Manas Raj Singh

Manas Raj Singh Lives in Lucknow, Uttar Pradesh, India

Writer and Standup Comedian, Search By the same name on Yt, Fb and insta

Manas Raj Singh (Fb &Yt)

  • Popular Stories
  • Latest Stories

"समय समय की बात जिन बच्चों के लिए माँ- बाप जीना छोड़ देते हैं वही बच्चे बड़े होकर उन्ही माँ-बाप से मुँह मोड़ लेते हैं सफल होने पर श्रेय की चादर खुद ओढ़ लेते हैं असफल होने की वजह माँ-बाप पर थोप देते हैं जैसे हम चप्पल को घर पहुंचने पर बाहर छोड़ देते हैं वैसे ही बच्चे मुकाम पर पहुंचने पर माँ-बाप को उनकी टूटी हुई कमर के सहारे छोड़ देते हैं... -मानस राज सिंह"

समय समय की बात

जिन बच्चों के लिए माँ- बाप जीना छोड़ देते हैं
वही बच्चे बड़े होकर उन्ही माँ-बाप से मुँह मोड़ लेते हैं

सफल होने पर श्रेय की चादर खुद ओढ़ लेते हैं
असफल होने की वजह माँ-बाप पर थोप देते हैं

जैसे हम चप्पल को घर पहुंचने पर बाहर छोड़ देते हैं
वैसे ही बच्चे मुकाम पर पहुंचने पर माँ-बाप को उनकी टूटी हुई कमर के सहारे छोड़ देते हैं...

-मानस राज सिंह

समय समय की बात...

I m sorry To say....
Spend time with ur friend I m not stopping u but not when, when ur parents needs u...
Not more than that much u spend with ur parents...
Friends didn't carried u for 9 months didn't feed u and never gonna feed u ... They may gonna help at some stance but not as selfless as parents did...
I know some of u thinks spending time with ur friend is cool not with ur mumma and paa... Let me tell u one thing
No one is cooler than ur parents, no one knows u more than ur parents...

They may yell on u... But that for ur benefits.

They may not be that modern than ur friends but look inside than .... U will find the real truth....

All I m saying this becoz.... I were also like u some time ago...
But seriously when I start spending time with my AAi or Baba..
Now I get to know what I missed in those previous years ....

Else all up to u.... It's ur life ur decision....

But for atleast few days try that... U will feel better🙏💜💜

Your Manas Raj Singh

143 Love
10 Share

"नफरत इतनी अगर बापू से तो अपने चाकू को नोंक दो जेब में जितने गाँधी रखे ,उनको अग्नि में झोंक दो "

नफरत इतनी अगर बापू से तो अपने चाकू को नोंक दो
जेब में जितने गाँधी रखे  ,उनको अग्नि में झोंक दो

GANDHI isn't a Name It's a ERA"

64 Love

"ज़िन्दगी-मायाजाल ज़िन्दगी है काल, काल अपना जाल बिछाये बैठा मैं हूँ निर्भीक, क्योंकि माया-माल मैं लगाए बैठा काल मुझे डराए, मैं काल को चिढ़ाए बैठा मैं अपनी मौज में, काल नज़रे गड़ाए बैठा ज़िन्दगी बिछेद चक्रव्यूह, मैं उसमे सेंध लगाए बैठा मैं भी अपने हाल पे, माया-माल मेरे पास में ज़िन्दगी के जाल में उसको ही फसाये बैठा -Manas Raj Singh (Rudra🔥)"

ज़िन्दगी-मायाजाल

ज़िन्दगी है काल, काल अपना जाल बिछाये बैठा
मैं हूँ निर्भीक, क्योंकि माया-माल मैं लगाए बैठा

काल मुझे डराए, मैं काल को चिढ़ाए बैठा
मैं अपनी मौज में, काल नज़रे गड़ाए बैठा

ज़िन्दगी बिछेद चक्रव्यूह, मैं उसमे सेंध लगाए बैठा

मैं भी अपने हाल पे, माया-माल मेरे पास में
ज़िन्दगी के जाल में उसको ही फसाये बैठा

-Manas Raj Singh (Rudra🔥)

ज़िन्दगी- मायाजाल
#Life is a #trap

30 Love
1 Share

"So Called #MoDeRn🤞 Bleeding noses, speeding cars Wealthy Bodies, Pooring Hearts Costly Death, No cost Lifes Insecured Girls, Lusty Eyes Sucking blood like leech and gauchs Getting retarded with So called modern thoughts.. -W Manas Raj Singh #NojotoQuote"

So Called #MoDeRn🤞

Bleeding noses, speeding cars 
Wealthy Bodies, Pooring Hearts
Costly Death, No cost Lifes
Insecured Girls, Lusty Eyes
Sucking blood like leech and gauchs
Getting retarded with So called modern thoughts..

-W Manas Raj Singh 
 #NojotoQuote

So Called #Modern😐
So Sad To say This Is Modernization 😐

If this is modernization Than I like to be Ancient...

26 Love

"हसरत-ए-इश्क़ साथ मरने की नहीं साथ जीने की रखती हूँ....... क्या करूँ तुमसे प्यार ही इतना करती हूँ..... समय की हर बंधिश को तोड़ दूंगी..... तुम दिली-ए-इकरार कर के तो देखो... मेरे जीवन का हर लम्हा सौंप दूंगी... .तुम ख़्वाईश-ए-बयाँ कर के तो देखो.... वादा है मेरा तुझे रत्ती भर भी मिटने न दूंगी..... एक बार रूह से रूह को मिलाकर तो देखो..... दुश्मनों को भी इश्क़ का इल्म करा दूंगी... .मुझे दोस्त-ए-हमसफर बना कर तो देखो...💜💜 लेखन- शिवन्या(शिवि) & मानस राज सिंह(रुद्र) #NojotoQuote"

हसरत-ए-इश्क़ साथ मरने की नहीं साथ जीने की रखती हूँ....... 
क्या करूँ तुमसे प्यार ही इतना करती हूँ.....

समय की हर बंधिश को तोड़ दूंगी.....
तुम दिली-ए-इकरार कर के तो देखो...

मेरे जीवन का हर लम्हा सौंप दूंगी...
.तुम ख़्वाईश-ए-बयाँ कर के तो देखो....

वादा है मेरा तुझे रत्ती भर भी मिटने न दूंगी.....
एक बार रूह से रूह को मिलाकर तो देखो.....

दुश्मनों को भी इश्क़ का इल्म करा दूंगी...
.मुझे दोस्त-ए-हमसफर बना कर तो देखो...💜💜

लेखन- शिवन्या(शिवि) & मानस राज सिंह(रुद्र)

 #NojotoQuote

A Gift
Thanks For writing(gift) For and on me
Shivi 💜
Love Love Bebo
your Rudra(Manas Raj Singh)

25 Love