्छी लगती है.. जो सिफँ किसी एक इंसान के लिए लिखी जाती है..."

पता नही कयूँ,
             वो लिखावट सबको अछ्छी लगती है..
जो सिफँ किसी एक इंसान के लिए लिखी जाती है...

#nojotohindi#nojotoshayri
#poems#filing

पता नही कयूँ,
वो लिखावट सबको अछ्छी लगती है..
जो सिफँ किसी एक इंसान के लिए लिखी जाती है...
#nojotonews#nojotoapp
#twolines

164 Love

""

"Likhti hu apne khayalat pen copy se nahi mann se awaaze aati hai kuch likhne ke liye"

Likhti hu apne khayalat 
pen copy se nahi
mann se awaaze aati hai
kuch likhne ke liye

#✍️

156 Love

""

"मैं दिन हूं तो तुम रात हो । मै तपता हुआ गरमी सा, तुम सुकून देने वाली बरसात हो मै अधूरी शायरी सा ,तुम पूरी किताब की बात हो मै बदरंग सा , तुम बहुत ही सुंदर रंग हो दूर होकर भी हमेशा मेरे संग हो । मै बिखरी हुई जिंदगी ,तुम जीने की ढंग हो । मै मृत्यु सा ,तुम जीवन की अटूट अंग हो । मै सुबह का हरिओम हूं ,तुम दिन भर की खुशी की उमंग हो मै साइंस से परेशान ,तुम कॉमर्स से तंग हो । मै देर हूं,तुम विलंब हो । मस्त हूं ,तो तुम मलंग हो ।"

मैं दिन हूं तो तुम रात हो ।
मै तपता हुआ गरमी सा, तुम सुकून देने वाली बरसात हो 
मै अधूरी शायरी सा ,तुम पूरी किताब की बात हो 
मै बदरंग सा , तुम बहुत ही सुंदर रंग हो  
दूर होकर भी हमेशा मेरे संग हो ।
मै बिखरी हुई जिंदगी ,तुम जीने की ढंग हो ।
मै मृत्यु सा ,तुम जीवन की अटूट अंग हो ।
मै सुबह का हरिओम हूं ,तुम दिन भर की खुशी की उमंग हो 
मै साइंस से परेशान ,तुम कॉमर्स से तंग हो ।
मै देर हूं,तुम विलंब हो ।
 मस्त हूं ,तो तुम मलंग हो ।

#लव

152 Love

""

"गुजरती ही नहीं जाने क्यूं कमबख्त वो शाम..!! उसे अलविदा कहे तो जमाना गुजर गया..!!"

गुजरती ही नहीं जाने क्यूं कमबख्त वो शाम..!!
उसे अलविदा कहे तो जमाना गुजर गया..!!

 

143 Love
1 Share