Nojoto: Largest Storytelling Platform
kumarbk9888
  • 499Stories
  • 89Followers
  • 6.5KLove
    2.0LacViews

Kumar Bk

  • Popular
  • Latest
  • Video
48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White यदा यदा हि धर्मस्य ग्लानिर्भवति भारत:। अभ्युत्थानमधर्मस्य तदात्मानं सृजाम्यहम्॥ अर्थ: हे भारत (अर्जुन), जब-जब धर्म की ग्लानि-हानि यानी उसका क्षय होता है और अधर्म में वृद्धि होती है, तब-तब मैं श्रीकृष्ण धर्म के अभ्युत्थान के लिए स्वयं की रचना करता हूं अर्थात अवतार लेता हूं।
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White श्रीकृष्ण का जीवन रिश्तों के मायाजाल और मोह-माया के बंधनों से दूर रहने का संदेश देता है। कंस हो या कौरव-पांडव, दोनों से ही श्रीकृष्ण के निकट के संबंध थे, लेकिन उन्होंने धर्म की रक्षा के लिए रिश्तों के बजाय कर्तव्य को महत्व दिया।
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  #guru_purnima  Happy Guru Purnima

#guru_purnima Happy Guru Purnima #wishes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White आप नारा इति परक्तः संज्ञा नाम कृतं मया। तेन नारायणॊ ऽसम्य उक्तॊ मम तद् ध्यानं सदा।। प्राचीन काल में मैंने जल को नर नाम से पुकारा था; और चूँकि जल हमेशा से मेरा अयन या घर रहा है, इसलिए मुझे नारायण (जल-निवास) कहा गया है। हे पुनर्जन्म लेने वालों में श्रेष्ठ, मैं नारायण हूँ, सभी चीज़ों का स्रोत, शाश्वत, अपरिवर्तनीय।
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White 
“ एक व्यक्ति अपने मन के प्रयासों से ऊपर उठ सकता है; वह अपने मन से स्वयं को नीचा भी दिखा सकता है । क्योंकि मन स्वयं का मित्र और शत्रु है।'' "वह बुद्धिमान व्यक्ति है जो कुछ नहीं चाहता, कुछ अपेक्षा नहीं करता, और इसलिए कभी असफल नहीं होता।"
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White गीता में उल्लेख मिलता है कि श्री कृष्ण के अनुसार मानव जीवन का आधार है प्रेम। जिस किसी के जीवन में प्रेम है केवल वहीं व्यक्ति जीवन में शांति पा सकता है क्योंकि शांति प्रेम में ही निहित है। ऐसा कहा जाता है कि अगर जीवन में प्रेम नहीं हो तो वो व्यक्ति चाहे सब कुछ पा भी ले परंतु बावजूद इसके वह व्यक्ति संतुष्टि नहीं मिलती।
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White मैं सभी प्राणियों के लिए एक समान हूं, और मेरा प्रेम सदैव एक समान है; परन्तु जो भक्ति से मेरी आराधना करते हैं, वे मुझ में हैं और मैं उन में हूं। क्योंकि यदि बुराई करने वाला भी अपने सारे प्राण से मेरी आराधना करे, तो अपनी धर्मी इच्छा के कारण वह धर्मी गिना जाएगा। इस प्रकार के श्लोक गीता के मध्य अध्यायों में गूंजते हैं।
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

48de1a66532e03fa0490051954ecb3b9

Kumar Bk

White "लेकिन मैं जितने भी नाम बता सकता हूँ, उनमें से प्रेम ही सर्वोच्च है। प्रेम और भक्ति जो व्यक्ति को बाकी सब कुछ भूला देती है, प्रेम जो प्रेमी को मुझसे मिला देता है।"
Sahi Baat Hai

©Kumar Bk
  Sahi Baat Hai

Sahi Baat Hai #Quotes

loader
Home
Explore
Events
Notification
Profile