परस्पर मिलें जहाँ आचार-विचार दिलों में बसे बस प्र | हिंदी विचार

"परस्पर मिलें जहाँ आचार-विचार दिलों में बसे बस प्रेम-सौहार्द हो जहाँ खुले और स्वतंत्र विचार पनपे वहीं सुखद-समृद्ध परिवार"

परस्पर मिलें जहाँ आचार-विचार
दिलों में  बसे बस प्रेम-सौहार्द
हो जहाँ  खुले और स्वतंत्र विचार
पनपे वहीं सुखद-समृद्ध परिवार

परस्पर मिलें जहाँ आचार-विचार दिलों में बसे बस प्रेम-सौहार्द हो जहाँ खुले और स्वतंत्र विचार पनपे वहीं सुखद-समृद्ध परिवार

#parivaar #Nojoto #Nojotohindi #kalakaksh #kavishala #TST #Poetry #Quotes
#Family #Love #Life #happyfamily #2liner #hindinama #kiranbala

People who shared love close

More like this