Ajay Kumar

Ajay Kumar

i भाजपा जिला महामंत्री अरवल बिहार। सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास। एक भारत श्रेष्ठ भारत अखंड भारत स्वच्छ भारत। भारत माता की जय वंदे मातरम।

  • Popular
  • Latest
  • Video

""

"माँ का आँचल ममता की छांव में माता कि आंचल में जीवन की संपूर्ण सुख और शांति प्राप्त होते नजर आता है ऐ मां तू ठहर जा जरा तेरे आंचल की छांव में सो जाने दे सो जाने दे जिंदगी की अधूरी कहानी पूरी जीवन की पहचान बनाने दे।"

माँ का आँचल ममता की छांव में माता कि आंचल में जीवन की संपूर्ण सुख और शांति प्राप्त होते नजर आता है ऐ मां तू ठहर जा जरा तेरे आंचल की छांव में सो जाने दे सो जाने दे जिंदगी की अधूरी कहानी पूरी जीवन की पहचान बनाने दे।

#maa

46 Love

""

"अगर मैं रावण होता तो अगर मेरा मन होता तो विश्व में प्रख्यात महापंडित के रूप में जाना जाता काश एक ऐसा रामन का नाम सुनते हैं जो महापंडित होकर भी घृणित काम करके अपने वंश को ही नाश कर डाला ‌।"

अगर मैं रावण होता तो अगर मेरा मन होता तो विश्व में प्रख्यात महापंडित के रूप में जाना जाता काश एक ऐसा रामन का नाम सुनते हैं जो महापंडित होकर भी घृणित काम करके अपने वंश को ही नाश कर डाला ‌।

अगर मेरा मन होता तो दुनिया के इतिहास में महापंडित के रूप में नाम जाना जाता।

46 Love
2 Share

""

"एक बार और उलझना है तुमसे मैं सरकार आखरी बार तुमसे फिर उलझना चाहता हूं ताकि तुम सुलझने में कामयाबी हो सके।"

एक बार और उलझना है तुमसे मैं सरकार आखरी बार तुमसे फिर उलझना चाहता हूं ताकि तुम सुलझने में कामयाबी हो सके।

 

44 Love

""

"हार और जीत जिस व्यक्ति का दिल हमेशा हिम्मत दे आशा और विश्वास के साथ काम करेगा उसे इस दुनिया में कोई नहीं हरा सकता लेकिन जिसके पास हिम्मत नहीं है दिल से हार जाता है दर्ज खो देता है उसकी हार हो जाती है।"

हार और जीत जिस व्यक्ति का दिल हमेशा हिम्मत दे आशा और विश्वास के साथ काम करेगा उसे इस दुनिया में कोई नहीं हरा सकता लेकिन जिसके पास हिम्मत नहीं है दिल से हार जाता है दर्ज खो देता है उसकी हार हो जाती है।

#LoseWin

41 Love
1 Share

""

"भोर का पंछी रात्रि में शिकार करने वाली पक्षी जब बोर होता है तो अकाश में कल ओहल मचाते हुए अपने गंतव्य की ओर घोंसला की ओर शोरगुल मचाते हुए यह पक्षियों आकाश में जाती हुई उनकी आवाज सुनाई देती है हमारे किसान भाई इन्हीं पक्षियों के कोलाहल सुनकर अपने खेत में काम करने के लिए नित्य क्रिया से लिपट कर निकल पड़ते हैं घर से।"

भोर का पंछी रात्रि में शिकार करने वाली पक्षी जब बोर होता है तो अकाश में कल ओहल मचाते हुए अपने गंतव्य की ओर घोंसला की ओर शोरगुल मचाते हुए यह पक्षियों आकाश में जाती हुई उनकी आवाज सुनाई देती है हमारे किसान भाई इन्हीं पक्षियों के कोलाहल सुनकर अपने खेत में काम करने के लिए नित्य क्रिया से लिपट कर निकल पड़ते हैं घर से।

भोर की कहानी।

36 Love