Indeevar Joshi

Indeevar Joshi Lives in Gurugram, Haryana, India

Learning about Nojoto

  • Latest Stories

"विचारशील व्यक्ति को हर जगह सम्मान मिलता है। - सोफोक्लेस"

विचारशील व्यक्ति को हर जगह 
सम्मान मिलता है।

- सोफोक्लेस

विचारशील व्यक्ति को हर जगह
सम्मान मिलता है।

- सोफोक्लेस

310 Love
1 Share

"रूबरू होने की तो छोड़िये, गुफ़्तगू से भी क़तराने लगे हैं, ग़ुरूर ओढ़े हैं रिश्ते, अपनी फितरत पर इतराने लगे हैं…! #gif"

रूबरू होने की तो छोड़िये, 
गुफ़्तगू से भी क़तराने लगे हैं,
ग़ुरूर ओढ़े हैं रिश्ते, 
अपनी फितरत पर इतराने लगे हैं…! #gif

रूबरू होने की तो छोड़िये, गुफ़्तगू से भी क़तराने लगे हैं,
ग़ुरूर ओढ़े हैं रिश्ते, अपनी फितरत पर इतराने लगे हैं…!

294 Love
6 Share

"किसी से सिर्फ उतना ही दूर होना, जिससे कि उसे आपकी अहमियत का एहसास हो जाए. किन्तु इतना भी दूर मत होना कि वो आपके बिना जीना ही सीख ले।"

किसी से सिर्फ उतना ही दूर होना, 
जिससे कि उसे आपकी अहमियत
 का एहसास हो जाए. 
किन्तु इतना भी दूर मत होना 
कि वो आपके बिना जीना ही सीख ले।

किसी से सिर्फ उतना ही दूर होना, जिससे कि उसे आपकी अहमियत का एहसास हो जाए. किन्तु इतना भी दूर मत होना कि वो आपके बिना जीना ही सीख ले।

231 Love
2 Share

"तुम विजेता हो, जीतने की आदत बना डालो, अपनी कमजोरियों को ही अपनी ताकत बना डालो, यह काम है मुश्किल, कहते हैं हारनेवाले, तुम हर मुश्किल को आंसा और मुमकिन बना डालो, बहाने हैं बहुत, हारनेवालों की किस्मत में, तुम हर बहाने को ही निशाना बना डालो. हारने वाले करेंगे, काम कल-परसों, तुम्हें जो भी करना है, बस आज कर डालो, हारना या जीतना, फर्क बस एक नजरिया का, उन्हें खाली की चिंता है, तुम भर कर दिखा डालो, तुम विजेता हो, जीतने की आदत बना डालो."

तुम विजेता हो, जीतने की आदत बना डालो,
अपनी कमजोरियों को ही अपनी ताकत बना डालो,
यह काम है मुश्किल, कहते हैं हारनेवाले,
तुम हर मुश्किल को आंसा और मुमकिन बना डालो,
बहाने हैं बहुत, हारनेवालों की किस्मत में,
तुम हर बहाने को ही निशाना बना डालो.
हारने वाले करेंगे, काम कल-परसों,
तुम्हें जो भी करना है, बस आज कर डालो,
हारना या जीतना, फर्क बस एक नजरिया का,
उन्हें खाली की चिंता है, तुम भर कर दिखा डालो,
तुम विजेता हो, जीतने की आदत बना डालो.

तुम विजेता हो, जीतने की आदत बना डालो,
अपनी कमजोरियों को ही अपनी ताकत बना डालो,

यह काम है मुश्किल, कहते हैं हारनेवाले,

तुम हर मुश्किल को आंसा और मुमकिन बना डालो,

बहाने हैं बहुत, हारनेवालों की किस्मत में,

184 Love

"मुँह छुपाना था तुम्हें पहले ही रोज़ अब किया पर्दा तो क्या पर्दा किया"

मुँह छुपाना था तुम्हें पहले ही रोज़
अब किया पर्दा तो क्या पर्दा किया

मुँह छुपाना था तुम्हें पहले ही रोज़
अब किया पर्दा तो क्या पर्दा किया

183 Love