Nojoto: Largest Storytelling Platform
rahulbajpai7612
  • 32Stories
  • 76Followers
  • 131Love
    67Views

Rahul Bajpai

  • Popular
  • Latest
  • Video
7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

ऐ विस्मृत युवा अँधेरों में गुज़रता तेरा बचपन, हवा में मौज नहीं होता।
माँ भारती जकड़ी रहती बेड़ियों में,गर आज़ाद हिंद फौज नही होता। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जन्मतिथि के उपलक्ष में, देश के भटके हुए युवाओं के नाम एक संदेश।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जन्मतिथि के उपलक्ष में, देश के भटके हुए युवाओं के नाम एक संदेश।

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

And the final one

And the final one #कविता

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

testing
7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

एक वक़्त आएगा,
जब तुम लाख इज़हार करोगे अपनी मोहब्बत का, मैं हर बार इनकार कर दूंगा।
तुम खोजोगे बहाने मुझसे मिलने के और मैं हर बार तुम्हे नज़रअंदाज़ कर दूंगा। तुम खूबसूरत हो तो लोग तुम्हे पाना चाहते है,एक दिन आएगा जब लोग मुझसा बनना चाहेंगे।

तुम खूबसूरत हो तो लोग तुम्हे पाना चाहते है,एक दिन आएगा जब लोग मुझसा बनना चाहेंगे। #विचार

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

ये मेरे शहर के लोग भी,न जाने कितने शरीफ़ बनते हैं?
ये कोहरों में सिगरेट पीने वाले, मुझे ही बुरा समझते है। एक सिगरेट ही तो माँगा था🙂

एक सिगरेट ही तो माँगा था🙂 #Quote

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

Ye suraj ki tapis thodi halki ho jaati hai
Jab bhi tumhari yaad aati hai...
Wo aashik sirf raat ka intezaar karte hai..
Jo apni dilruba chaand me dekhte hai...
Maine puri duniya tumse banayi hai...
Mai khubsurat nigaho se badal dekhta hoon...
Barish bhi dheemi ho jaati hai
Jab bhi tumhari yaad aati hai...
7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

Jo mann me aate raha,wo likhta raha♥️♥️

Jo mann me aate raha,wo likhta raha♥️♥️ #poem

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

bina kuch soche likha tha

bina kuch soche likha tha #poem

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

मेरी मोहब्बत?
मेरी हर रोज़ मौत से बात होने लगी है।
न जाने कैसे इतना रहम आया उसे मेरे दर्द पर?
कि वो अब गुज़ारिश,
ख़ुदा से मुझसे मिलने की करने लगी है।
ये बेवफ़ा ज़िन्दगी क्या दिल लगाती मुझसे?
मेरे और मौत की मोहब्बत की ख़बर,
जन्नत से जहन्नुम तक चलने लगी थी।

मेरी मोहब्बत? मेरी हर रोज़ मौत से बात होने लगी है। न जाने कैसे इतना रहम आया उसे मेरे दर्द पर? कि वो अब गुज़ारिश, ख़ुदा से मुझसे मिलने की करने लगी है। ये बेवफ़ा ज़िन्दगी क्या दिल लगाती मुझसे? मेरे और मौत की मोहब्बत की ख़बर, जन्नत से जहन्नुम तक चलने लगी थी।

7dda8b9df8d4ee4e1dc314c0b043cfe0

Rahul Bajpai

मेरी मोहब्बत?
मेरी हर रोज़ मौत से बात होने लगी है।
न जाने कैसे इतना रहम आया उसे मेरे दर्द पर?
कि वो अब गुज़ारिश,
ख़ुदा से मुझसे मिलने की करने लगी है।
ये बेवफ़ा ज़िन्दगी क्या दिल लगाती मुझसे?
मेरे और मौत की मोहब्बत की ख़बर,
जन्नत से जहन्नुम तक चलने लगी थी।

मेरी मोहब्बत? मेरी हर रोज़ मौत से बात होने लगी है। न जाने कैसे इतना रहम आया उसे मेरे दर्द पर? कि वो अब गुज़ारिश, ख़ुदा से मुझसे मिलने की करने लगी है। ये बेवफ़ा ज़िन्दगी क्या दिल लगाती मुझसे? मेरे और मौत की मोहब्बत की ख़बर, जन्नत से जहन्नुम तक चलने लगी थी। #poem

loader
Home
Explore
Events
Notification
Profile