Love Quotes
  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"बंधन तुम्हारे बंधन में बंध कर तुम्हारे संग चल पड़ी जाने ये कैसा मोड़ आया ज़िन्दगी के सफ़र में जिस बन्धन में परिवार ने मुझे नही रखा तुमने मुझे अपना बना उस बन्धन में बांध लिया। ज़िन्दगी के सफर में। खुश हूं तुम्हारे इस व्यवहार से ना कोई स्वार्थ ना कोई ध्येय बस अपनापन और स्नेह बस अब तो दुआ है रब से इस बन्धन को जज़्बातों और विश्वास की डोर से यूँ ही मजबूत बनाये रखना। ज़िन्दगी के सफ़र में। ए खुदा! अपना आशीर्वाद हम पर यूँ ही बनाये रखना। हर मुसीबत और मुश्किलो के कहर से बचाये रखना ज़िन्दगी के सफर में।"

बंधन तुम्हारे बंधन में बंध कर तुम्हारे संग चल पड़ी
जाने ये कैसा मोड़ आया ज़िन्दगी के सफ़र में
 जिस बन्धन में परिवार ने मुझे नही रखा तुमने मुझे 
अपना बना उस बन्धन में बांध लिया।
ज़िन्दगी के सफर में।
खुश हूं तुम्हारे इस व्यवहार से
ना कोई स्वार्थ ना कोई ध्येय
बस अपनापन और स्नेह
बस अब तो दुआ है रब से
इस बन्धन को जज़्बातों और विश्वास की
डोर से  यूँ ही मजबूत बनाये रखना।
ज़िन्दगी के सफ़र में।
ए खुदा! अपना आशीर्वाद हम पर यूँ ही
बनाये रखना।
हर मुसीबत और मुश्किलो 
के कहर से बचाये रखना
ज़िन्दगी के सफर में।

#nojotohindi #nojotoquotes #sushmathakur #nojotopoem
#बँधन #ज़िन्दगी #सफर #ज़ज़्बात #विश्वास
#परिवार #राह #तुमने #साथ #स्नेह

184 Love

""

"बंधन जनम-जनम जो साथ निभाए ऐसा बन्धन बन जाओ... मैं बन जाऊँ प्यार भरा दिल तुम धड़कन बन जाओ... ✍My_Words"

बंधन जनम-जनम जो साथ निभाए
ऐसा बन्धन बन जाओ...

मैं बन जाऊँ प्यार भरा दिल
तुम धड़कन बन जाओ...


✍My_Words

तुम_धङकन_बन_जाओ ❣❣ .#शायरी #बेशुमार #मोहब्बत #इश्क़ #Nojoto #nojotohindi #nojotonews #nojotoapp #Quotes #poem #Stories #Shayari #Music #Poetry #CTL #pod #WOD #QandA #Love #ishq #mohabbat #Pyar #foryou #post #words #2words #Memories #alone #SAD #Happy #Pain #Joyful
@anjali jain @Nisha Dhiman @Nea♥Gupta..✍️🏻 @Internet Jockey @Satya Prakash Upadhyay

173 Love

""

"बंधन अब इस जन्म में अब हर जन्म का बांध लो, जैसे कविता में स्थान दिया जीवन में प्रिय जगह दो। ये झूठे मोह के तोड़ दो , आत्मा से मेरा नेह जोड़ लो, मेरा प्रेम समर्पण स्वीकार कर इस अंतरात्मा को मंदिर बना दो। तुम मेरे अर्धांग हो ,मैं होऊं अर्धांगिनी तुम्हारी इस लायक मुझे बना दो, सर्वस्व समर्पण कर दूं तुम्हें, इतना गंगा सा पवित्र मुझे प्रवाह दो। मेरे जीवन में ईश्वर नाम का एक दीपक जला दो, मुझे अपनी भक्ति में एक छोटा सा परमात्मा समर्पित पुष्प अब बना लो, अन्तिम सांसों का अपने सहारे बस ईश्वर से प्रिय बंधवा दो। उम्र बीत गई जगत का ध्यान करते करते, समय निकल गया सारे काम करते करते, मेरी आख़िरी सांसो में बस भगवत स्मरण ,मेरे प्रिय करा दो मुझे। Satyprabha....... 🌸🍃जय श्री हरी 🍃🌸"

बंधन   अब  इस जन्म में अब हर जन्म का बांध लो,
जैसे कविता में स्थान दिया जीवन में प्रिय जगह दो।

ये झूठे मोह के  तोड़ दो , आत्मा से मेरा नेह जोड़ लो,
मेरा प्रेम समर्पण स्वीकार कर इस अंतरात्मा को मंदिर बना दो।

तुम मेरे अर्धांग हो ,मैं होऊं अर्धांगिनी तुम्हारी इस 
 लायक मुझे बना दो,
सर्वस्व समर्पण कर दूं तुम्हें, इतना गंगा सा पवित्र मुझे प्रवाह दो।

मेरे जीवन में ईश्वर नाम का एक दीपक जला दो, मुझे अपनी भक्ति में एक छोटा सा परमात्मा समर्पित पुष्प  अब बना लो,
अन्तिम सांसों का  अपने सहारे बस ईश्वर से प्रिय बंधवा दो।

उम्र बीत गई जगत का ध्यान करते करते,
समय निकल गया सारे काम करते करते,
मेरी आख़िरी सांसो में बस भगवत स्मरण ,मेरे प्रिय करा दो मुझे।
Satyprabha....... 🌸🍃जय श्री हरी 🍃🌸

बंधन अब इस जन्म में अब हर जन्म का बांध लो,
जैसे कविता में स्थान दिया जीवन में प्रिय जगह दो।

ये झूठे मोह के बंधन तोड़ दो , आत्मा से मेरा नेह जोड़ लो,
मेरा प्रेम समर्पण स्वीकार कर इस अंतरात्मा को मंदिर बना दो।

तुम मेरे अर्धांग हो ,मैं होऊं अर्धांगिनी तुम्हारी इस
लायक मुझे बना दो,

144 Love

""

"बंधन Bandhan woh nahi jisme kisi ko baandha jae..... bandhan main toh apne aap bandhne lag jaate hai.... jab ek dusre ke hone lag jaate hai..."

बंधन Bandhan woh nahi jisme kisi ko baandha jae.....
bandhan main toh apne aap bandhne lag jaate hai....
jab ek dusre ke hone lag jaate hai...

 

137 Love

""

"बंधन ये दिल, ये धड़कन को मशवरे रहने दो इन्हे तो किसी भी बंधन से परे रहने दो सुना है एक खौफ है फिजा में आजकल ज़रा कमज़ोर हैं लोग इन्हें डरे रहने दो अभी फुरसत नही किसी को धोखा देने से देशप्रेम के ख्यालों को अभी धरे रहने दो वो मोहब्बत को जिस्मों की जरूरत समझते हैं कोई बात नहीं ज़हन को यूही गिरे रहने दो उंगलियां उठाने में सब को महारत हासिल है औरों की बुराई में सब को घिरे रहने दो आमिल"

बंधन ये दिल, ये धड़कन को मशवरे रहने दो 
इन्हे तो किसी भी बंधन से परे रहने दो

सुना है एक खौफ है फिजा में आजकल
ज़रा कमज़ोर हैं लोग इन्हें डरे रहने दो

अभी फुरसत नही किसी को धोखा देने से
देशप्रेम के ख्यालों को अभी धरे रहने दो

वो मोहब्बत को जिस्मों की जरूरत समझते हैं
कोई बात नहीं ज़हन को यूही गिरे रहने दो

 उंगलियां  उठाने में सब को महारत हासिल है 
औरों की बुराई में सब को घिरे रहने दो 

आमिल

Ye dil ,ye dhadkan ko mashware rehne do
Inhe to kisi bhi bandhan se parre rehne do

Suna hai ek khouff hai fizaa mai aajkal
Zaraa kamzor hain log inhe darre rehne do

Abhi fursat nhi hai kisi ko dhokha dene se
Deshprem ke khayaalo ko abhi dharre rehne do

125 Love
1 Share