Ek villain

Ek villain

Zindagi ke saath bhi Zindagi Ke Baad bhi☠☠☠☠☠☠☠☠☠☠🎎🎎🎎🎎🎎🎎🎎🎎🎎 https://www.instagram.com/i_am_sonurawat/ follow kar lo sab https://nojoto.com/profile/7b66abe8aad18a87d4e236b203e4c14f/ek-villain

https://m.youtube.com/watch?v=wxWIMMYXn24

  • Latest
  • Popular
  • Video

भारत की नीति सदैव ही बड़ी दो वैश्विक शक्तियों के इधर तटस्थ रहने की रही है दूसरे देशों में संबंध रखने के लिए एक प्रभावी प्रोटोकॉल बनाया पंचशील वैसे तो 3 से संबंधित निधि थी पर बाद में इसको अनेक देशों ने अपनाया वासुदेव कुटुंबकम भारत का सूत्र वाक्य है स्वतंत्रता के 75 साल के साथ देश में ईस्ट इंडिया फास्ट की विदेशी नीति के व्यक्त करने का वृद्ध आत्मविश्वास और आशीर्वाद मौजूद है भारत अपने लिए स्वयं निर्णय लेता है और अपनी स्वतंत्र विदेश नीति को किसी भी आ दोहन या दबाव के अधीन नहीं कर सकता वह अमेरिका के मना करने भी रूस के विमान और इंधन खरीदना है अमेरिका द्वारा रूस के विरुद्ध पेश किए गए प्रस्ताव पर भारत तटस्थ रहने का सहायक लाता है ©Ek villain

#भारत #Dark  भारत की नीति सदैव ही बड़ी दो वैश्विक शक्तियों के इधर तटस्थ रहने की रही है दूसरे देशों में संबंध रखने के लिए एक प्रभावी प्रोटोकॉल बनाया पंचशील वैसे तो 3 से संबंधित निधि थी पर बाद में इसको अनेक देशों ने अपनाया वासुदेव कुटुंबकम भारत का सूत्र वाक्य है स्वतंत्रता के 75 साल के साथ देश में ईस्ट इंडिया फास्ट की विदेशी नीति के व्यक्त करने का वृद्ध आत्मविश्वास और आशीर्वाद मौजूद है भारत अपने लिए स्वयं निर्णय लेता है और अपनी स्वतंत्र विदेश नीति को किसी भी आ दोहन या दबाव के अधीन नहीं कर सकता वह अमेरिका के मना करने भी रूस के विमान और इंधन खरीदना है अमेरिका द्वारा रूस के विरुद्ध पेश किए गए प्रस्ताव पर भारत तटस्थ रहने का सहायक लाता है

©Ek villain

#Dark #भारत की सफल विदेश नीति इससे बेहतर बनाती है

9 Love

नोटबंदी के 6 साल बाद सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्य बड़ी पीठ की ओर से सुनवाई किसी भी तर्क की कसौटी पर खरी नहीं उतरी एक ही तर्क समझ में आता है कि सुप्रीम कोर्ट सरकार के कार्य में हस्तक्षेप कर रहा है यह अकेला उदाहरण नहीं है तीन कृषि कानून मुख्य चुनाव आयुक्त की नियुक्ति और बहुत से मामले में सुप्रीम कोर्ट हस्तक्षेप कर चुका है सुप्रीम कोर्ट अत्यंत ही महत्वपूर्ण मामलों को डालकर इस अनावश्यक मामले की सुनवाई कर रहा है यदि सुनवाई करनी ही थी तो बहुत पहले करनी थी अब गड़े मुर्दे उखाड़ने से कोई लाभ नहीं होने वाला ©Ek villain

#नोटबंदी #Dark  नोटबंदी के 6 साल बाद सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्य बड़ी पीठ की ओर से सुनवाई किसी भी तर्क की कसौटी पर खरी नहीं उतरी एक ही तर्क समझ में आता है कि सुप्रीम कोर्ट सरकार के कार्य में हस्तक्षेप कर रहा है यह अकेला उदाहरण नहीं है तीन कृषि कानून मुख्य चुनाव आयुक्त की नियुक्ति और बहुत से मामले में सुप्रीम कोर्ट हस्तक्षेप कर चुका है सुप्रीम कोर्ट अत्यंत ही महत्वपूर्ण मामलों को डालकर इस अनावश्यक मामले की सुनवाई कर रहा है यदि सुनवाई करनी ही थी तो बहुत पहले करनी थी अब गड़े मुर्दे उखाड़ने से कोई लाभ नहीं होने वाला

©Ek villain

#Dark #नोटबंदी पर अभी सुनवाई अनावश्यक

9 Love

खुद का आंकलन सिर्फ अपने बनाए हुए मानदंडों के अनुसार करना होगा ना कि अन्य लोगों के अनुसार किसी की सफलता से पीछे करने की वजह उसका उपयोग स्वयं को पारित करने में करना श्री से कार्य अपने प्रयासों की सहारा ना करें तभी हम अपने आत्मविश्वास को सशक्त कर लक्ष्य की ओर बढ़ते हुए जाएंगे दूसरों से तुलना करने से बचने में ही भलाई है ©Ek villain

#किसी #Dark  खुद का आंकलन सिर्फ अपने बनाए हुए मानदंडों के अनुसार करना होगा ना कि अन्य लोगों के अनुसार किसी की सफलता से पीछे करने की वजह उसका उपयोग स्वयं को पारित करने में करना श्री से कार्य अपने प्रयासों की सहारा ना करें तभी हम अपने आत्मविश्वास को सशक्त कर लक्ष्य की ओर बढ़ते हुए जाएंगे दूसरों से तुलना करने से बचने में ही भलाई है

©Ek villain

#Dark #किसी की सफलता से ईशा करने की वजह उसका उपयोग स्वयं को प्रेरित करने में करें

9 Love

ऐसी तुलना का मूल कारण शक्ति की आकांक्षा में निहित है कैसे मैं दूसरों से ज्यादा शक्तिशाली हो जाऊं हम दूसरों से बड़े हो या बिल्कुल आवश्यक नहीं है आवश्यक तो यह है कि हम स्वयं से छूटे ना हो भरत श्रीराम के सम्मान महान नहीं थे किंतु उनकी महानता यही थी कि वह अपने आप में महान थे अपने जैसे होने में ही आत्म गरिमा है हम दूसरों के गुणों उनकी उपलब्धियों का सम्मान तो सदैव करना चाहेंगे किंतु बने रहने दो सदैव अपने जैसा ही है दूसरों से तुलना करना एक प्रकार से स्वयं को दुख देना ही है हमसे हम अपनी विशेषताओं का भी आनंद नहीं उठा पाते अपने जीवन को अपनी इच्छाओं के अनुरूप बनाने के लिए हमें परिणामों से ऊपर उठना होगा ©Ek villain

#अपने #Dark  ऐसी तुलना का मूल कारण शक्ति की आकांक्षा में निहित है कैसे मैं दूसरों से ज्यादा शक्तिशाली हो जाऊं हम दूसरों से बड़े हो या बिल्कुल आवश्यक नहीं है आवश्यक तो यह है कि हम स्वयं से छूटे ना हो भरत श्रीराम के सम्मान महान नहीं थे किंतु उनकी महानता यही थी कि वह अपने आप में महान थे अपने जैसे होने में ही आत्म गरिमा है हम दूसरों के गुणों उनकी उपलब्धियों का सम्मान तो सदैव करना चाहेंगे किंतु बने रहने दो सदैव अपने जैसा ही है दूसरों से तुलना करना एक प्रकार से स्वयं को दुख देना ही है हमसे हम अपनी विशेषताओं का भी आनंद नहीं उठा पाते अपने जीवन को अपनी इच्छाओं के अनुरूप बनाने के लिए हमें परिणामों से ऊपर उठना होगा

©Ek villain

#Dark #अपने जीवन को अपनी इच्छाओं के अनुरूप बनाने के लिए हमें परिणामों से ऊपर उठना होगा

9 Love

हमारे अधिकांश कष्ट इच्छाओं से जुड़े होते हैं दूसरों के साथ तुलना से जन्म लेती है वास्तव में अपने जीवन की दूसरों से तुलना ही आप प्रसांगिक है जीवन की अधिकांश उलझने का आधार तुलना करने का ही प्रवृत्ति है प्रकृति और पशु पक्षियों में कोई तुलना नहीं होती इस धारा पर केवल हम मनुष्य ही ऐसे हैं जो स्वयं को दूसरों से बोलते रहते हैं इसी कारण छोटा बड़ा व्यक्तित्व करने की कोशिश लगभग हम सभी करते हैं कई लोग स्वयं को बढ़ा नहीं कर पाते तो दूसरों को छोटा करने की कोशिश में लगे रहते हैं कि जब दूसरा छोटा हो जाएगा तो हम उससे बड़े दिखाई देंगे परंतु ऐसे लोग ना स्वयं को बड़ा बना पाते हैं और ना दूसरों को छोटा सिद्ध कर पाते हैं ©Ek villain

#दूसरों #Dark  हमारे अधिकांश कष्ट इच्छाओं से जुड़े होते हैं दूसरों के साथ तुलना से जन्म लेती है वास्तव में अपने जीवन की दूसरों से तुलना ही आप प्रसांगिक है जीवन की अधिकांश उलझने का आधार तुलना करने का ही प्रवृत्ति है प्रकृति और पशु पक्षियों में कोई तुलना नहीं होती इस धारा पर केवल हम मनुष्य ही ऐसे हैं जो स्वयं को दूसरों से बोलते रहते हैं इसी कारण छोटा बड़ा व्यक्तित्व करने की कोशिश लगभग हम सभी करते हैं कई लोग स्वयं को बढ़ा नहीं कर पाते तो दूसरों को छोटा करने की कोशिश में लगे रहते हैं कि जब दूसरा छोटा हो जाएगा तो हम उससे बड़े दिखाई देंगे परंतु ऐसे लोग ना स्वयं को बड़ा बना पाते हैं और ना दूसरों को छोटा सिद्ध कर पाते हैं

©Ek villain

#Dark #दूसरों की तुलना से बचें जीवन अपने आप अच्छा हो जाएगा

8 Love

कांग्रेश के दिशाहीन ताको रेखा अंकित करते हैं इसी दिशाहीन ता से पार्टी की इतनी दुर्दशा हो गई है कि वह देश को दो राज्य की सत्ता तक सिमट कर रह गई है इसमें भी राजस्थान में बिल्कुल पंजाब का घटनाक्रम दोहराया जा रहा है जहां आंतरिक गुड बाजी और खींचातानी से पार्टी का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा था और उसके मुख्यमंत्री से लेकर प्रदेश अध्यक्ष तक चुनाव हार गए थे लगता है कि कांग्रेस ने गलतियों से कोई सबक नहीं लिया और इसका पुनरावृति राजस्थान के राजनीतिक संकट को सुलझाने और आर्थिक आधार पर दिए आरक्षण के मामले में दोहरा रवैया में होती दिख रही है ©Ek villain

#दुविधा #Travel  कांग्रेश के दिशाहीन ताको रेखा अंकित करते हैं इसी दिशाहीन ता से पार्टी की इतनी दुर्दशा हो गई है कि वह देश को दो राज्य की सत्ता तक सिमट कर रह गई है इसमें भी राजस्थान में बिल्कुल पंजाब का घटनाक्रम दोहराया जा रहा है जहां आंतरिक गुड बाजी और खींचातानी से पार्टी का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक रहा था और उसके मुख्यमंत्री से लेकर प्रदेश अध्यक्ष तक चुनाव हार गए थे लगता है कि कांग्रेस ने गलतियों से कोई सबक नहीं लिया और इसका पुनरावृति राजस्थान के राजनीतिक संकट को सुलझाने और आर्थिक आधार पर दिए आरक्षण के मामले में दोहरा रवैया में होती दिख रही है

©Ek villain

#Travel #दुविधा से बाहर निकले कांग्रेस पार्टी

8 Love

Trending Topic