Akira Arsh

Akira Arsh Lives in Vidisha, Madhya Pradesh, India

अगर मगर और काश में हूँ मैं खुद अपनी तलाश में हूँ

  • Popular
  • Latest
  • Repost
  • Video

#horror
#mantu
#storytelling
#horror_Stories
Writer - Arsh
#ctk -Funny 0r Die indira Kumar

198 Love
7.2K Views
1 Share

""

"मैं कहने ही वाला था, पर वो शायद पहले ही समझ गई । मैं तो खामोश ही रहा , पर ना जाने क्यों वो सहम गई। नापसन्द था मैं,या खौफ था किसी और का दिल में जैसे कुछ छुपा , नजरों से इंकार जता के चली गई । मैं कुछ बोलता उससे पहले ही, वो अनसुना करके वहाँ से निकल गई ।"

मैं कहने ही वाला था, पर वो शायद पहले ही समझ गई ।
मैं तो खामोश ही रहा  ,
पर ना जाने क्यों वो सहम गई। 
नापसन्द था मैं,या खौफ था किसी और का 
दिल में जैसे कुछ छुपा , 
नजरों से इंकार जता के चली गई ।
मैं कुछ बोलता उससे पहले ही, 
वो अनसुना करके वहाँ से निकल गई ।

#Adhuri_baat @Aman preet Singh ,Rajni @Sircastic Saurabh @kunwar Surendra dill_da_nai_mada143❤

196 Love

""

"मेरे फ़ोन की रिंगटोन अब बदलकर "पहला नशा पहला खुमार" हो गयी थी "हम तेरे बिन अब रह नहीं सकते" ये मेरे दिल की आवाज हो गयी थी। "तेरे बिना गुजारा, ऐ दिल है मुश्किल" सी बात हो गयी थी । "बेख्याली में भी तेरा ही ख्याल आए" की तरह वो मेरी नींदों का ख्वाब हो गई थी। पर मेरे दोस्त से उसकी पहले ही "आँखें चार" हो गयी थी । "हर एक friend कमीना होता है "ये बोल मेरी उससे fight हो गयी थी। और मेरी दास्तान अब "हमारी अधूरी कहानी" हो गयी थी ।"

मेरे फ़ोन की रिंगटोन अब बदलकर "पहला नशा पहला खुमार" हो गयी थी  "हम तेरे बिन अब रह नहीं सकते" ये मेरे दिल की आवाज हो गयी थी।
"तेरे बिना गुजारा, ऐ दिल है मुश्किल" सी बात हो गयी थी ।
"बेख्याली में भी तेरा ही ख्याल आए" की तरह वो मेरी नींदों का ख्वाब हो गई थी। 
पर मेरे दोस्त से उसकी पहले ही "आँखें चार" हो गयी थी ।
"हर एक friend कमीना होता है "ये बोल मेरी उससे  fight हो गयी थी। 
और मेरी दास्तान अब "हमारी अधूरी कहानी" हो गयी थी ।

#pehla_pyaar
#poem#nojotohindi
#SAD#Comedy#Shayari

190 Love
1 Share

#Rap
#myvoice
#womenpower
#Rap_Songs
#audio
#NojotoFilms

184 Love
4.3K Views
4 Share

""

"बहुत दिनों बाद मैंने अपनी डायरी और कलम उठायी लिखने को, लेकिन अचानक से जो मैनें कलम को पकड़ा वो मेरी नब्ज़ भांप गई मेरे दिल का जैसे हर दर्द जान गई मेरे जज़्बातो को ज़ाहिर कुछ उसने यूँ किया, मैने लिखा 'खुशी' वो 'खुदखुशी' लिख गई जहाँ मैने लिखा 'रोशनी' वहाँ 'काली स्याही' फेल गई जो मैने लिखा 'जिंदगी' वो वहीं टूट गई ....!! कलम भी आज कागज से रुठ गई फिर पूरी करनी भी चाहि मैने दास्तान-ए-जिंदगी पर डायरी न जाने मेरी कहाँ खो गई मेरी कहानी अधूरी ही छूट गई....!!"

बहुत दिनों बाद मैंने अपनी डायरी और कलम उठायी लिखने को, लेकिन अचानक से जो मैनें कलम को पकड़ा वो मेरी नब्ज़ भांप गई
मेरे दिल का जैसे हर दर्द जान गई
मेरे जज़्बातो को ज़ाहिर कुछ उसने यूँ किया, 
मैने लिखा 'खुशी' वो 'खुदखुशी' लिख गई 
जहाँ मैने लिखा 'रोशनी' वहाँ 'काली स्याही' फेल गई
जो मैने लिखा 'जिंदगी' वो वहीं टूट गई  ....!!
कलम भी आज कागज से रुठ गई
फिर पूरी करनी भी चाहि मैने दास्तान-ए-जिंदगी 
पर डायरी न जाने मेरी कहाँ खो गई
मेरी कहानी अधूरी ही छूट गई....!!

#Diary_aur_kalam
#Shayari
#nojotohindi

184 Love
2 Share